महिलाएं अपने चेहरे पर निखर लाने के लिए अक्सर कई तरह के ब्यूटी ट्रीटमेंट लेती हैं। कुछ महिलाएं तो हर महीने क्लीनअप या फेशियल भी करवाती हैं। लेकिन बहुत-सी महिलाओं को ये लगता है कि फेशियल और क्लीनअप एक ही होते हैं, तो आपको बता दें कि ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। फेशियल और क्लीनअप अलग-अलग ब्यूटी ट्रीटमेंट हैं, जिनके अपने अलग-अलग फायदे होते हैं।  

हालांकि, महंगे फेशियल्स में महिलाओं का खर्च थोड़ा बढ़ जाता है, लेकिन इससे उनकी त्वचा दमकती हुई नजर आती है। जबकि क्लीनअप फेशियल के मुकाबले महिलाओं को थोड़ा सस्ता पड़ता हैं। तो चलिए जानते हैं कि फशियल और क्लीनअप में क्या अंतर होता है..

फेशियल क्या है?

clean up

फेशियल चेहरे के ऊपर किया जाने वाला ब्यूटी ट्रीटमेंट है, जिसे महिलाएं अपने चेहरे को और सुंदर बनाने या फ्रेश बनाने के लिए करवाती हैं। हालांकि, फेशियल एक प्रक्रिया के तहत किया जाता है। इसमें क्लींजिंग, स्क्रबिंग, स्टीम आदि शामिल होते हैं। इन सभी प्रक्रिया के हो जाने के बाद फेस पैक का भी इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि, यह कई तरह से किए जा सकते हैं, जिसका चुनाव अपनी स्किन टाइप के अनुसार किया जाता है। 

क्लीनअप क्या है? 

facial 

ब्यूटी ट्रीटमेंट में फेशियल के बाद क्लीनअप और क्लींजिंग आते हैं, जो स्किन को हेल्दी और ग्लोइंग बनाए रखने के लिए किए जाते हैं। इसे महिलाएं हफ्ते में एक बार करवा ही लेती हैं। हालांकि, यह फेशियल से ज्यादा अलग नहीं होता लेकिन इसमें क्लींजिंग, स्क्रबिंग, स्टीम तो की ही जाती है। साथ ही, इसमें 10 मिनट की मसाज भी की जाती है, जिसके जरिए स्किन को ग्लोइंग बनाया जाता है। यह प्रोसेस लंबा नहीं होता और फेशियल के मुकाबले जल्द ही खत्म हो जाता है। 

जानें क्या है अंतर? 

  • वैसे तो क्लीनअप और फेशियल में सारे प्रोसेस समान होते हैं लेकिन इनमें मसाज और स्टीम को करने और उसके प्रोसेस में थोड़ा अंतर होता है। 
  • क्लीनअप में मसाज कम समय तक और फेशियल में मसाज अधिक समय तक की जाती है। 
  • फेशियल, क्लीनअप से ज्यादा महंगा और चेहरे के लिए ज्यादा अच्छा होता है। 
  • क्लीनअप को आप हफ्ते में 2-3 बार करवा सकती हैं, वहीं फेशियल को करवाने के बाद आपको लगभग एक महीने तक दोबारा फेशियल करवाने की जरूरत नहीं होती है।

    Recommended Video

क्या होते हैं फायदे?

benefits of facial

  • एक्ने की समस्या एक कॉमन समस्या है, जिसकी शिकायत ज्यादातर महिलाओं को होती है। इसलिए वह फेशियल और क्लीनअप करवाती हैं। फेशियल को करने से अंदर की त्वचा पर दबाव पड़ता है और कील-मुंहासे जैसी समस्या से निजात मिल सकता है। वहीं, क्लीनअप से चेहरा साफ होता है। 
  • अगर आपकी स्किन ऑयली है, तो आप फेशियल करवा सकती हैं। क्योंकि फेशियल ऑयली स्किन के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसे करने से चेहरे का एक्स्ट्रा ऑयल निकल जाता है और आपकी स्किन निखरी हुई नजर आती है। इसलिए आप ऑयली स्किन से छुटकारा पाने के लिए फेशियल या क्लीनअप पार्लर जाकर आसानी से करवा सकती हैं। 
  • रिंकल्स की समस्या से निजात पाने के लिए भी फेशियल बहुत फायदेमंद है क्योंकि जब आप फेशियल करवाती हैं, तो चेहरे की नसों में खिंचाव आता है और जोर पड़ता है, जिससे रिंकल्स की समस्या कम हो जाती है। साथ ही, क्लीनअप को नियमित रूप से करने से बढ़ती उम्र का असर चेहरे पर कम पड़ता है।
  • फेशियल और क्लीनअप को करने से डेड स्किन सेल्स बाहर निकल जाते हैं, जिससे त्वचा साफ और निखरी हुई नजर आती है।
  • चेहरे से धूल मिट्टी निकल जाती है और चेहरा साफ हो जाता है। 

उम्मीद है आपको फेशियल और क्लीनअप में क्या अंतर होता है यह समझ में आ गया होगा। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik)