Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    क्या आप जानती हैं एल्युमिनियम फॉइल में खाना पैक करने का सही तरीका?

    एल्युमिनियम फॉइल से जुड़ी कई चीज़ों के बारे में लोगों को पता नहीं होता पर इसके इस्तेमाल का सही तरीका जानना भी जरूरी है। 
    author-profile
    Updated at - 2022-10-20,13:26 IST
    Next
    Article
    How to Pack Food in aluminum foil

    एल्युमिनियम फॉइल का इस्तेमाल तो शायद हम सभी करते हैं। यकीनन सुबह की जल्दी में गर्म-गर्म खाना पैक करने के लिए एल्यूमीनियम फॉइल काफी जरूरी साबित होता है। पर एल्यूमीनियम फॉइल का इस्तेमाल करते समय उसके नुकसान के बारे में भी अधिकतर लोगों को चिंता होती है। खाना पैक करने का ये तरीका ना सिर्फ किफायती लगता है बल्कि ये खाने को गर्म भी रखता है। एल्यूमीनियम फॉइल को लेकर अधिकतर लोगों की यही चिंता होती है कि इसमें खाना किस तरह से पैक किया जाता है और क्या इसे पैक करने का भी कोई सही तरीका है? 

    एल्युमीनियम फॉइल को लेकर अधिकतर लोगों का मानना है कि ये सेहत के लिए अच्छी नहीं है। तो चलिए आज इसके बारे में विस्तार से बात करते हैं कि आखिर इसे कैसे इस्तेमाल किया जाए और क्या ये सुरक्षित है या नहीं?

    क्यों एल्युमिनियम फॉइल में खाना पैक किया जाता है?

    एल्युमीनियम फॉइल का मेकिंग प्रोसेस कुछ इस तरह का होता है कि उसके अंदर ऑक्सीजन, मॉइश्चर और बैक्टीरिया पहुंच नहीं पाता है। यही कारण है कि इसे फूड पैकेजिंग और फार्मा कंपनियों द्वारा इतना इस्तेमाल किया जाता है। एल्युमिनियम फॉइल को टेट्रा पैक्स और पैकेज्ड फूड्स के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है और यही कारण है कि इसे इतना ज्यादा अच्छा माना जाता है।

    aluminum foil and its uses

    इसे जरूर पढ़ें- क्या आप जानते हैं कैसे बनता है एल्युमीनियम फॉइल, जिसमें इतनी आसानी से रैप कर लेते हैं खाना

    इसके इतना ज्यादा इस्तेमाल होने का कारण ये है कि पैकेज्ड फूड्स के अंदर अगर बैक्टीरिया चला जाए तो ये काफी नुकसानदेह हो सकता है और फिर ये कंटेमिनेशन का कारण बन सकता है और इससे बचने के लिए एल्युमीनियम फॉइल ही सबसे अच्छा और सस्ता तरीका है। 

    क्या वाकई एल्युमिनियम फॉइल सेहत के लिए खराब है?

    एल्युमीनियम फॉइल के इस्तेमाल को लेकर हमेशा ये माना जाता है कि इसके कारण खाने में मेटालिक स्वाद आ सकता है या फिर एल्युमिनियम फॉइल के कारण खाने में एल्युमिनियम के कण आ सकते हैं, लेकिन क्या वाकई ये इतना खतरनाक है कि इसे यूज ही ना किया जाए? 

    aluminum foil making process

    रिसर्च के अनुसार शरीर में एल्युमीनियम की थोड़ी मात्रा होती ही है और अगर एल्युमीनियम को खाने से इन्जेस्ट कर लिया जाए तो ये यूरिन और स्टूल्स के जरिए निकल जाता है। पर अगर आपको एल्युमीनियम से कोई दिक्कत होती है या आपके शरीर में मेटल्स का अनुपात थोड़ा कम या ज्यादा है तो आपको इसके बारे में एक बार डॉक्टर से बात करनी चाहिए। हालांकि, ऐसे लोग बहुत कम होते हैं जिन्हें एल्युमीनियम फॉइल से दिक्कत हो। 

    इसे जरूर पढ़ें- एल्युमीनियम फॉइल कर सकता है कपड़े प्रेस करने में मदद, जानें ऐसे ही 5 काम के हैक्स  

    एल्युमीनियम फॉइल से खाना कैसे पैक करना चाहिए? 

    अब आपने एल्युमीनियम फॉइल को देखा होगा जिसमें एक साइड मैट फिनिश वाला होता है और दूसरा साइड शाइनी होता है। एल्युमिनियम फॉइल जैसे ही आता है तो हम ये मान लेते हैं कि मैट फिनिश वाले साइड को अंदर की ओर रखना चाहिए और शाइनी वाले को बाहर, लेकिन क्या वाकई ऐसा है? देखिए इसका मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस कुछ इस तरह का होता है कि खाने की हीट रिफ्लेक्ट होकर लॉक हो जाए और अगर लाइट इसपर पड़े भी तो वो रिफ्लेक्ट होकर बाहर ही रहे और खाने को अंदर नुकसान ना पहुंचाए।  

    ऐसे में एल्युमीनियम फॉइल के दोनों ही साइड इसी काम के लिए होते हैं और आप खाना किसी भी तरफ से पैक करें वो एक ही काम होगा। एक तरफ मैट फिनिश और दूसरी तरफ शाइनी होने का कारण इसका मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस है। इसे बनाया ही ऐसा जाता है, लेकिन इसका इस्तेमाल आप दोनों ही तरीके से कर सकती हैं।  

    तो कैसी लगी आपको एल्युमीनियम फॉइल से जुड़ी ये जानकारी? अगर अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।