उत्तराखंड की प्राकृतिक सुंदरता अनुपम है और इसलिए दुनिया के अलग- अलग हिस्सों से पर्यटक यहां घूमने के लिए आते हैं। इसके अलावा यहां का कल्चरल हेरिटेज भी बेहद समृद्ध है। इस राज्य में कई स्थान थे जो औपनिवेशिक समय के दौरान ग्रीष्मकालीन रिट्रीट के रूप में कार्य करते थे।

इस राज्य को देवताओं की भूमि के रूप में भी जाना जाता है, उत्तराखंड में भारत के कई प्रतिष्ठित हिंदू और सिख मंदिर स्थित है। हालांकि, यह देखा गया है कि राज्य के इतिहास के बारे में बहुत कम बात की गई है। हम में से कुछ ही लोग जानते हैं कि चंद और कत्यूरी राज्य के दो प्रमुख राजवंश थे जिन्होंने उत्तराखंड के इतिहास में बहुत योगदान दिया था।

इसके अलावा, कई तथ्य हैं कि उत्तराखंड में कौरवों की पूजा की जाती है और बहुपत्नी प्रथा है। तो चलिए आज हम आपको उत्तराखंड की कुछ ऐसी ही ऐतिहासिक जगहों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आपको अपनी उत्तराखंड ट्रेवल बकिट लिस्ट में जरूर शामिल करना चाहिए-

इसे जरूर पढ़ें: Travel Tips: उत्तराखंड का हिल स्टेशन हर्षिल है बेहद खूबसूरत, जरूर जाएं यहां घूमने

Historical Places To Visit In Uttarakhad

कटारमल सूर्य मंदिर

कटारमल सूर्य मंदिर उत्तराखंड के कटारमल गांव में स्थित है, जो समुद्र तल से 2,116 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह भारत का दूसरा सबसे सुंदर मंदिर है जो हिंदू भगवान सूर्य को समर्पित है। मंदिर 9 वीं शताब्दी में कत्यूरी शासक, कटारमल्ला द्वारा बनाया गया था, जिन्होंने इस क्षेत्र पर शासन किया था। मुख्य मंदिर के अलावा, यहां 45 और मंदिर हैं जो भगवान शिव, उनकी पत्नी देवी पार्वती, लक्ष्मण और नारायण को समर्पित हैं।

इसे जरूर पढ़ें: देहरादून में इन पांच जगहों को नहीं देखा तो समझ लीजिए कि कुछ नहीं देखा

Places To Visit In Uttarakhad In Hindi

द्वारहाट

कुमाऊं पर्वत में 2000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित द्वारहाट, उत्तराखंड के ऐतिहासिक स्थानों में से एक है। यह अपने धार्मिक महत्व के लिए जाना जाता है। द्वारहाट में लगभग 55 मंदिर हैं, जिनका निर्माण मध्ययुगीन काल के दौरान कत्युरी राजाओं द्वारा किया गया था। मंदिरों के अलावा, द्वारहाट एक ऐसी जगह है जहां पर आप कुछ हद तक मन की शांति पा सकती हैं।

Places To Visit In Uttarakhad

चौखुटिया, अल्मोड़ा जिला

रंगीलो ग्वार के रूप में प्रसिद्ध, चौखुटिया उत्तराखंड के समृद्ध इतिहास का गवाह है। यह शहर किले और मंदिरों के रूप में कत्युरी राजवंश के अवशेषों को संरक्षित करता है। किंवदंती है कि महाकाव्य महाभारत के पांडव भी निर्वासन में रहने के दौरान यहां रुक गए थे। ऐसा माना जाता है कि चौखुटिया में पांडुखोली गुफाएं पांडवों द्वारा निर्मित हैं। उत्तराखंड में घूमने के दौरान आपको एक बार चौखुटिया जरूर जाना चाहिए।

Historical Places To Visit

वनसुर का किला

वनसुर का किला, जिसे बाणासुर का किला भी कहा जाता है, लोहाघाट से 7 किमी और चंपावत से 20 किमी की दूरी पर स्थित है। माना जाता है कि यह स्थान राक्षस वनसुर की राजधानी थी जिसे भगवान कृष्ण ने हराया था। वर्तमान में, आप केवल किले के खंडहर देख सकती हैं। यह स्थान ऐतिहासिक दृष्टि से बेहद ही महत्वपूर्ण माना जाता है।

Historical Places To Visit In Hindi

बागेश्वर

बागेश्वर वह स्थान है जहाँ तीन नदियाँ जैसे सरयू, गोमती और अव्यक्त भागीरथी मिलती हैं। बागेश्वर में प्राचीन काल के कई मंदिर हैं, जहां पर दर्शन करने के लिए जो देश भर से भक्तों और पर्यटकों का तांता लगता है। यहां पर आप बागनाथ मंदिर, बामणी का मंदिर, चंडिका मंदिर, श्रीहरु मंदिर और गौरी उदियार आदि कई मंदिरों में घूम सकती हैं। मंदिरों के दर्शन करने के अलावा, आपके पास बागेश्वर में ट्रेकिंग भी कर सकती हैं। आप पिंडारी ग्लेशियर या पांडुथल में ट्रैकिंग के लिए जा सकती हैं।

Historical Places  In Hindi

घुड्डुडा, अल्मोड़ा जिला 

उत्तराखंड के अन्य ऐतिहासिक स्थलों के विपरीत, अल्मोड़ा जिले के घुड्डुडा में वैसे तो कोई विशिष्ट स्मारक या मान्यूमेंट नहीं है। लेकिन फिर भी यह शहर अपना एक अलग ऐतिहासिक महत्व रखता है। ऐसा माना जाता है कि ब्रिटिश राज के दौरान घोड़ों की दौड़ के कारण इस शहर का नाम रखा गया था। स्थानीय लोगों के अनुसार, दौड़ एक विशाल मैदान में बड़े धूमधाम से आयोजित की जाती थी।

Recommended Video

यह भी कहा जाता है कि दौड़ अपने तरीके से अनोखी थी क्योंकि जिसने भी रेस जीती उसके पास अपनी इच्छा का पुरस्कार चुनने का विकल्प था। अल्मोड़ा जिले का यह छोटा सा शहर खेल में रूचि रखने वाले लोगों के लिए एक बेहतरीन उदाहरण है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।