अगर आपने कुछ नया लोहे का बर्तन और खासतौर पर कढ़ाई खरीदी है तो उसे इस्तेमाल करने के पहले आप धोते जरूर होंगे। आप यकीनन जब भी बाज़ार से ऐसी कोई चीज़ खरीदकर घर लाते हैं तो वो गंदी बहुत होती है और लोहे के बर्तन में तो जंग भी लगी होती है। ऐसे में कई बार लोग ये गलती कर बैठते हैं कि वो न तो इसे सही तरह से साफ करते हैं और न ही उन्हें ये पता है कि लोहे की कढ़ाई की सीजनिंग कैसे की जा सकती है। 

कई बार कढ़ाई की सही सीजनिंग न हो पाने, उसको अच्छे से साफ न कर पाने के चक्कर में लोहे की कढ़ाई में जब भी खाना बनाया जाता है वो जल जाता है और कढ़ाई जिसे हमने स्वास्थ्य वर्धक फायदों के लिए लिया था वो अपना काम भी नहीं कर पा रही है। ऐसे में क्यों न हम आपको इसकी सीजनिंग से लेकर हाईजीन और मेंटेनेंस के लिए कुछ खास टिप्स बताएं। 

क्या होती है लोहे की कढ़ाई की सीजनिंग?

लोहे की कढ़ाई की सीजनिंग का मतलब है इसपर तेल की एक सुरक्षा परत चढ़ा देना जिससे न तो खाना जले और न ही लोहे की कढ़ाई में पानी के इस्तेमाल से जंग लगे। 

इसे जरूर पढ़ें- लोहे की कढ़ाई में खाना बनाने के हैं ये फायदे, वजन कम करने से लेकर आयरन की कमी तक को करती है दूर

जब आप नई कढ़ाई लेकर आते हैं तो सबसे पहले उसे धोते होंगे, लेकिन अगर आप रेगुलर साबुन से इसे धो देते हैं तो इसकी सीजनिंग सही से नहीं हो पाती। आप इसे लिक्विड सोप से धोकर इसकी सफाई करें। इसके बाद इसकी सीजनिंग होगी। आपको करना ये है कि अपनी पसंद का कोई भी कुकिंग ऑयल लेकर पतली सी लेयर से कढ़ाई को अच्छी तरह से ढक देना है। ध्यान रहे कि आगे और पीछे दोनों जगह आपको तेल लगाना है और कोई भी जगह नहीं छोड़नी है। 

iron kadhai and cleaning

अब इस कढ़ाई को गैस पर रखकर 10 मिनट तक ऐसे ही छोड़ दें। यकीनन लोहा गर्म हो जाएगा और किचन में धुंआ भी भर जाएगा, लेकिन पैनिक न करें आपको बस इस कढ़ाई और तेल को जलाकर इसकी सीजनिंग करनी है। बेहतर होगा कि आप एग्जॉस्ट चला लें और किचन की खिड़कियां खुली रखें। बस अब इस कढ़ाई को ठंडा कर लें और आपका सीजन्ड पैन रेडी है। 

क्या फायदा है इस सीजनिंग का?

सीजनिंग से आपकी लोहे की कढ़ाई जलती नहीं है और इसमें खाना भी चिपकता नहीं है। इसी के साथ, लोहे की कढ़ाई भी लंबे समय तक बिना जंग के रहती है।  

लोहे की कढ़ाई की मेंटेनेंस करते समय रखें इन बातों का ध्यान- 

1. साबुन का इस्तेमाल न करें- 

आपको लोहे की कढ़ाई की सीजनिंग सही रखने और इसे जंग से बचाने के लिए साबुन का इस्तेमाल नहीं करना है। अगर इसमें खाना चिपक नहीं रहा है तो ये सिर्फ पानी से भी आसानी से धोई जा सकती है। आप चाहें तो थोड़ा सा स्क्रब कर लें इसे, लेकिन साबुन कम से कम इस्तेमाल करें जिससे समस्या न हो।  

कढ़ाई को धोने के बाद आप इसे सुखाएं और उसके बाद तेल की पतली लेयर लगाकर रख दें। ये तरीका सबसे अच्छा है आपकी लोहे की कढ़ाई को ठीक रखने के लिए।  

iron kadhai cleaning

इसे जरूर पढ़ें- सही तवा-कढ़ाई है शरीर के लिए बहुत फायदेमंद, रुजुता दिवेकर से जानिए हीमोग्लोबिन बढ़ाने की टिप्स 

2. किस तरह का खाना न बनाएं ? 

लोहे की कढ़ाई में ऐसा खाना नहीं बनाना चाहिए जिससे एसिडिटी होती हो। लोहे की कढ़ाई का फायदा आपको तभी मिलेगा जब इस तरह के एसिडिटी पैदा करने वाला खाना इसमें नहीं बनाया जाएगा। साथ ही खाना बनाने के बाद आप कुछ देर इसे कढ़ाई में ही रहने दें ताकि आयरन कंटेंट इसमें अच्छी तरह से जाए।  

3. हमेशा सुखाकर ही रखें- 

सबसे जरूरी टिप जो लोहे के सभी बर्तनों के लिए महत्वपूर्ण साबित होगी वो ये है कि आप सभी बर्तनों को सुखाकर रखें। आपको इन्हें ऐसे रखना है कि सारा पानी सूख जाए जिससे जंग लगने की समस्या न हो। सबसे अच्छा होगा कि आप इसे किसी कपड़े से पोंछकर किसी हवादार जगह पर रख दें।  

तो अब आप समझ ही गए होंगे कि आपके लोहे के बर्तनों को किस तरह से मेंटेन करना है। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।