नवरात्रि के व्रत चल रहे हैं। फिलहाल नवरात्रि के व्रत खत्म होने में चार दिन बाकी हैं। इन अंतिम दिनों में भूख काफी लगती है। इस भूख को शांत करने के लिए कुछ महिलाएं कॉफी पीने लगती हैं। क्योंकि भूख अधिक लगने से नींद ज्यादा आती है और काम करने में भी मन नहीं लगता है। इस बोरियत और नींद को आने से रोकने के लिए ही महिलाएं कॉफी पीती हैं। 

लेकिन सवाल यह है कि नवरात्रि के व्रत में कॉफी पीनी चाहिए की नहीं? 

खाली पेट कॉफी

नवरात्र के व्रत में अन्न नहीं खाया जाता है। ऐसे में पूरे दिन पेट खाली रहता है। पेट खाली रहने से ब्लड सर्कुलेशन कम हो जाता है जिसकी वजह से थकावट और नींद आने लगती है। इस नींद को दूर करने के लिए कुछ लोग कॉफी पी लेते हैं। लेकिन खाली पेट कॉफी पीना क्या सही होता है? 

can we drink coffee in navratri inside  freepik

चाय या कॉफी

यह सवाल जब आप कुछ लोगों से पूछेंगे तो सबके अलग-अलग जवाब होंगे। कुछ लोगों का मानना है कि व्रत में चाय-कॉफी कुछ नहीं पिया जा सकता है। जबकि कुछ लोगों का मानना है कि चाय तो पी जा सकती है लेकिन कॉफी नहीं पी जा सकती। वहीं कुछ लोग कॉफी पीने को भी सही मानते हैं। 

व्रत में अन्न नहीं

हर किसी को मालूम है कि नवरात्रि के व्रत में अन्न नहीं खाया जाता है। इसके अलावा नमक, मांसाहार, शराब और लहसुन-प्याज वाली चीजें नहीं खायी जाती हैं। लेकिन चाय-कॉफी को लेकर सबके अलग-अलग मत हैं। इस बार में एक्सपर्ट से ही जानते हैं कि व्रत में कॉफी पीनी चाहिए कि नहीं। 

can we drink coffee in navratri inside

इस बारे में एकस्पर्ट की राय 

इस बारे में हर जिंदगी ने शालीमार स्थित फोर्टिस हॉस्पिटल की डायटिशियन सिमरन सैनी से बात की। सिमरन कहती हैं, "व्रत में चाय या कॉफी पीना सबकी अपनी पसंद है। कुछ लोग कॉफी पीने को सही मानते हैं तो कुछ लोग नहीं। जबकि कुछ लोग व्रत के दौरान इन दोनों चीजों का सेवन करना ही सही नहीं मानते हैं। क्योंकि व्रत के नियमों को लेकर किसी किताब में एक चीज नहीं लिखी है। इसलिए सब अपने-अपने तरीके से व्रत के नियम फॉलो करते हैं।" 

"लेकिन, साइंटिफिकली देखें तो व्रत में कॉफी का सेवन ना करना ही सही रहता है। नवरात्रि के व्रत ऐसे होते हैं जब इंसान केवल फल खाते हैं। अन्न का सेवन नहीं करते हैं। ऐसे में खाली पेट कैफीन लेना हेल्थ को नुकसान पहुंचा सकता है। वैसे तो चाय भी नहीं पीनी चाहिए। लेकिन चाय में कॉफी की तुलना में कैफीन की मात्रा कम होती है। इसलिए अगर आप चाय या कॉफी में से किसी एक विकल्प को चुनना चाहती हैं तो चाय चुनें। वैसे यहां ग्रीन टी भी आप विकल्प में रख सकती हैं। क्योंकि ग्रीन टी नुकसान पहुंचाने की जगह फायदेमंद होती है। इसलिए बेहतर होगा कि चाय या कॉफी की जगह आप ग्रीन टी पिएं।" 

can we drink coffee in navratri inside  freepik

कॉफी पीने के नुकसान

व्रत में आपका पेट खाली रहता है जिसके कारण बॉडी फैट में से एनर्जी लेकर बॉडी में ब्लड सर्कुलेशन बनाए रखती हैं। लेकिन जब आप खाली पेट कॉफी पीती हैं तो नर्वस सिस्टम को एक बूस्ट मिलता है, यानी झटका-सा लगता है। जो कि लॉन्ग टर्म के लिए अच्छा नहीं होता है। इसलिए बेहतर होगा कि इन नौ दिनों में कॉफी ना पिएं।

तो इस नवरात्रि के अंतिम दिनों में चाय-कॉफी का सेवन बिल्कुल बंद कर दें और कुछ को अच्छी तरह से डिटॉक्स करें।