मायानगरी यानी मुंबई अपने आप में बहुत ही अलग तरह का एक्सपीरियंस मिलता है। चाहें मुंबई लोकल हो, मुंबई के फैंसी बार हों, मुंबई की बारिश हो, मुंबई का खाना हो या फिर मुंबई के बहुचर्चित रेस्त्रां और फूड स्टॉल हों। यहां की हर गली में कुछ अलग ही कहानी चल रही होती है। जहां तक खाने की बात है तो मुंबई में खाने-पीने के शौकीन बहुत मिल जाएंगे और यही कारण हैं कि यहां फ्यूजन फूड से लेकर देसी और विदेशी खाने तक सब कुछ मिलता है।  

मुंबई की एक और बात खास इसलिए भी है कि यहां पर कई बहुचर्चित चीज़ें हैं जैसे पृथ्वी थिएटर, बैंडस्टैंड आदि। इसी तरह से खाने-पीने के स्टॉल और रेस्त्रां काफी फेमस हैं मुंबई में। मैं मुंबई में कुछ महीने रही हूं और खाने-पीने की शौकीन होने के कारण मुझे ये सब ट्राई करना था। इसी कारण कुछ जगहों पर जाना जरूरी था। पर इनमें से ये 4 जगह मुझे उतनी खास नहीं लगी।  

इसे जरूर पढ़ें- वेगन बनने के लिए इन बातों को रखें दिमाग में 

1. बड़ेमियां, कोलाबा 

बड़ेमियां के रोल काफी फेमस हैं। इसके सामने ही गोकुल रेस्त्रां भी है। ये वेज और नॉन वेज दोनों तरह के खाने के लिए फेमस है। कोलाबा की एक गली में मौजूद ये फूड स्टॉल यकीनन कई लोगों की फूड लिस्ट में शामिल है, लेकिन यहां रोल काफी महंगे हैं और बहुत देर इंतज़ार भी करना पड़ सकता है। इसके बाद जब खाना मिलेगा वो भी इतने बड़े नाम के आगे थोड़ा छोटा है। यहां कुछ लोगों को हाइजीन की दिक्कत भी हो सकती है। खाना खाते समय जगह की कमी भी महसूस हो सकती है। बाकी खाने की क्वालिटी अच्छी है, लेकिन फिर भी जितना इसका नाम है वो थोड़ा ज्यादा लगता है।

mumbai famous food bademiyan  

2. लियोपोल्ड कैफे, कोलाबा

इसे लोग मुंबई टेरर अटैक के कारण और भी ज्यादा जानने लगे हैं। हालांकि, ये कैफे पहले से भी काफी फेमस था। यहां भी वही दिक्कत कई बार वेटिंग रहती है। यहां खाना आम तौर पर महंगा है, दूसरा स्वाद को लेकर बात करें तो मीठा तो अच्छा है, लेकिन मेक्सिकन, चाइनीज जैसी डिश उतनी भी अच्छी नहीं है। इस कैफे के साथ ये बात भी हो सकती है कि यहां अधिकतर विदेशी ही खाना खाते हैं तो शायद इसलिए खाना ऐसा हो, लेकिन एक अच्छे फूडी को यहां पसंद नहीं आएगा। ये मुंबई के सबसे पुराने कैफे में से एक है और इसलिए ये इतना फेमस है। यहां जाएं तो बहुत उम्मीद लेकर न जाएं। मुझे यहां आधे घंटे बाहर खड़े रहने के बाद जगह मिली और खाने का स्वाद उस इंतज़ार को और फीका कर गया। पर हो सकता है कि आपको यहां कोई एक खास डिश पसंद आ जाए। 

mumbai leopold cafe

इसे जरूर पढ़ें- बच्‍चों के लिए अमृतसरी आलू कुलचा घर पर ही बनाएं, जानिए आसान रेसिपी 

3. सरदार पावभाजी, तारदेव

तारदेव रोड मुंबई की बहुत चर्चित जगहों में से एक है और उसी तरह चर्चित है सरदार पावभाजी। यहां पाव और भाजी दोनों में ओरिजनल स्वाद की जगह बटर का स्वाद ज्यादा आएगा। ऊपर से ये इतनी खास भी नहीं है। यकीन मानिए जूहू-चौपाटी में या कहीं लोकल बहुत सी जगहों पर अच्छी पावभाजी मिल सकती है। ऐसे में खास तौर पर सरदार पावभाजी के लिए जाना सही नहीं है।  

mumbai food sardar pao bhaji

4. हाजी अली जूस सेंटर

जूस वैसे ही है जैसे आम जगहों पर होते हैं। पहले फ्रूट क्रीम के कारण इसे पसंद किया जाता था अब सिर्फ शेक और फ्रूट जूस रह गए हैं। भीड़ बहुत मिलेगी। पैसा भी ज्यादा देना होगा तो उससे बेहतर है कि आप इसकी जगह किसी लोकल स्टॉल में जूस पी लें। इतनी मेहनत कर हाजी अली जूस सेंटर जाने की जरूरत नहीं। इसे नाम बड़े और दर्शन छोटे कहते हैं।