नए साल का आगाज हो चूका है और इस ख़ुशी के मौके पर जनवरी के महीने में कई लोगों ने घूमने का भी प्लान बना लिया है। ऐसे कई सैलानी भी होते हैं जो जनवरी के दूसरे या तीसरे सप्ताह में घूमने का प्लान बनाते हैं ताकि भीड़ कम रहे हैं। ऐसे में अगर आप भी किसी खूबसूरत जगह घूमने का प्लान बना रहे हैं, तो फिर आपको जम्मू-तवी एक बार ज़रूर घूमने पहुंचना चाहिए। 

आपको बता दें कि जम्मू-तवी जम्मू और कश्मीर राज्य का सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन भी है। यह राज्य की अन्य जगहों के लिए और कश्मीर घाटी की ओर जा रहे पर्यटकों के लिए एक प्रमुख रेलवे स्टेशन भी है। इसी स्टेशन से होकर हर रोज लाखों भक्त वैष्णो देवी दर्शन के लिए भी जाते हैं, तो आइए इस लेख में जानते हैं यहां मौजूद कुछ बेहतरीन जगहों के बारे में।

बाहू फोर्ट 

places to visit in jammu tawi bahu fort inside

हिमालय पर्वत और तवी नदी के किनारे मौजूद बाहू फोर्ट जम्मू-तवी का सबसे पुराना किला है। यह ऐतिहासिक दृष्टि से महत्वपूर्ण होने के साथ-साथ इस किले का धार्मिक महत्व भी बहुत है। कहा जाता है कि इस किले के अंदर एक प्राचीन काली माता का मंदिर भी है, जिसे स्थानीय लोग 'बावे वाली माता' के नाम से भी पुकारते हैं। (लोहागढ़ फोर्ट) स्थानीय लोगों का मानना है कि राजा बाहू लोचन ने इस फोर्ट का निर्माण करवाया था और कुछ वर्ष बाद में डोगरा राजाओं ने इसपर राज किया।

इसे भी पढ़ें: रूपकुंड झील को क्यों कहा जाता है कंकालों की झील, आप भी जानें

मांडा जू पार्क

places to visit in jammu tawi inside

जम्मू-तवी में अगर आपको किसी बेहतरीन पार्क में घूमना है तो फिर आपको मांडा जू पार्क ज़रूर पहुंचना चाहिए। इस पार्क में हजारों किस्म के पेड़ और पौधे मौजूद है। कहा जाता है कई ऐसे जंगली पेड़ पौधे भी मौजूद हैं जिसके बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं। इस पार्क में सबसे अधिक मोर है, जिन्हें आप करीब से देखा सकते हैं। (सेलाकुई की वादियों में घूमने पहुंचे) इस पार्क में लगभग चार से पांच किस्म में मोर मौजूद है। ठंड से बचने के लिए कुछ दिन पहले ही कई पक्षियों के रहने के लिए झोपड़ी का निर्माण किया गया था।

Recommended Video

डोगरा आर्ट म्यूज़ियम

best places to visit in jammu tawi inside

डोगरा आर्ट म्यूज़ियम डोगरा विरासत का एक अनमोल संग्रहालय माना जाता है। कहा जाता है कि एक संग्रहालय में लगभग 8 सौ से भी अधिक पेंटिंग्स हैं जिन्हें वर्षों से रखा गया है। यहां का मुख्य आकर्षण तीर और कमान, सोने की पेंटिंग्स जो मुग़ल काल की है। यहां पर कई हस्तलिखित शिलालेख भी है जो शाहजहां और सिकंदर के समय का माना जाता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि डोगरा आर्ट म्यूज़ियम का उद्घाटन देश के पहले राष्ट्रपति डा. राजेंद्र प्रसाद ने 1954 में किया था। यह ऐतिहासिक दृष्टि से भी बेहद महत्वपूर्ण है।

इसे भी पढ़ें: धारचूला की इन खूबसूरत जगहों पर एक बार ज़रूर घूमने पहुंचे

बाग-इ-बाहू

places to visit in jammu tawi inside

जम्मू-तवी में मौजूद बाग-इ-बाहू इस शहर का शान माना जाता है। कहा जाता अहि कि इस बैग की संरचना और प्रकृति सुंदरता इतनी अनोखी है कि मन मयूर नृत्य करने लगता है। एक से एक खूबसूरत फव्वारे और सीढ़ीनुमा लगे पेड़ पौधे खूबसूरती में चार चांद लगाने का काम करते हैं। जम्मू तवी के लोगों के लिए यह एक पिकनिक स्पॉट भी है, जहां हर रोज हजारों लोग घूमने के लिए आते हैं। इसके अलावा आप मुबारक मंडी कॉम्प्लेक्स, अमर पैलेस आदि जगहों पर भी घूमने के लिए जा सकते हैं।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@live.staticflickr.com,tourmyindia.com)