• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

जनरल से लेकर फर्स्ट क्लास एसी तक, जानें भारतीय रेलवे में हैं कितने तरह के डिब्बे

अगर आप भारतीय रेलवे में ट्रैवल करते रहते हैं तो आपको ट्रेन के इन डिब्बों के बारे में जरूर पता होना चाहिए।
author-profile
Next
Article
railway coaches

आप में से लगभग सभी लोगों ने रेल की यात्रा कभी न कभी जरूर की होगी। ट्रेन में यात्रा का अपना ही एक खूबसूरत अनुभव होता है, लंबे रास्ते पर छुक-छुक करती आवाज, सुनने में किसी फिल्मी कहानी की तरह लगती है। यही कारण है कि भारत के लोग भारतीय रेलवे पर सालों से यात्रा करते आए हैं। 

यात्रियों की सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए ट्रेन में तरह-तरह के डिब्बे तैयार किए जाते हैं। ट्रेन के बाहरी दरवजे पर ही आपको कोच और क्लास दोनों ही देखने को मिल जाते हैं, जिनकी मदद से यात्रियों को अपनी सीट खोजने में आसानी होती है। डिब्बे में दी गई सुविधाओं के हिसाब ही से ट्रेन का किराया भी तय होता है, ऐसे में लोग अपने अनुसार अलग-अलग क्लास की बोगियों में यात्रा करते हैं।

आज के आर्टिकल में हम आपको विभिन्न प्रकार के डिब्बों के बारे में बताएंगे, जिनके बारे में जानकर आप ट्रेन की क्लास का अंदाजा लगा लेंगे। तो आइए जानते हैं भारतीय रेलवे में मौजूद ट्रेन के डिब्बों से जुड़ी खास बातों के बारे में।

यू आर या जनरल कोच- 

genral coach in train

जनरल का मतलब सामान्य होता है। इस कोच में यात्रा करने के लिए आप तुरंत जाकर भी टिकट खरीद सकते हैं। इस कोच को छोटी यात्राओं के लिए चुना जा सकता है। बता दें कि इस कोच में यात्रा करने के लिए आपको रिजर्वेशन नहीं करना पड़ता है, यही वजह है कि इस कोच में आपकी सीट तय नहीं होती है। इस कोच में टिकट कराने की खास बात यह भी होती है कि अगर आपकी ट्रेन में ज्यादा भीड़-भाड़ है तो आप वो ट्रेन छोड़कर 24 घंटे के भीतर उस रूट की ट्रेन के जनरल कोच में यात्रा कर सकते हैं।

2 एस सीटर या सी-सी कोच- 

 s seater coach

इस कोच को चेयर कार भी कहा जाता है, पर इस कोच में बैठने के लिए आपको रिजर्वेशन कराना पड़ता है। वैसे तो इसमें कोई खास सुविधा नहीं होती है, मगर यह कोच जनरल के मुकाबले आरामदायक होता है। इस तरह के कोच आपको ज्यादातर जन शताब्दी या इंटरसिटी में देखने को मिलते हैं। 

स्लीपर क्लास- 

sleaper coach

यह कोच लंबी यात्राओं के लिए सबसे किफायती होते हैं। इनमें आप बैठने के साथ-साथ सोते हुए भी यात्रा कर सकते हैं। इस कोच में यात्रा करने के लिए आपको पहले से रिजर्वेशन कराना होता है। कम मध्यम वर्गीय लोग ज्यादातर इसी कोच में में यात्रा करते हैं, यही कारण है कि इस कोच की टिकट जल्दी से भर जाती हैं।

इसी या एग्जीक्यूटिव चेयर कार- 

ac chair car

छोटी और आरामदायक यात्रा करने के लिए आपको एग्जीक्यूटिव कोच में यात्रा करनी चाहिए। इसमें चेयर कार के साथ आपको एसी के कोच मिलते हैं। दिन में सफर करने के लिए इस कोच में यात्रा करना एक अच्छा ऑप्शन है। इस डिब्बे में आपको टू सीटर या थ्री सीटर देखने को मिल जाते हैं, इसके अलावा कुछ ट्रेनों में आपको नाश्ते और डिनर जैसी सुविधाएं भी मिलती हैं।

इसे भी पढ़ें- रेलवे के ये पांच नियम आपके बहुत आ सकते हैं काम

थर्ड एसी या थ्री टायर एसी- 

लंबी रेल यात्राओं के लिए थ्री टायर एसी बेस्ट होती है। इस बर्थ में स्लीपिंग बर्थ होती है और साथ ही आपको फुली एयर कंडीशनर की सुविधा मिलती है। इसमें दोनों साइड मिलाकर 8 सीटें देखने को मिलती हैं। पिछले कुछ समय में थर्ड एसी को पहले की तुलना में और ज्यादा बेहतर बनाने की कोशिश की जा रही है, यही कारण है कि थर्ड एसी में हमें इकोनॉमी स्लीपर क्लास भी देखने को मिलती है। इसके अलावा इसमें आपको बेडिंग भी दी जाती है, जिसका पैसा आपके किराए से ही काट लिया जाता है। 

सेकंड एसी- 

second ac coach

रेलवे में मौजूद सेकंड एसी थर्ड एसी के मुकाबले और ज्यादा बेहतर होता है, इसमें आपकी प्राइवेसी को ध्यान में रखते हुए पर्दे और अलग से रीडिंग लैंप भी दिए जाते हैं। हालांकि कि कोरोना काल के आ जाने से बेडिंग और पर्दे की सुविधाओं को हटा दिया गया है। दोनों साइड को मिलाकर सेकंड क्लास की ट्रेन में आपको 6 सीटें देखने को मिलती हैं। 

इसे भी पढ़ें- ये हैं भारत के 5 सबसे बड़े रेलवे स्टेशन्स, तस्वीरों के साथ जानें खूबियां

फर्स्ट एसी स्लीपर- 

first ac coach

फर्स्ट एसी स्लीपर को रेलवे का सबसे महंगा क्लास माना जाता है। जिसमें भारत के बहुत कम लोग ही यात्रा कर पाते हैं। इस क्लास का किराया कई एयरलाइंस के किराए के बराबर होता है, यही कारण है कि लोग फर्स्ट क्लास एसी की जगह फ्लाइट से ट्रैवल करना ज्यादा पसंद करते हैं, हालांकि फर्स्ट एसी में यात्रा करने का अनुभव भी बेहद खास होता है मगर इस क्लास की टिकट बाकी कोच के मुकाबले महंगी होती है। राजधानी की फर्स्ट एसी में आपको कई लग्जरी सुविधाएं मिलती हैं, जो अन्य श्रेणियों में आपको नहीं मिल पाती हैं। इस कोच में आपकी मदद के लिए सेवक भी दिए जाते हैं, जिन्हें आप जरूरत पड़ने पर बुला भी सकते हैं।

 

लक्जरी ट्रेन-

भारत में कई ट्रेन ऐसी भी हैं जो अपनी आलीशान सुविधाओं के लिए जानी जाती हैं, ऐसे में अगर आप लग्जरी ट्रेन की यात्रा का अनुभव लेना चाहते हैं तो भारतीय रेलवे में आपको यह मौका भी देता है, हालांकि इन रेलगाड़ियों की एक टिकट की कीमत भी लाखों में होती है, जिस वजह से आम जनता ऐसी यात्रा का अनुभव नहीं ले पाती है। 

तो ये थे रेलवे विभाग में मिलने वाले अलग-अलग कोच, जिनमें आपको कभी ना कभी यात्रा जरूर करना चाहिए। अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अगर पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर करें साथ ही ऐसी जानकारियों के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।

image credit- google

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।