15 अगस्त यानि भारत की आजादी का दिन। साल 1947 में मिली आजादी के बाद हर साल 15 अगस्त को भारत में एक त्योहार की तरह मनाया जाता है। इस दिन जगह-जगह कई सारे कार्यक्रम भी होते हैं। कई लोग स्वतंत्रता दिवस सेलिब्रेट करने के लिए अन्य राज्यों में भी घूमने के लिए निकलते हैं। ऐसे में अगर आप भी 15 अगस्त के शुभ अवसर पर किसी बेहतरीन जगह घूमने का प्लान बना रहे हैं तो उत्तराखंड की वादियों में मौजूद इन वॉर मेमोरियल में घूमने के लिए जा सकते हैं।

यहां आप वॉर मेमोरियल घूमने के साथ-साथ कई बेहतरीन जगहों पर भी घूमने का लुत्फ़ उठा सकते हैं। एक तरह से एक तीर से दो निशान, यानि झंडा रोहण भी देख लेंगे और वादियों में घूमना भी हो जाएगा। वैसे 15 अगस्त को आने में बहुत कम दिन ही बचे हैं, तो आप अभी से प्लान कर लें। आइए जानते हैं उत्तराखंड में मौजूद कुछ फेमस वॉर मेमोरियल के बारे में।

खलांगा वॉर मेमोरियल

famous war memorials in uttarakhand inside

देहरादून शहर से लगभग 5 किलोमीटर की दूरी पर मौजूद खलांगा वॉर मेमोरियल बेहद ही फेमस है। ब्रिटिश और गोरखाओं की बीच हुई लड़ाई में शहीद हुए भारतीय जनावानों की याद में इस स्मारक का निर्माण किया था। यह लगभग 180 साल प्राचीन वॉर मेमोरियल है। इस स्मारक को अंग्रेजों के खिलाफ गोरखा सैनिकों की बहादुरी को याद दिलाता है। कहा जाता है कि लगभग 600 गोरखा सैनिकों ने अंग्रेज फौज को नाकों चने चबवा दिए थे।

  • घूमने का समय- सुबह 10 बजे से लेकर शाम 4 बजे तक 
  • पत्ता- तिब्बानाला पानी-देहरादून-248008

Recommended Video

गब्बर सिंह नेगी मेमोरियल

war memorials in uttarakhand

खलांगा वॉर मेमोरियल घूमने के बाद आप गब्बर सिंह नेगी मेमोरियल घूमने के लिए जा सकते हैं। उत्तराखंड के चंबा में मौजूद यह मेमोरियल पर्यटकों के लिए बेहद ही लोकप्रिय जगह है। यह साल 1925 में भारतीय सैनिक ठाकुर गब्बर सिंह के सम्मान में बनाई गई थी। कहा जाता जाता है कि प्रथम विश्व युद्ध के दौरान सिंह और उनकी बटालियन ने जर्मनी में युद्ध जीता था। आपको बता दें कि हर साल 21 अप्रैल को गढ़वाल रेजिमेंट इस बहादुर योद्धा को श्रद्धांजलि देती है। 15 अगस्त को भी यहां कई कार्यक्रम का आयोजन होता है।

  • घूमने का समय-सुबह 9 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक 
  • पत्ता-चंबा-उत्तराखंड-249145

स्टेट वॉर मेमोरियल/शौर्य स्थल

about famous war memorials in uttarakhand ()

उत्तराखंड में मौजूद शौर्य स्थल उत्तराखंड सैनिकों की वीरता और विजय गाथाओं के लिए प्रसिद्ध हैं। यहां लगभग डेढ़ हजार से भी अधिक वीर शहीदों के नाम दर्शाता स्तंभ स्थापित किया गया है। लगभग चार एकड़ में फैले इस वॉर मेमोरियल में 25 फीट ऊंचा तिरंगा भी मौजूद है। यहां प्रथम विश्व युद्ध से लेकर सेकेंड वर्ल्ड वॉर और कारगिल युद्ध की कई चीजों को संरक्षित करके रखी गई हैं। 15 अगस्त के दिन यहां सबसे अधिक भीड़ देखी जाती है। अन्य राज्यों के लोग भी यहां घूमने के लिए आते हैं।

  • घूमने का समय-सुबह-10 बजे से लेकर शाम 4 बजे तक 
  • पत्ता-त्रिवेणी नगर-देहरादून- उत्तराखंड-248041

यक़ीनन इस लेख को पढ़ने के बाद आप 15 अगस्त के दिन उत्तराखंड में मौजूद इन फेमस वॉर मेमोरियल में घूमने जाना ज़रूर पसंद करेंगे। इन वॉर मेमोरियल में घूमने के साथ-साथ प्राकृतिक का भरपूर आनंद भी उठा सकते हैं। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

 Image Credit:(@dehradun.tourismindia.co.in,euttaranchal.com)