ठंड के मौसम में पौधों की पानी की जरूरत थोड़ी कम हो जाती है, लेकिन वह पूरी तरह से खत्म नहीं होती। इस मौसम में भी पौधों को बढ़ने के लिए पानी की आवश्यकता होती ही है। वास्तव में पानी तो उनके लिए एक लाइफलाइन की तरह काम करता है। अगर पौधों को यह लाइफलाइन ना मिले तो उनके जीवन पर ही संकट पैदा हो जाता है। लंबे वक्त तक पानी की कमी के चलते पौधे सूखकर झड़ जाते हैं। यही कारण है कि हर मौसम में महिलाएं अपने पौधों का पूरा ख्याल रखती हैं और उनकी जरूरत के अनुसार उन्हें पानी देती हैं। लेकिन अगर इस बार विंटर वेकेशन पर आपने कहीं बाहर घूमने का प्लॉन बनाया है तो यकीनन आपके मन में यह ख्याल जरूर आया होगा कि आपकी अनुपस्थिति में आपके पौधों का ख्याल कौन रखेगा और उन्हें पानी कौन देगा।

हो सकता है कि आपने अपने किसी पड़ोसी को ऐसा करने के लिए कहा हो। लेकिन अगर यह संभव नहीं है तो भी आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे तरीके बता रहे हैं, जिन्हें अपनाकर आप घर पर ना होने के बावजूद भी अपने प्यारे पौधों का अच्छी तरह ख्याल रख सकती हैं और पानी की कमी के चलते उन्हें सूखने से बचा सकती हैं-

अपनाएं ड्रिप सिस्टम

drip system

इसके लिए आप एक बोतल को खाली करें और उसमें पानी से भरें। अब अपने प्लांटर के पास खड़े होकर, जल्दी से बोतल को उल्टा कर दें और पौधे के पास की मिट्टी में नीचे डालें। सुनिश्चित करें कि बोतल की गर्दन कम से कम कई इंच भूमिगत है। इससे जब तक आप वापिस लौटेंगी तब तक आपके पौधों में आसानी से नमी बनी रहेगी।

इसे भी पढ़ें: बच्चे को आते हैं बुरे सपने तो इन टिप्स की मदद से करें उसकी मदद

Recommended Video

गीले तौलिए का करें इस्तेमाल

wet towel

ठंड के मौसम में घर से दूर होने पर भी पौधों में नमी के स्तर को बनाए रखने का यह आसान तरीका है। दरअसल, ठंड में पौधों को अधिक पानी की जरूरत नहीं होती और ओवर वाटरिंग भी आपके पौधों को बर्बाद कर सकती है। ऐसे में यह तरीका आपकी अनुपस्थिति में भी उनका अच्छी तरह ख्याल रखेगा। यदि आप एक सप्ताह या उससे अधिक समय से दूर हैं, तो जल निकासी छेद वाले बर्तन के नीचे एक नम तौलिया रखने से भी आपके पौधों को ताजा रखने में मदद मिलेगी।

इसे भी पढ़ें: कई घरेलू समस्याओं के लिए एक समाधान सिलिका जेल

स्ट्रिंग वॉटरिंग सिस्टम

string wattering

अगर आपको पौधे लगाने का काफी शौक है और आपके घर में काफी सारे पौधे हैं तो आप स्ट्रिंग वॉटरिंग सिस्टम को अपना सकती हैं। इस तरीके को अपनाने के लिए आप सबसे पहले एक कंटेनर को पानी से भरें। अब इसे अपने पौधों के साइड में रखें और अब कॉटन स्ट्रिंग लेकर उसे पानी से पौधे की मिट्टी में थोड़ा गहराई में रखें। पौधे और पानी से भरे कंटेनर को जोड़ने वाला तार लगातार पौधे की जड़ों तक पानी ले जाएगा। इससे आपके पौधों को पानी की कमी की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुडी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।