केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) ने अभिनेत्री-डांसर सुधा चंद्रा से माफी मांगी है। सुधा चंद्रन ने हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग कर ईटीडी प्रक्रियाओं के प्रति अपनी अवहेलना व्यक्त की थी, जो उनके शरीर के लिए आर्टिफिशियल अटैचमेंट वाले लोगों के लिए एयरपोर्ट पर आयोजित की जाती है।

आपको बता दें सुधा चंद्रन का यह वीडियो ईटी टाइम्स ने ट्विटर पर शेयर किया था, जिसके बाद सीआईएसएफ ने ईटी टाइम्स को जवाब देते हुए, सुधा की शिकायत के बाद, ट्वीट कर उनसे माफी मांगी है, “सुधा चंद्रन को हुई असुविधा के लिए हमें बेहद खेद है। प्रोटोकॉल के अनुसार विशेष परिस्थितियों में ही सुरक्षा जांच के लिए प्रोस्थेटिक्स को हटाए जाने की प्रक्रिया होती है। उन्होंने आगे कहा, “हम जांच करेंगे कि संबंधित महिला कर्मियों ने सुश्री सुधा चंद्रन से प्रोस्थेटिक्स को हटाने का अनुरोध क्यों किया। हम सुश्री सुधा चंद्रन को आश्वस्त करते हैं कि हमारे सभी कर्मियों को प्रोटोकॉल पर फिर से जागरूक किया जाएगा ताकि यात्रा करने वाले यात्रियों को कोई असुविधा न हो।

क्या था मसला?

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Sudhaa Chandran (@sudhaachandran)

गुरुवार को, अभिनेत्री ने इंस्टाग्राम पर अपना एक वीडियो शेयर किया था और एयरपोर्ट के अधिकारियों व्यवहार के बारे में बात की थी। उन्होंने इस वीडियो में बताया था हर बार जब वह यात्रा करती हैं, यहां तक कि अपनी प्रोफेशनल प्रायरटीज के लिए भी, तब-तब अधिकारियों द्वारा उन्हें आर्टिफिशियल अंग हटाने और ईटीडी प्रक्रिया के लिए उन्हें दिखाने के लिए कहा जाता है।

इसे भी पढ़ें :इन बॉलीवुड हसीनाओं ने बेहद कम उम्र में दुनिया को कहा था अलविदा, जानें क्या थी वजह

जबकि उन्होंने कहा कि यह मानवीय रूप से संभव नहीं है और साथ ही बहुत दुखदायी भी है, सुधा ने इस बात पर भी दुख व्यक्त किया कि इस देश की महिलाओं को एक-दूसरे का अपमान नहीं करना चाहिए। उन्होंने आगे पीएम नरेंद्र मोदी से इस प्रक्रिया को बदलने और इसे आसान बनाने की गुहार भी लगाई। सुधा ने कहा यह ठीक उसी तरह होना चाहिए जैसे वरिष्ठ नागरिकों के पास दिखाने के लिए कार्ड होता है।

एक्ट्रेस ने वीडियो के कैप्शन में लिखा, 'पूरी तरह से आहत....हर बार इस ग्रिल से गुजरते हुए बहुत दर्द होता है....आशा है कि मेरा संदेश राज्य और केंद्र सरकार के अधिकारियों तक पहुंचेगा...और जल्द कार्यवाही की उम्मीद..।''

इसे भी पढ़ें :आईटी प्रोफेशनल से ज़ुम्बा क्वीन बनने तक, सुचेता पाल की जर्नी के बारे में जानें

सुधा चंद्रन के साथ 1981 में हुआ था हादसा

who is sudhaa chandran

1981 में, सुधा चंद्रन का दाहिना पैर गैंग्रीन के कारण अलग कर दिया गया थआ। दरअसल वह तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली के पास एक सड़क दुर्घटना की शिकार हुई थीं। बताया जाता है कि वह वह वहां से मद्रास जा रही थीं। इस घटना के दौरान वह केवल 16 वर्ष की थी। इसके बाद सभी बाधाओं के बावजूद, अभिनेत्री सुधा चंद्न ने हार नहीं मानी और अपने अभिनय और नृत्य कौशल के साथ इंडस्ट्री में एक सफल करियर बनाया।

Recommended Video

इस प्रोटोकॉल के बारे में आप क्या सोचना है, हमें जरूर बताएं। अगर यह लेख आपको पसंद आया तो इसे लाइक और शेयर करें। इस तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।

Image Credit : instagram@sudhachandran & twitter@cisf