जैसे-जैसे तकनीक में सुधार हुआ, किचन में सुविधाएं भी बेहतर होती गईं। वहीं, घरों में किचन एक ऐसा स्थान है जहां महिलाएं का ज्‍यादा से ज्‍यादा समय बिताती है। इसलिए हमें अपने स्‍वास्‍थ्‍य का ध्‍यान रखते हुए खाने से निकलने वाले धुएं को किचन से बाहर निकालने के लिए चिमनी को इस्तेमाल करना चाहिए। किचन में चिमनी सेफ्टी के लिए लगाई जाती है ताकि खाना बनाते समय आपको धुएं और गंदगी से परेशानी न हो। लेकिन क्‍या आपको पता है कि अगर आप इसकी अच्‍छे से देखभाल नहीं करेंगे तो इसमें आग भी लग सकती है और आप किसी हादसे का शिकार हो सकती हैं। इसलिए चिमनी की साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें। तो आइए हम आपको बताते है चिमनी की सफाई का आसान तरीका।

clean kitchen chimney easily inside

इसे जरूर पढ़ें: मॉड्यूलर किचन के बारे में 9 चीजें आपको जरूर पता होनी चाहिए

  • बैफल फिल्टर वाली चिमनियों को हर दो-तीन हफ्ते में बदलें और साफ करें। चिमनी कई बार गरम पानी और सर्फ के मिश्रण से साफ नहीं हो पाती है ऐसी स्थिति में कॉस्टिक सोडा या सोडियम हाइड्रोऑक्साइड इस्तेमाल करें।
  • भारतीय किचन में सबसे ज्यादा बैफल और मैश फिल्टर वाली चिमनियों का इस्तेमाल होता है। इस तरह की चिमनियों में डबल लेयर्ड फिल्टर लगा होता है, जिसकी सक्शन कपैसिटी काफी ज्यादा होती है। ऐसी चिमनियों को हमेशा गरम पानी और सर्फ से ही साफ करें। इससे इनके बंद छिद्र खुल जाएंगे और यह अच्‍छे से साफ हो जाएगी।
  • अगर आपके पास चारकोल फिल्टर वाली चिमनी है तो उसे हर चार से पांच महीने में जरूर बदलवाएं क्योंकि उन्हें साफ नहीं किया जा सकता।
  • वैसे तो किचन में चिमनी का इस्तेमाल पर यह निर्भर करता है कि उसे कितने दिनों में साफ किया जाए, लेकिन फिर भी कोशिश करें कि इसे कम से कम पद्रंह दिन में एक बार जरूर साफ करें। इसके लिए गर्म पानी में डिटर्जेंट मिलाकर फिल्टर को साफ करें।

how to clean kitchen chimney inside

  • किचन में चिमनी के कुछ फिल्टर ऐसे भी होते हैं जिन्हें धोया नहीं जा सकता, ऐसी चिमनी को कुछ महीने के बाद बदल दें।
  • किसी भी इलेक्ट्रॉनिक मशीन की तरह चिमनी की भी नियमित सर्विसिंग जरूरी होनी चाहिए। कंपनी की ओर से तय मानकों के मुताबिक सर्विसिंग कराएं।

how to clean chimney easily inside

इसे जरूर पढ़ें: क्या आपको चमचमाती किचन पसंद हैं तो ये 6 आसान टिप्‍स आजमाएं

  • जब भी चिमनी की फिटिंग कराएं तो इसे एक्सपर्ट मैकेनिक से ही कराएं। क्‍योंकि तार और प्लग में स्पार्किंग भी चिमनी में आग लगने की वजह हो सकती है।
  • किचन में डक्ट टेप वाली चिमनी लगवाएं। इस तरह की चिमनी में कम देखभाल की जरूरत होती है। साथ ही इसके फिल्टर भी काफी लंबे समय तक चलते हैं।

Photo courtesy- (The Kitchn)