आज के समय में ऐसी महिलाओं की संख्या तेजी से बढ़ रही है, जो टीचिंग और आईएएस जैसे सपनों से आगे बढ़ते हुए कुछ नया कर दिखाने का सपना देखती हैं। ऐसी ही इंस्पिरेशनल महिला हैं लेफ्टिनेंट शिवांगी, जो आज से नौसेना में शामिल हो गई हैं और देश की पहली महिला नेवी पायलट बन गई है। सब लेफ्टिनेंट शिवांगी ने कोच्चि में अपनी ऑपरेशन ट्रेनिंग पूरी कर ली है और अब वह औपचौरिक तौर पर काम की शुरुआत कर रही हैं। शिवांगी आज से फिक्सड विंग सर्विलांस डोर्नियर विमानों को उड़ाने की शुरुआत करेंगी। अपने सपने को पूरा होते हुए देख शिवांगी काफी उत्साहित हैं। आज भारत गौरव के साथ Indian Navy Day 2019 मना रहा है और इस मौके पर भारतीय महिलाओं की कामयाबी से उत्साह दोगुना हो गया है। 

बचपन से बनना चाहती थीं पायलट 

अपनी इस उपलब्धि पर भारतीय नौसेना की सब लेफ्टिनेंट शिवांगी ने कहा,  'मैं बहुत लंबे समय से इसके लिए कोशिश कर रही थी और आखिरकार मैंने इसे हासिल कर लिया। यह वाकई एक खूबसूरत अहसास है। मैं अपनी ट्रेनिंग के तीसरे चरण को पूरा करने पर एक्साइटेड हूं।

इसे जरूर पढ़ें: युद्ध के दौरान चीता हेलिकॉप्टर उड़ाने वाली अकेली महिला पायलट गुंजन सक्सेना की कहानी

shivangi inspiring women

महिलाओं के लिए बनीं प्रेरणा 

लेफ्टिनेंट शिवांगी का जन्म बिहार के मुजफ्फरपुर शहर में हुआ है। बचपन से ही वह पायलट बनना चाहती थीं। लेफ्टिनेंट शिवांगी बताती हैं, 'मैं जब 10 साल की थी, तब मैं अपने दादा जी के यहां पर थी। उस समय वहां लोगों से मिलने के लिए कोई मंत्री आए हुए थे। मैं अपने दादा जी के साथ गई हुई थी और मैंने वहां एक आदमी को देखा, जो हैलिकॉप्टर उड़ा रहा था। उसे देखकर मैं बहुत इंस्पायर हुई। उसे देखकर मेरा मन हुआ कि मैं भी एक दिन उसी की तरह आसमान में उड़ान भरूं। 

अत्याधुनिक विमान उड़ाएंगी शिवांगी

shivangi first indian navy pilot

उन्हें शुरुआती प्रशिक्षण के बाद पिछले साल उन्हें इंडियन नेवी में शामिल किया गया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक शिवांगी को 4 दिसंबर को नौसेना दिवस पर आयोजित होने वाले समारोह में बैज लगाया जाएगा।

इसे जरूर पढ़ें: Kargil Vijay Diwas: शहीद की बेटी ने बताया सैनिकों के परिवारों की कैसे की जा सकती है मदद 

शिवांगी जिस fixed wing Dornier surveillance plane को उड़ाएंगी, वह कम दूरी के समुद्री मिशन पर भेजा जाता है। यह विमान आधुनिक सर्विलांस, रडार, नेटवर्किंग और इलेक्ट्रॉनिक सेंसर आदि से लैस होता है। गौरतलब है कि शिवांगी को पिछले साल जून में वाइस एडमिरल ए के चावला ने औपचारिक तौर पर नौसेना में शामिल किया था।

नौसेना में सब-लेफ्टिनेंट चुनी गई थीं शिवांगी

shivangi inspirational women

शिवांगी ने डीएवी पब्लिक स्कूल से सीबीएसई 10वीं की परीक्षा साल 2010 में उत्तीर्ण की है, उन्हें 10 सीजीपीए मिले थे। इसके बाद उन्होंने विज्ञान विषय लेकर 12वीं की परीक्षा दी और फिर इंजीनियरिंग में दाखिला लिया। उन्होंने एमटेक में प्रवेश लेने के बाद एसएसबी की परीक्षा दी। इसके जरिए वह नौसेना में सब लेफ्टिनेंट के रूप में चयनित हुईं। ट्रेनिंग के बाद पहली महिला पायलट के लिए उनका चयन किया गया।