• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

आखिर क्यों खास है कश्मीर में स्थित हजरतबल दरगाह, जानिए इससे जुड़े रोचक तथ्य

आपने श्रीनर की कई खूबसूरत जगहों के बारे में सुना होगा, लेकिन आज हम आपको हजरतबल दरगाह से जुड़े रोचक तथ्यों के बारे में जानकारी देंगे।
author-profile
Published -08 Jun 2022, 19:11 ISTUpdated -08 Jun 2022, 19:24 IST
Next
Article
significance of dargah hazratbal

हमारे देश में अलग-अलग आस्‍थाओं को मानने वाले मौजूद हैं। इसलिए लोग अपनी मान्यताओं को पूरा करने के लिए मंदिर, मस्जिद या फिर गुरुद्वारे जाते हैं। लेकिन कुछ लोग दरगाह भी जाना पसंद करते हैं क्योंकि कहा जाता है कि यहां लोग सच्चे दिल से जो भी दुआ मांगते हैं, वो पूरी होती है। कहने के लिए तो यह मुस्लिम धर्म को मानने वालों का तीर्थ स्थल है मगर यहां आपको हर धर्म के लोग माथा टेकटे दिख जाएंगे।

आपको दिल्ली में कई फेमस दरगाह देखने को मिल जाएंगी, लेकिन आपको कश्मीर की हजरतबल दरगाह के बारे में बताएंगे। क्योंकि कहा जाता है कि ये मुस्लिम समुदाय की सबसे खास दरगाह है। इस दरगाह की सबसे खास बात यह है कि यहां सिर्फ मुस्लिम समुदाय के लोग ही नहीं आते, बल्कि हर धर्म के लोग आते हैं। तो चलिए जानते हैं कश्मीर की सबसे प्रसिद्ध हजरतबल दरगाह के बारे में जिसके दरवाजे सभी के लिए खुले हुए हैं।

दरगाह का इतिहास-

hazratbal dargah in hindi

इस दरगाह के इतिहास को लेकर कई सारे मिथक हैं। लेकिन कहा जाता है कि इसका इतिहास काफी पुराना है। क्योंकि मान्यता है कि इस दरगाह में इस्लाम के आखिरी नबी पैगम्बर मोहम्मद का दाढ़ी का बाल रखा हुआ है। मोहम्मद के बाल को सैयद अब्दुल्ला द्वारा कश्मीर लाया गया था, फिर उन्होंने दरगाह पर इस बाल को दफना दिया था। 

लेकिन कई जगह उल्लेख मिलता है कि इसका इतिहास सत्रहवीं सदी से जुड़ा हुआ है। क्योंकि यहां मुगल बादशाह शाहजहां के सूबेदार सादिक खान द्वारा 1623 ईस्वी में इस स्थान पर बगीचे, इमारत और आरामगाह का निर्माण करवाया था।

इसे ज़रूर पढ़ें- इन शहरों में स्थित है देश के सबसे प्रसिद्ध दरगाह, इनके बारे में जानें

आखिर क्यों खास है हजरतबल दरगाह- 

ये दरगाह श्रीनगर शहर में स्थित है, इसका दीदार करने दूर-दूर से लोग आते हैं। क्योंकि ये दरगाह हजरत से जुड़ी हुई है। साथ ही, इस दरगाह की इतनी खूबसूरत है कि कोई भी कश्मीर घूमने आता है तो इस दरगाह में माथा टेके बिना नहीं जाता। इसलिए यहां सभी धर्मों के लोग अपनी मन्नत मांगने आते हैं। बता दें कि हजरतबल को कई और नामों से जाना जाता है जैसे मदिनात-अस-सनी, असर-ए-शरीफ, और दरगाह शरीफ आदि।

कैसी है दरगाह की वास्तुकला- 

Kashmir dargah in hindi

इसकी वास्तुकला बहुत ही खूबसूरत है क्योंकि इसे कश्‍मीरी स्थापत्य शैली और मुगल वास्तुकला की तरह बनाया गया है। इसका निर्माण सफेद संगमरमर से किया गया है। इसके कई दरवाजे हैं जहां से आप अंदर जा सकते हैं। साथ इस दरगाह के आसपास कई खूबसूरत गार्डन भी हैं, जिसका नजारा यकीनन आपको अच्छा लगेगा। (भारत में मौजूद हैं मुगलों की यह खूबसूरत इमारतें)

जानें रोचक तथ्य-

Dargah in hindi

  • अगर आप इस दरगाह की सैर करने जा रहे हैं, तो प्रवेश करने से पहले आपको सिर ढकना होगा।  
  • आपको यहां प्रवेश करने के लिए कोई शुल्क नहीं देना होगा। 
  • अगर आप यहां जा रहे हैं तो अपने साथ कोई पहचान पत्र जरूर रखें।
  • यहां कोई भी स्त्री नहीं जा सकती क्योंकि ये दरगाह के साथ-साथ एक मस्जिद भी है।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Wikipedia) 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।