क्या आप हैं अनचाहे बालों से परेशान? तो आजमाइए फलां-फलां रेजर...ऐसे कितने एड्स आपने टीवी में देखे होंगे और उनसे प्रभावित होकर खरीदा भी होगा। अनचाहे बालों को हटाने के लिए इंस्टेंट रेजर भी बाजारों में मौजूद हैं, लेकिन क्या वो जैसा दावा करते हैं, वैसा मिलता है? रेजर इस्तेमाल करने का यह फायदा है कि यह आपको तुरंत रिजल्ट देता है मगर उसके नुकसान भी हैं। धीरे-धीरे बाजारों में एपिलेटर ने भी जगह बना ली है। एपिलेटर से बालों को आराम से हटाया जा सकता है। यह रेजर से क्यों बेहतर है आइए जानें।

क्या है एपिलेटर

what is epilator

एपिलेटर को आप इलेक्ट्रिक शेवर और ट्वीजिंग मशीन भी कह सकती हैं। यह अनचाहे बालों को जड़ से निकालने का काम करता है। एपिलेटर वैक्सिंग की तरह ही काम करता है, लेकिन एपिलेटर में वैक्स यूज नहीं किया जाता। जब आप डिवाइस को अपनी बॉडी के अलग-अलग पार्ट्स पर घुमाती हैं तो यह बालों को निकालता है।

इस्तेमाल करने से पहले रखें ध्यान

things to remember

एपिलेटर का इस्तेमाल करने से पहले अपनी स्किन को अच्छी तरह एक्सफोलिएट कर लें। इससे आपकी बॉडी से डेड स्किन सेल्स निकलेंगे, जो इनग्रोन हेयर होने से भी रोकेगा। अपने एपिलेटर को स्किन पर 90 डिग्री एंगल पर रखें और इसे स्किन पर प्रेस बिल्कुल नहीं करना है यह ध्यान रखें। हल्के हाथों से पकड़ते हुए उसे स्किन पर, हेयर ग्रोथ की डायरेक्शन पर रखें। अगर आप एपिलेटर को अपोजिट डायरेक्शन पर रखेंगी, तो इससे स्किन पर चोट लग सकती है। यह रेजर के मुकाबले कैसे बेहतर है, आइए जानें-

इसे भी पढ़ें :Beauty Tips: बालों को रिमूव करने के लिए स्किन टाइप के अनुसार सही वैक्स कैसे चुनें, जानिए

एपिलेटर जड़ों से बालों को निकालता है

epilator pull out hair

जब आप रेजर यूज करती हैं, तो वह सिर्फ स्किन की सरफेस से बालों को हटाता है, इसलिए आपको स्मूथ स्किन का एहसास नहीं होता। वहीं, जैसा कि हमने ऊपर बताया एपिलेटर जड़ों से बालों को हटाता है। यह वैक्सिंग की तरह काम करता है, मगर उसकी तरह चिपचिपा हुए बिना। यही कारण है कि लड़कियां इसका ज्यादा इस्तेमाल करने लगी हैं। अगर आप भी अब तक रेजर का इस्तेमाल कर रही हैं, तो आपको सोचने की जरूरत है।

इनग्रोन हेयर से छुटकारा

better than waxing and shaving

रेजर इस्तेमाल करने से चूंकि बाल सरफेस से ही हटते हैं, इस वजह से इनग्रोन हेयर की समस्या होती है। आपने ध्यान दिया होगा कि आप जब भी रेजर का इस्तेमाल करती हैं, तो आपको खुजली और जलन होने लगती है, यह उसी कारण होता है। जबकि एपिलेटर के साथ ऐसी कोई दिक्कत नहीं है। रेजर के बाद आपको इनग्रोन हेयर को कई बार ट्वीजर की मदद निकालना पड़ता है, लेकिन एपिलेटर से ऐसा करने की जरूरत ही नहीं पड़ती।

इसे भी पढ़ें :Jawed Habib Tips: चेहरे और स्किन के अनचाहे बालों के लिए इस्तेमाल किए जा सकते हैं ये 5 तरह के रेज़र

 

वन टाइम इंवेस्टमेंट

epilator vs razor

रेजर की कीमत बाजारों में काफी कम होती है। 2-3 हफ्तों तक यूज किए जाने वाले रेजर 300-400 के बीच आते हैं और यूज एंड थ्रो वाले 50-150 रुपये तक कीमत पर, लेकिन उन्हें यूज़ करना कितना सही है? वहीं, एपिलेटर जरूर थोड़े से महंगे होते हैं, लेकिन इससे आपका सालों तक का खर्चा बच जाता है। यह इलेक्ट्रिक होते हैं, तो आपको इसके लिए बस बैटरी की जरूरत होती है। अगर आप वैक्सिंग और शेविंग की साल की लागत कैल्कुलेट करें, तो उससे भी कम कीमत होती है एपिलेटर की।

बार-बार शेव करने से छुट्टी

epilator is better than razor

हर तीन दिन में शेव करने के लिए समय निकालने के झंझट से कौन गुजरना चाहता है? चूंकि एपिलेटर बालों को जड़ों से हटाते हैं, इस वजह से बहुत धीमी गति से बाल वापस आते हैं। इसलिए, आपको केवल तीन-चार सप्ताह के आसपास ही एपिलेटर को इस्तेमाल करने की जरूरत महसूस होती है। वहीं, शेविंग के बाद बाल बहुत तेजी से बढ़ने लगते हैं, जिससे आपके पास हर तीन या चार दिनों में शेव करने के अलावा और कोई विकल्प नहीं रह जाता है।

अगर आप पहली बार एपिलेटर का इस्तेमाल कर रही हैं, तो थोड़ा सा ख्याल रखें। पहली दफा इसे इस्तेमाल करते वक्त दर्द हो सकता है और त्वचा थोड़ा लाल भी हो सकती है, लेकिन घबराने की जरूरत नहीं। आपको ठीक वैसा लगेगा जैसा वैक्स के दौरान लगता है। अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक और शेयर जरूर करें। ऐसे अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी के साथ।

Image Credit : Freepik Images