• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial, 28 Feb 2022, 18:23 IST

वास्तु के अनुसार स्टडी रूम में करवाएं यह कलर, बच्चे का पढ़ाई में लगेगा मन

अगर आप वास्तु शास्त्र के अनुसार स्टडी रूम में कलर करवाती हैं तो इससे आपके बच्चे को बहुत फायदा मिलेगा। 
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial, 28 Feb 2022, 18:23 IST
Next
Article
Study Room colour

आज के समय में घरों में अलग से स्टडी रूम डिजाइन करवाते हैं। घर का एक ऐसा स्पेस जो विशेष रूप से केवल पढ़ाई को ही डेडीकेट किया जाता है। खासतौर से, जिन घरों में छोटे बच्चे होते हैं, वहां पर पैरेंट्स स्टडी रूम को अधिक तवज्जो देते हैं, ताकि बच्चे अच्छी तरह पढ़ाई कर सकें। लेकिन कई बार यह देखने में आता है कि आप अलग से स्टडी रूम तो बनवाते हैं, लेकिन फिर भी बच्चों का वहां पर पढ़ाई में मन नहीं लगता। 

ऐसे में पैरेंट्स को यह समझ ही नहीं आता कि आखिर गड़बड़ कहां हो रही है। दरअसल, स्टडी रूम में सिर्फ अच्छी किताबें रखने से ही यह सुनिश्चित नहीं किया जा सकता है कि बच्चों का पढ़ाई में मन लगेगा ही। बल्कि इसके लिए कुछ वास्तु टिप्स को भी अपनाया जा सकता है। दरअसल, स्टडी रूम की दीवारों पर करवाया गया कलर भी बच्चे के मन में गहरा प्रभाव डालता है। तो चलिए आज इस लेख में वास्तुशास्त्री डॉ. आनंद भारद्वाज कुछ ऐसे ही कलर्स के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें वास्तु के अनुसार स्टडी रूम में करवाया जा सकता है-

स्टडी रूम में करवाएं व्हाइट कलर 

Colour For Study Room

पढ़ाई करना वास्तव में सरस्वती मां की पूजा के समान माना जाता है और उनके कपड़ों का कलर व्हाइट होता है। इसलिए स्टडी रूम या किसी भी पढ़ने के स्थान के लिए व्हाइट कलर का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा माना जाता है। आप भी अपने घर में स्टडी रूम(Study room) में व्हाइट कलर को प्राथमिकता दे सकते हैं। वहीं, अगर आप छोटे बच्चों के लिए कमरा डिजाइन कर रही हैं तो ऐसे में एकरसता को दूर करने के लिए किसी एक दीवार पर अन्य कलर करवाया जा सकता है। हालांकि, यहां यह अवश्य सुनिश्चित करें कि कमरे में बहुत अधिक रंगों का इस्तेमाल ना करें।

दिशा के अनुसार करवाएं कलर

Vastu and Study Room colour

जब आप स्टडी रूम में कलर करवाते हैं तो ऐसे में आप दिशाओं के अनुसार भी कलर करवाया जा सकता है। मसलन, अगर बच्चा पूर्व दिशा में मुख करके बैठता है तो ऐसे में व्हाइट कलर करवाना सबसे अच्छा माना जाता है। वहीं, अगर बच्चा नॉर्थ-ईस्ट दिशा में मुख करके बैठता है तो ऐसे में हल्का पीला कलर भी दीवार पर करवाया जा सकता है। अगर आप रूम की मोनोटॉनी को तोड़ने के लिए रूम में किसी अन्य कलर को करवाने का मन बना रही हैं तो ऐसे में उत्तर की दीवार पर लाइट ब्लू करवा सकती हैं। यह कमरे में जल तत्व को बढ़ाता है। जल तत्व ज्ञान, बुद्धि और विवेक को बढ़ाता है और कैरियर को बूस्ट करने में भी मदद करता है। वहीं, पश्चिम दिशा में अन्य मेटालिक कलर जैसे सिल्वर, गोल्डन या ब्रॉन्ज कलर किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें- जीवन में खुशियां और धन लाभ के लिए इन वास्तु दोषों से रहें दूर

सॉफ्ट बोर्ड के कलर का रखें ध्यान

Study Room

कई बार बच्चों की स्टडी टेबल के सामने सॉफ्ट बोर्ड हैंग किया जाता है, जिसमें बच्चे अपने जरूरी नोट्स व फार्मूले लिखते हैं। लेकिन सॉफ्ट बोर्ड के कलर का भी ख्याल रखना चाहिए। आप दिशा के अनुसार कलर को सलेक्ट करें। मसलन, पूर्व दिशा में सॉफ्ट बोर्ड के कलर को हरा किया जा सकता है, जबकि उत्तर दिशा में टंगे सॉफ्ट बोर्ड के लिए नीला रंग अच्छा माना जाता है।

इसे भी पढ़ें- सुख-समृद्धि के लिए घर से मिटाएं ये 10 वास्तु दोष

फर्श का कलर

स्टडी रूम की दीवारों के साथ-साथ फर्श के कलर को भी ध्यान में रखना चाहिए। स्टडी रूम के फर्श के लिए व्हाइट कलर अच्छा माना जाता है। लेकिन अगर आप व्हाइट कलर नहीं करना चाहते हैं तो ऐसे में ऑफ व्हाइट और आइवरी कलर भी करवाया जा सकता है। हालांकि, इस बात का ध्यान रखें कि फर्श पर ब्लैक और ब्राउन यूज ना करें। दरअसल, यह दोनों कलर उर्जा को अपने अंदर अवशोषित करते हैं और आपके आभामंडल को कमजोर करते हैं। जिससे आप खुद को कमजोर महसूस करते हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit- freepik 

 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।