उत्तराखंड शहर अपनी प्राकृतिक धरोहर के लिए पूरी दुनिया में मशहूर है। देश-विदेश से लोग इसकी खूबसूरती देखने के लिए यहां आते हैं। इसके साथ ही नया साल आने वाला है, ऐसे में हम में से ज्यादातर लोग कहीं घूमने का प्लान कर रहे होंगे? आपको समझ नहीं आ रहा है कि कहा जाना चाहिए तो आज हम आपके लिए लोहाघाट के उन खूबसूरत जगहों की लिस्ट लेकर आए हैं जिन्हें आपको इस नए साल पर एक्सप्लोर करना चाहिए। आइए जानते हैं कौन-सी हैं ये जगहें। 

अब्बोट्ट माउंट

abbott mount

अगर आप नए साल का जश्न प्रकृति की गोद में बैठकर मनाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको लोहाघाट में स्थित अब्बोट्ट माउंट जाना चाहिए। यह जगह करीब  6400 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। अब्बोट्ट माउंट लोहाघाट के सबसे आकर्षक पर्यटन स्थल में से एक है। इसके चारों ओर आपको कई बंगले दिखाई देंगे जो इस जगह की खूबसूरती में चार चांद लगाते हैं। चारों तरफ हरियाली ही हरियाली आपके मन को मोह लेगी और आपका मन करेगा कि आप हमेशा के लिए यहीं बस जाएं। यह जगह नेचर फोटोग्राफी के लिए बेस्ट है और साथ ही यहां पर आप फोटोशूट भी करवा सकते हैं। 

मायावती आश्रम

mayawati aashram

मायावती आश्रम लोहाघाट से करीब 9 किमी दूर है। इस आश्रम को देखने दुनिया भर से लाखों की संख्या में सैलानी आते हैं और इस आश्रम के अंदर एक लाइब्रेरी और एग्जीबिशन हॉल भी है। अगर आप नए साल का जश्न शांति के अहसास के साथ मनाना चाहते हैं तो आपको मायावती आश्रम जरूर जाना चाहिए। इस आश्रम के आस-पास आपको कई तरह के फूल देखने को मिलेंगे जो इस आश्रम की खूबसूरती को बढ़ाते हैं। इस आश्रम में जाकर आपको शांति और सूकून महसूस होगा। साथ ही यह आश्रम लोहाघाट के सबसे अनएक्सप्लोर जगह में से एक हैं। 

इसे भी पढ़ें: दिसंबर के महीने में पिथौरागढ़ की इन पांच जगहों पर जरूर घूमें

बाणासुर का किला

banasur fort

हालांकि, आपको पूरे उत्तराखंड में ही कई किले देखने को मिलेंगे, लेकिन लोहाघाट में मौजूद बाणासुर का किला ( भारत के रहस्यमयी किले) लोगों के बीच काफी प्रसिद्ध है। इस किले की अपनी मान्यता है। ऐसा कहा जाता है कि इस किले में श्रीकृष्ण ने बाणासुर नामक एक दानव को मारा था। जिसकी वजह से ही इस किले का नाम बाणासुर का किला पड़ा। इसके अलावा इस किले को भोवाली के नाम से भी जाना जाता है, जो बाणासुर की कहानियों के लिए प्रसिद्ध है। इस किले के पास से ही लोहावती नदी गुजरती है। जब आप इस किले पर पहुंचेंगे तो यहां से आपको पूरे लोहाघाट का अद्भूत नजारा देखने को मिलेगा। चारों ओर पेड़ और झाडियों से घिरा यह स्थान बाणासुर का किला की खूबसूरती में चार चांद लगाता है। अगर आप लोहाघाट जाने की सोच रहे हैं तो आपको बाणासुर का किला जरूर जाना चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: उत्तराखंड की ये 5 ऑफबीट डेस्टिनेशंस कर सकती हैं आपके सपनों को सच

Recommended Video


पंचेश्वर

panchesvar

पंचेश्वर लोहाघाट के पास स्थित एक छोटा सा शहर है। यह शहर दो धाराओं सरयू और काली नदी के मिलन का परिप्रेक्ष्य है, जिसे देखना काफी अद्भुत एहसास दिलाता है। यह शहर साफ वायु और कम भीड़-भाड़ के लिए जाना जाता है। इसी वजह से यह पर्यटकों के आकर्षण का मुख्य केंद्र भी है। इसके अलावा क्योंकि यह शहर नेपाल से पास ही है तो अक्सर नेपाल के लोग इस शहर में घूमने के लिए आते हैं। अगर आप नए साल का जश्न शांति और कम भीड़-भाड़ वाले इलाके में मनाना चाहते हैं तो पंचश्वेर शहर आपके लिए एक दम बेस्ट जगह है। 

 

उम्मीद है कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए हमें कमेंट कर जरूर बताएं और जुड़े रहें हमारी वेबसाइट हरजिंदगी के साथ। 

Image Credit: i1.wp.com, cdn.s3waas.gov.in, amarujala.com & euttaranchal.com