यह तो हम सभी जानते हैं कि प्लांट की सही तरह से केयर करने के लिए उसे धूप व खाद के अलावा पानी देना भी बेहद जरूरी होता है। हालांकि, हर प्लांट की पानी से संबंधित जरूरतें अलग होती हैं। इतना ही नहीं, मौसम बदलने पर उनकी यह जरूरतें भी बदल जाती हैं और अगर प्लांट को जरूरत से ज्यादा पानी दिया जाए तो उसे नुकसान होता है। कई बार ओवरवाटरिंग के चलते उनकी जड़े सड़ने लगती हैं और पौधा मरने लगता है।

अक्सर इस स्थिति में महिलाएं अपने पॉट से प्लांट को हटाकर दूसरा प्लांट वहां पर लगा देती हैं। लेकिन हर बार ऐसा करने की जरूरत नहीं है। अगर आप चाहें तो कुछ आसान स्टेप्स अपनाकर अपने उस मरते हुए प्लांट को एक बार फिर से जीवित कर सकती हैं। बस जरूरत है कि आप इसकी सही तरह से केयर करें और कुछ बातों का ख्याल रखें। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे ही स्टेप्स के बारे में बता रहे हैं, जो ओवरवाटरिंग के कारण खराब हुए प्लांट को एक बार फिर से हेल्दी बनाने में मदद करेंगे-

कुछ दिनों के लिए नो वॉटर पॉलिसी

no more water

अगर आपके प्लांट में पानी अधिक हो गया है तो ऐसे में उसे बचाने का सबसे पहला व जरूरी स्टेप है कि आप कुछ दिनों के लिए नो वॉटर पॉलिसी अपनाएं। इसका अर्थ है कि आप अपने प्लांट्स में कुछ दिनों तक पानी ना दें। आप ऐसा तब तक करें, जब कि प्लांटी की मिट्टी व जड़ें सूख ना जाएं। भले ही इसमें लंबा वक्त बीत जाए, लेकिन आपको अपने प्लांट को लेकर परेशान होने की जरूरत नहीं है। ध्यान रखें कि आप तब भी थोड़ी मात्रा में पानी देती रहेंगी तो इससे समस्या भी और विकट हो जाएगी। (पत्तों से उगाए जा सकते हैं प्लांट)

इसे भी पढ़ें: एपॉक्सी रेजिन से अपनी फेवरेट चीजों को कुछ इस तरह दें नया लुक

छांव में रखें प्लांट्स

air pocket plant

आमतौर पर, जब प्लांट्स में पानी की मात्रा अधिक हो जाती है, तो लोग पानी को सुखाने के लिए उसे सीधे धूप की रोशनी में रख देते हैं। लेकिन वास्तव में ऐसा करना आपके प्लांट के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है। दरअसल, जब प्लांट में पानी की मात्रा अधिक हो जाती हैं तो उसे पानी को उसके ऊपरी छोर तक ले जाने में परेशानी होती है। इसका सीधा सा मतलब यह है कि अगर प्लांट को धूप में छोड़ दिया जाए तो पौधे के उपरी हिस्से की पत्तियां सूख यहां तक कि जल भी सकती हैं। इसलिए, बेहतर होगा कि आप अपने प्लांट्स को कुछ समय के लिए शेडेड एरिया में रखे। जब प्लांट का अतिरिक्त पानी कम हो जाए, तो आप पौधे को वापस धूप में रख सकती हैं।

पॉट में क्रिएट करें एयर पॉकेट

air tight plants

अगर आपका प्लांट ओवर वाटरिंग से खराब हो रहा है तो इसका अर्थ है कि आप कुछ ऐसे उपाय अपनाएं, जिससे जड़ों को सूखने में मदद मिले। अन्यथा अतिरिक्त पानी के कारण जड़ें सड़नी शुरू हो जाएंगी। इसके लिए आप एयर पॉकेट क्रिएट करें। एयर पॉकेट बनाने के लिए पॉट के किनारों को धीरे से टैप करने के लिए अपने हाथ या छोटे फावड़े का प्रयोग करें। आप मिट्टी और जड़ों को लूज करने के लिए इस प्रक्रिया को कई बार इस प्रोसेस को दोहराएं।

इसे भी पढ़ें: प्लास्टिक की कुर्सी अगर टूट जाए, तो उन्हें इस तरह से करें दोबारा फिक्स

Recommended Video

हटाएं सड़ी हुई जड़ें

यूं तो कुछ मात्रा में पानी अधिक हो जाने पर पॉट से प्लांट को बाहर निकालने की आवश्यकता नहीं होती है। लेकिन अगर आपको ऐसा लगता है कि ओवरवाटरिंग का असर जड़ों पर होने लगा है और हो सकता है कि कुछ जड़े सड़ गई हों तो ऐसे में आप सड़ी हुई जड़ें हटाने के लिए आप प्लांट को उल्टा करके बाहर निकालें और अपनी उंगली का इस्तेमाल करते हुए मिट्टी को थोड़ा सा हटाकर जड़ों को चेक करें। स्वस्थ जड़ें सफेद और दृढ़ होती हैं, जबकि सड़ने वाली जड़ें नरम और भूरी या काली दिखती हैं। बेहतर होगा कि स्वस्थ जड़ों को बचाने के लिए, जितना हो सके आप सड़ी हुई जड़ों को प्रूनिंग कैंची का उपयोग करके हटा दें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।