Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    शादी करने से पहले हर महिला को जरूर जानने चाहिए ये 5 महत्वपूर्ण अधिकार

    शादी करने से पहले महिलाओं को कुछ अधिकार जरूर जानने चाहिए। इस आर्टिकल में हम आपको इसी बारे में बताएंगे। 
    author-profile
    Updated at - 2022-12-06,18:30 IST
    Next
    Article
    law bride should know

    शादी करते समय हम सभी के नाम में कुछ सवाल आते हैं। यह सवाल किसी भी तरह के हो सकते हैं। अगर आप भी जल्द ही शादी करने वाली हैं या आपकी बेटी की शादी होने वाली है तो आपको कुछ बातें जरूर जाननी चाहिए। 

    दरअसल शादी करते वक्त कई बार लड़की वालों के सामने तरह-तरह की शर्तें रखी जाती हैं। इन शर्तों को आप बिना किसी डर के ना कह सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट के वकील विशाल मिश्रा बताते हैं कि शादी करने से पहले और बाद में एक महिला किसी भी गलत बात के खिलाफ बिना झिझक आवाज उठा सकती हैं। 

    चुनने का अधिकार 

    right to choose

    भारत के सविधान का अनुच्छेद 21 "जीवन और व्यक्तिगत स्वतंत्रता का संरक्षण" कहता है कि कानून द्वारा स्थापित प्रक्रिया के अलावा किसी भी व्यक्ति को उसके जीवन या व्यक्तिगत स्वतंत्रता से दूर नहीं किया जा सकता है। एक आम नागरिक के पास जैसे चुनाव करने का मौलिक अधिकार है, ठीक उसी तरह शादी करते वक्त एक लड़की के पास भी चुनाव करने का अधिकार है। कोई भी उसके साथ जोर-जबरदस्ती नहीं कर सकता है। 

    इसे भी पढ़ेंः दहेज के बारे में क्या कहता है भारत का कानून? जानने के लिए पढ़ें

    bride right

    दहेज के खिलाफ उठाएं आवाज 

    1961 में आया दहेज निषेध अधिनियम आपको अधिकार देता है कि आप गलत मांग के खिलाफ आवाज उठा सकें। इस अधिनियम के तहत 2 सेक्शन आते हैं, सेक्शन 3 और 4। सेक्शन 3 के तहत दहेज लेना और देना दोनों अपराध है। वहीं सेक्श 4 कहता है कि दहेज की मांग करने पर 6 महीने से 2 साल तक की सजा हो सकती है।

    प्रॉपर्टी में अधिकार 

    शादी करने के बाद महिला का भी अपने सुसराल पर हक होता है। सुप्रीम कोर्ट के वकील विशाल मिश्रा बताते हैं कि शादी के बाद महिलाओं को पुरुष की जमीन पर 1/3 हिस्सा लेने का हक होता है। 

    घरेलू हिंसा के खिलाफ उठाएं आवाज 

     rights bride know

    किसी भी परिस्थिति में अपनी पत्नी पर हाथ उठाना सही नहीं है। शादी के बाद अगर ऐसा किसी भी महिला के साथ होता है तो डोमेस्टिक वायलेंस एक्ट के तहत प्रताड़ना के खिलाफ अपनी आवाज उठा सकती है। 

    मूलभूत अधिकार 

    इन सभी बातों के अलावा अगर शादी के दौरान या बाद आपके मूलभूत अधिकारों को प्राप्त करने में दिक्कत होती है तो भी महिलाएं आवाज उठा सकती हैं। 

    इसे भी पढ़ेंः हर महिला जानें अपने इन कानूनी अधिकारों के बारे में और इस्तेमाल करें क्योंकि अब समझौता नहीं कर सकते

    तो ये थे कुछ अधिकार जिनके बारे में शादी करने से पहले जरूर जानना चाहिए। आपका इस बारे में क्या कहना है? यह हमें इस आर्टिकल के कमेंट सेक्शन में जरूर बताइएगा। 

    अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

    Photo Credit: Freepik, Unsplash 

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।