इंडिया में चाय उसी तरह से फेमस है जिस तरह से इंगलैंड ब्रेड। 

हमारे यहां घर में आए हुए मेहमान को सबसे पहले चाय के लिए ही पूछा जाता है। ठंड तो ठंड, गर्मी में भी चाय के लिए ही पूछा जाता है और मेहमान भी पूरा स्वाद लेकर चाय पीते हैं। इस कारण ही ऑफिस में काम करने वाले अधिकतर लोग रात को घर जाकर शाम की चाय खाना खाने के बाद सोने से पहले पीते हैं। वर्किंग महिलाएं ऐसा ही करती हैं। लेकिन क्या सोने से पहले चाय पीना हेल्थ के लिए अच्छा होता है? 

सोने से पहले चाय पीना

ऑफिस से घर जाकर इतनी अधिक थकावट होती है कि कुछ लोगों को सिरदर्द भी करने लगता है। इस सिरदर्द से मुक्ति पाने के लिए ही कुछ लोग अदरक वाली चाय पीते हैं तो कुछ लोग मसाले वाली चाय पीते हैं। 

bed tea before go to sleep inside

चाय के नुकसान

लेकिन मेडिकल में चाय को स्वास्थ्य के लिए हानिकारक बताया गया है। जिनको सुबह-सुबह चाय पीने की आदत है उन्हें दिन में दो-तीन कम से अधिक चाय ना पीने की सलाह दी जाती है। क्योंकि इससे मेटाबॉलिज्म पर असर पड़ता है। डाइटीशियन ऋतु शाह कहती हैं कि दिन में चार कप या इससे अधिक चाय पीने से मेटाबॉलिज्म धीमा हो जाता है जिससे पाचन क्रिया धीमी हो जाती है और खाना जल्दी नहीं पचता है। इससे कब्ज की परेशानी होती है। इसलिए दिन में अधिक चाय नहीं पीना चाहिए। 

रात में चाय

कई लोगों को रात में चाय पीना पसंद होता है तो कई लोग ऑफिस से घर लेट पहुंचने पर शाम की चाय रात को ही पीते हैं। चाय की एक प्याली पूरा मूड फ्रेश कर देती है इसलिए लोग ऑफिस से जाकर रात को जरूर चाय पीते हैं। लेकिन सवाल वहीं जस का तस है, रात को चाय पीना सही है कि नहीं?

डाइटीशियन ऋतु शाह कहती हैं कि अगर आप रात को दूध वाली चाय पीती हैं तो यह आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाता है। दूध की चाय बनाने के लिए चायपत्ती का इस्तेमाल किया जाता है। इस चायपत्ती में कैफीन की मात्रा होती है जिससे नींद ना आने की समस्या हो जाती है। इस कारण ही रात को चाय पीने वाले लोगों को जल्दी नहीं आती है और वे सुबह देर से जगते हैं। इस कारण ही ऑफिस जाने वाली महिलाओं को पेट निकलने व कब्ज की समस्या होती है। 

bed tea before go to sleep inside

पिएं ग्रीन टी

अगर ऑफिस की थकावट उतारने के लिए चाय पीती हैं तो दूध वाली चाय पीने के बजाय ग्रीन टी पिएं। सोने से पहले ग्रीन टी पीने से कुछ नुकसान नहीं होता है। बल्कि कई सारे फायदे ही होते हैं। 

आती है अच्छी नींद

ग्रीन टी पीने से अच्छी नींद आती है। इसलिए जहां दूध वाली चाय पीने से अनिद्रा की समस्या होती है वहीं ग्रीन टी पीने से अच्छी नींद आती है। इसलिए कई विशेषज्ञ भी वर्किंग महिलाओं को थकावट दूर करने के लिए ग्रीन टी पीने की सलाह देते हैं।  

कम होता है मोटापा

रात को ग्रीन टी पीने से मोटापे की समस्या नहीं होती है। डाइटीशियन ऋतु शाह कहती हैं कि ग्रीन टी में जो एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं वह मेटाबॉलिज्म को तेज कर देते हैं जिससे खाना तेजी से पचता है और मोटापे की समस्या नहीं होती है। इससे कब्ज की समस्या भी नहीं होती है। यह हार्मोंस को नियंत्रित करने में बहुत मददगार होता है। 

इसके अलावा रात में एक कप गर्मागर्म ग्रीन टी पीना दिल की बीमारी के खतरे को भी कम करता है। 

इसलिए रात को सोते वक्त दूध वाली चाय पीने के बजाय ग्रीन टी पिएं और अपनी ऑफिस की थकावट को दूर करें।