त्योहार कई रूपों में हमारी खुशी को इजहार करने का एक जरिया होते हैं। इतना ही नहीं, जिस तरह भारत के हर राज्य के अपनी एक ऐतिहासिक और भौगोलिक विशेषता है, ठीक उसी तरह विभिन्न राज्यों में सांस्कृतिक भिन्नता भी देखने को मिलती है। जो वहां पर मनाए जाने वाले त्योहारों से नजर आती है। देश का पंजाब राज्य भी इससे अछूता नहीं है। जहां कुछ त्योहार पूरे देश में मनाए जाते हैं, वहीं कुछ त्योहारों का राज्यीय स्तर पर अपना महत्व होता है। वैसे जब पंजाब में मनाए जाने वाले त्योहारों की बात होती है तो सबसे पहले बैसाखी और लोहड़ी का ही नाम लिया जाता है। यकीनन पंजाब के यह त्योहार विश्व प्रचलित हैं। लेकिन इससे इतर भी वहां पर ऐसे कई त्योहारों को सेलिब्रेट किया जाता है, जिसके बारे में लोगों को कम ही पता होता है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको पंजाब में मनाए जाने वाले ऐसे ही कुछ त्योहारों के बारे में बता रहे हैं-

होला मोहल्ला

inside, knows about punjab festival

पूरे देश में होली मनाने के एक दिन बाद, होला मोहल्ला पंजाब में आनंदपुर साहिब और कीरतपुर साहिब में मनाए जाने वाले त्योहारों में से एक है। इस त्योहार उस दिन का स्मरण करता है, जब गुरु गोविंद सिंह द्वारा खालसा पंथ की स्थापना की गई थी। इस दिन सभी गुरुद्वारों को सजाया जाता है, कीर्तन, पथ और लंगर की व्यवस्था की जाती है। साथ ही पंजाब की मार्शल आर्ट, निहंगों और सांस्कृतिक गतिविधियों द्वारा घुड़सवारी के माध्यम से इस खास त्योहार को मनाया जाता है।

जोर मेला

inside, travel in punjab

गुरु गोविंद सिंह के शहीद बेटों जोरावर सिंह और फतेह सिंह की याद में शहीदी जोर मेले का आयोजन किया जाता हे। यह हर साल दिसंबर में पंजाब के फतेहगढ़ साहिब जिले में गुरुद्वारा फतेहगढ़ साहिब में आयोजित किया जाता है। इसमें लाखों धार्मिक अनुयायी भाग लेते हैं। त्योहार के आकर्षण में सिखों के पवित्र ग्रंथ का पाठ शामिल है, इसके बाद सड़कों पर जुलूस निकलता है।

इसे ज़रूर पढ़ें-राजस्थान के इन पांच त्योहारों की बात है निराली, धूमधाम से लोग करते हैं सेलिब्रेट

तीयां 

inside, travel dairy

पंजाबी में तीज को तीयां कहा जाता है। यह त्योहार महिलाओं के लिए एक विशेष महत्व रखता है। तीज त्योहार मानसून के आगमन का स्वागत करने के लिए मनाया जाने वाला त्योहार है। इस दिन महिलाएं चमकदार और रंगीन कपड़े पहनती हैं, लोक नृत्य करती हैं। साथ ही तीज त्योहार पर वे पेड़ों से बंधे झूलों पर झूलती हैं। तीज पर गाए जाने वाले गीतों से पता चलता है कि महिलाएं अपने साथी के लिए अपने जीवन का बलिदान करने में संकोच नहीं करती हैं और अपने जीवनसाथी की भलाई के लिए नृत्य के बाद प्रार्थना भी करती हैं।

 

Recommended Video

छप्पड़ मेला

inside, punjab

छप्पड़ मेला पंजाब के सबसे लोकप्रिय और शानदार त्योहारों में से एक है। लुधियाना जिले के छप्पड़ गाँव में मनाया जाता है, यह हर साल सितंबर में आयोजित किया जाता है जहाँ लोग गुग्गा पीर के अवतार साँप के भगवान की पूजा करते हैं। लगभग 150 साल पहले शुरू हुआ यह मेला विभिन्न परंपराओं से अलग संगीत और नृत्य से भरा है। इस सांस्कृतिक मेले में हाल के वर्षों में बड़ी संख्या में लोगों की भागीदारी देखी गई है।

इसे ज़रूर पढ़ें-लोहड़ी त्‍योहार के बारे में आप कितना जानती हैं? क्विज खेलें और जानें

टिक्का 

inside, travel destination

इस त्योहार को भाई दूज के रूप में भी जाना जाता है। इसे पंजाब में दिवाली के अगले दिन मनाया जाता है। यह त्योहार भाई और बहनों के प्यार के बंधन को मजबूत करता है। इस अवसर पर बहन भाई के माथे पर टीका लगाती है, उसके लंबे जीवन के लिए प्रार्थना करती है। इसके बाद, उपहार और मिठाई के माध्यम से इस त्योहार को सेलिब्रेट किया जाता है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।