यूं तो हर महिला को एक बेदाग और नेचुरली निखरी त्वचा पाने के लिए अतिरिक्त मेहनत करनी पड़ती है। अमूमन महिलाएं अपने स्किन टाइप को ध्यान में रखते हुए खुद के लिए एक स्किन केयर रूटीन तय करती हैं, लेकिन अगर बात सेंसेटिव स्किन की हो तो उनके साथ समस्या यह होती है कि वह एक बेहतरीन स्किन केयर रूटीन को फॉलो करने के बाद भी कभी-कभी परेशानी में पड़ जाती है।

उन्हें प्रॉडक्ट्स के चयन से लेकर उनके एप्लीकेशन तक में बहुत अधिक सावधानी बरतनी पड़ती है। किसी भी नए प्रॉडक्ट को इस्तेमाल करने से पहले कई बार सोचना पड़ता है। इतना ही नहीं, पानी का तापमान तक भी उनकी स्किन को इरिटेट कर सकता है और उनकी स्किन पर रैशेज हो जाते हैं।

अगर आपकी स्किन भी सेंसेटिव है तो यकीनन आपको इस तरह की स्किन समस्याओं का सामना कई बार करना पड़ता होगा। तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे स्किन केयर मिसटेक्स के बारे में बता रहे हैं, जो सेंसेटिव स्किन पर काफी भारी पड़ सकती हैं-

हार्श तरीके से स्किन को क्लीन करना

sensitive skin care mistakes cleaning harshly

स्किन केयर रूटीन में सबसे पहला नबंर आता है उसे क्लीन करने का। यह तो हम सभी जानती हैं कि सेंसेटिव स्किन वाली महिलाओं को हार्श व केमिकल युक्त ब्यूटी प्रॉडक्ट्स से दूर रहना चाहिए। लेकिन बात सिर्फ यहीं पर खत्म नहीं होती। आप उन प्रॉडक्ट्स को किस तरह अप्लाई करती हैं, यह भी उतना ही अहम् है।

इसे जरूर पढ़ें: अगर है सेंसेटिव स्किन तो ब्यूटी प्रॉडक्ट्स खरीदते समय इन बातों का रखें ख्याल

मसलन, अगर आपका क्लींजर माइल्ड है, लेकिन आप उससे अपने चेहरे को रगड़-रगड़कर साफ करती हैं तो यकीनन आपको अपनी स्किन पर जलन व रैशेज का सामना करना पड़ेगा। इसके अलावा आप स्किन को जेंटल तरीके से सेंसेटिव स्किन सेफ एक्सफ़ोलीएटर्स का उपयोग करके महीने में केवल एक बार ही स्क्रब करें।

गलत टोनर को चुनना

sensitive skin care mistakes wrong toner

टोनर आपकी स्किन को टोन व हाइड्रेट करने में मदद करता है। लेकिन अगर आपकी स्किन सेंसेटिव है तो ऐसे में गलत टोनर का चयन आपकी स्किन के पीएच लेवल को गड़बड़ कर सकता है। मसलन, सैलिसिलिक एसिड युक्त टोनर संवेदनशील त्वचा के लिए बहुत अच्छा विकल्प नहीं माने जाते, क्योंकि इनसे आपको स्किन पर हल्की झनझनाहट महसूस होती है। साथ ही इससे संवेदनशील त्वचा पर ब्रेकआउट या रेडनेस हो सकती है। इसलिए बेहतर होगा कि आप नेचुरल इंग्रीडिएंट बेस्ड टोनर को ही चुनें। लैक्टिक या ग्लाइकोलिक एसिड टोनर इस त्वचा के प्रकार के लिए सही माने जाते हैं।

पैच टेस्ट ना करना

sensitive skin care mistakes ignoring patch test

यह सेंसेटिव स्किन की महिलाओं के द्वारा की जाने वाली एक सबसे बड़ी मिसटेक है, जो वह अक्सर अनजाने में कर बैठती है। अमूमन मार्केट में हर्बल या नेचुरल लेबल प्रॉडक्ट को सेंसेटिव स्किन की महिलाएं खरीद लेती हैं और फिर उन्हें सीधे अपनी स्किन पर अप्लाई करती हैं।

Recommended Video

हालांकि यह जरूरी नहीं है कि वह उनकी स्किन पर किसी तरह का रिएक्शन ना करे। कभी-कभी इन प्रॉडक्ट्स में कुछ ऐसे इंग्रीडिएंट भी होते हैं जो स्किन को डिस्टर्ब करते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि आप किसी भी नए प्रॉडक्ट यहां तक कि होममेड नुस्खों को इस्तेमाल करने से पहले भी पैच टेस्ट अवश्य करें।

नए उत्पादों को शामिल करना

sensitive skin care mistakes including new products

सेंसेटिव स्किन की महिलाएं जब विज्ञापनों में किसी प्रॉडक्ट की तारीफ सुनती या देखती हैं तो उनके मन में यही ख्याल आता है कि इससे उनकी स्किन को बेहद लाभ होगा। लेकिन किसी भी नए प्रॉडक्ट को अपने स्किन केयर रूटीन में आपको सोच-समझकर शामिल करना चाहिए। मसलन, आप पहले पैच टेस्ट करें। उसके बाद कम से कम 24 घंटे तक इंतजार करें और यह देखें कि उसका कोई रिएक्शन तो नहीं हो रहा है।

इसे जरूर पढ़ें: Beauty Tips In Hindi-रात और दिन में इस तरह करें त्‍वचा की देखभाल

साथ ही साथ एक बार में बहुत अधिक न्यू प्रॉडक्ट्स को अपनी स्किन पर अप्लाई ना करें। बल्कि एक प्रॉडक्ट को अप्लाई करने के बाद दूसरे नए प्रॉडक्ट के एप्लीकेशन में कम से कम सात से दस दिन का गैप रखें। इससे आपको समझ आएगा कि ब्यूटी प्रॉडक्ट्स आपकी स्किन पर किस तरह काम कर रहे हैं।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।