सर्दियों के कम होते ही बजार में अच्‍छे और पके हुए आलू आना शुरू हो जाते हैं। वहीं होली का त्‍यौहार नजदीक होने के कारण घरों में तरह-तरह के पकवान बनना शुरू हो जाते हैं। इस मौसम में आलू के पापड़ भी घर-घर बनाए जाते हैं। अमूमन घरों में एक साथ ढेर सारे आलू के पापड़ बना लिए जाते हैं , जो साल भर चलते हैं। 

आलू के पापड़ बाजार में भी खूब बिकते हैं, मगर घर के बने आलू के पापड़ की बात कुछ और ही होती है। आपको बता दें कि आलू के पापड़ घर में बेहद आसानी से बनाए जा सकते हैं। मगर कई लोगों के आलू के पापड़ बहुत अधिक गीले हो जाते हैं तो वहीं कुछ लोगों के आलू के पापड़ सूखने के बाद टूटने लगते हैं। 

ऐसा इसलिए होता है क्‍योंकि आपने आलू के पापड़ बनाने की विधि में कुछ बातों पर ध्‍यान नहीं रखा होता है। आपको बता दें कि आलू के पापड़ बनाने के लिए आपको आलू उबालने से लेकर पापड़ को सुखाने तक की प्रक्रिया में कुछ बातों पर जरूर ध्‍यान देना चाहिए। 

अगर आप चाहती हैं कि आपके आलू के पापड़ अच्‍छे और स्‍वादिष्‍ट बने तो आप इन आसान टिप्‍स को जरूर अपनाएं-  

aloo ke papad

कैसा आलू चुने 

अच्‍छे आलू के पापड़ बनाने के लिए बहुत जरूरी है कि आप सही आलू का चुनाव करें। इस मौसम में बाजार में 2 तरह के आलू आते हैं। एक जो नए होते हैं और एक जो पुराने हो जाते हैं। आपको पुराने आलू का चुनाव करना है, जिनका छिलका चिकना हो चुका हो और छीलने पर आसानी से उतारा जा सके। ऐसे आलू पके हुए होते हैं और इनका पापड़ बहुत ही अच्‍छा बनता है। नए आलू से कभी भी आलू के पापड़ न बनाएं क्‍योंकि यह कच्‍चे होते हैं और इससे पापड़ अच्‍छा नहीं बनता है। 

कैसे आलू को उबालें 

आलू के पापड़ बनाने के लिए जब आप आलू को उबालें तब भी कुछ बातों का ध्‍यान जरूर रखें। सबसे ज्‍यादा जरूरी है कि आप यह जान लें कि आलू को अच्‍छी तरह से उबालना है। आप छिलका सहित आलू को कुकर में डालें और साथ में 1 चम्‍मच नमक भी डाल दें। नमक डालने से आलू फटता नहीं। कुकर की एक सीटी बजने पर ही गैस बंद कर दें क्‍योंकि पुराने आलू जल्‍दी उबल जाते हैं। आलू को ज्‍यादा उबाल कर गीला न करें, इससे पापड़ बनाने में दिक्‍कत आ सकती हैं। आलू अगर फट गया है तो कुछ देर के लिए आलू को सूखने के लिए रख दें। बेस्‍ट होगा कि आप छोटे आकार के आलू का चुनाव करें क्‍योंकि बड़े आकर के आलू को मैश करने में दिक्‍कत आ सकती हैं।  

इसे जरूर पढ़ें: मैदा के पापड़ बनाने की रेसिपी जानिए जिसे भाप में सुखाकर पकाते हैं

aloo ke papad kaise banaye

कैसे मैश करें 

उबले हुए आलू को ठंडा न होने दें और कद्दूकस कर लें। कद्दूकस किए हुए आलू को अच्‍छी तरह से मैश करें। इस बात का ध्‍यान रखें कि आपको मैश किए हुए आलू को वैसे ही गूंथना है जैसे आप रोटी के लिए आटा तैयार करती हैं। अगर आलू आपके हाथ में बिलकुल नहीं चिपकता है तो समझ जाएं कि आपने आलू के पापड़ के लिए सही आलू का चुनाव किया और आपके पापड़ अच्‍छे बनेंगे। 

मिश्रण में क्‍या डालें क्‍या नहीं 

आलू के पापड़ के लिए जो मिश्रण तैयार कर रही हैं, उसमें केवल नमक, कुटी हुई लाल मिर्च और जीरा डालें। इस बात का ध्‍यान रखें कि आपको लाल मिर्च का पाउडर नहीं डालना है क्‍योंकि इससे आपके पापड़ लाल हो जाएंगे और दिखने में अच्‍छे नहीं लगेंगे। वहीं कुछ लोग पापड़ में धनिया की पत्‍ती डाल देते हैं। कुछ दिन बाद जब तक पापड़ सूखने के बाद ताजे होते हैं, तब तक तो धनिया पत्‍ती का स्‍वाद अच्‍छा लगता है, मगर जैसे ही पापड़ पुराने होने लगते हैं, वैसे-वैसे धनिया पत्‍ती में कड़वाहट आ जाती है, जो पापड़ का स्‍वाद बिगाड़ती है।  

इसे जरूर पढ़ें: रेस्टोरेंट में सर्व किए जाने वाले मसाला पापड़ को इस तरह से बनायें घर पर

Recommended Video

कैसे बेलें और सुखाएं 

आलू के पापड़ को बेलन से न बेल कर पहले गोल प्‍लेट से दवाएं और फिर हाथों से गोलाई में बराबर से फैलाएं। इस बात का ध्‍यान रखें कि पापड़ जितनी अच्‍छी तरह से फैलाए जाएंगे, उतने ही पतले और क्रिस्‍पी बनेंगे। इसके साथ ही पापड़ को मोमिया में फैला कर अच्‍छी धूप दिखाएं। पापड़ के सूखने के बाद 3-4 दिन इसे धूप दिखाएं और फिर एयर टाइट डिब्‍बे में भरकर रख दें।  

यह आर्टिकल आपको अच्‍छा लगा हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें और इस तरह के और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image Credit: Freepik, Shutterstock