• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

बहुत काले हो गए हैं अंडरआर्म्स तो इन तरीकों से इन्हें करें ब्राइट

अगर आप भी अंडरआर्म्स के कालेपन से परेशान हैं तो डर्मेटोलॉजिस्ट द्वारा बताई गई इन टिप्स का पालन कर सकते हैं।
author-profile
Next
Article
betnovate c for dark underarms

अंडरआर्म्स अगर डार्क हो तो ये कई लोगों की असहजता का कारण बन जाता है। वैसे तो ये बहुत ही नॉर्मल घटना है और ये कई महिलाओं के साथ होती है, लेकिन फिर भी हममे से कई लोग स्लीवलेस पहनने से सिर्फ इसलिए डरते हैं क्योंकि हमारे अंडरआर्म्स काले हो गए हैं या उनका रंग नेचुरल नहीं लगता है। इसके लिए कई तरह की क्रीम्स भी मार्केट में आती हैं और इतना ही नहीं लोग तो कई तरह के ब्यूटी ट्रीटमेंट्स भी करवाने के लिए तैयार रहते हैं।

लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि ये क्यों होता है और साथ ही साथ आप इन्हें नेचुरल तरीकों से कैसे ठीक कर सकते हैं? कई बार इनका कारण मौसम भी होता है जैसे सर्दियों में अंडरआर्म्स का कालापन कई बार बढ़ने लगता है। कई बार इनका कारण कुछ और होता है और कई बार तो अंडरआर्म्स हमारी किसी गलती के कारण ही काले पड़ने लगते हैं।

इस तरह का हाइपर पिगमेंटेशन बहुत ज्यादा असर दिखा सकता है और इसे ठीक करने के लिए भी अलग-अलग लोगों को अलग तरीके फॉलो करने होते हैं। आप किस तरह से अपने अंडरआर्म्स हाइपर पिगमेंटेशन को ठीक करते हैं ये इस बात पर निर्भर करता है कि आपके पिगमेंटेशन का कारण क्या है।

यवाना एस्थेटिक क्लीनिक की फाउंडर और जानी मानी डर्मेटोलॉजिस्ट डॉक्टर माधुरी अग्रवाल ने अपने इंस्टाग्राम पर इस बारे में एक पोस्ट शेयर की है और डिटेल में अंडरआर्म्स की इस समस्या का कारण और इसे कम करने के तरीकों के बारे में बताया है।

dark underarms and inner thighs

इसे जरूर पढ़ें- अंडरआर्म्‍स के कालेपन को 7 दिन में दूर कर देगी चीनी, आज से ही ट्राई करें

किन कारणों से होते हैं अंडरआर्म्स काले?

अंडरआर्म्स का रंग बदलने के कई कारण हो सकते हैं। ये भूरे, बैंगली, गहरे लाल, काले शेड्स में हो सकते हैं। किस कारण आपके अंडरआर्म्स का रंग बदला है वो ही अंडरआर्म्स के रंग को निर्धारित करेगा।

अधिक मात्रा में अल्कोहल बेस्ट डियोड्रेंट्स का इस्तेमाल

डियोड्रेंट्स अल्कोहल बेस्ड होते हैं और इनमें कई तरह के केमिकल्स होते हैं। एकदम से सीधे बहुत पास अंडरआर्म्स में डियोड्रेंट्स लगाने से इनका रंग बदलने लगता है। ये धीरे-धीरे होता है, लेकिन फिर भी आपको विजिबल रिजल्ट्स दिखते हैं।

 

गलत तरीके से और बहुत ज्यादा शेविंग करना 

बहुत ज्यादा शेविंग करना भी आपके अंडरआर्म्स के काले होने का कारण हो सकता है। अगर आप हर रोज़ या हर हफ्ते उन्हें एक्सफोलिएट करते हैं और शेव करते हैं और उनका ख्याल नहीं रखते तो स्किन इन्फ्लेमेशन हो सकता है। 

मोटापा अधिक बढ़ जाना और अन्य हेल्थ समस्याएं होना 

ओबेसिटी स्किन पिगमेंटेशन का एक बड़ा कारण मानी जाती है। स्किन जहां से भी मुड़ने लगती है वहां से पिगमेंटेशन की समस्या होने लगती है। ये बिल्कुल वैसा ही है जैसा आपकी बिकनी लाइन में होता है। पीसीओएस, थायराइड, मोटापा सभी इसका कारण हो सकते हैं। 

dark underarms home remedies

हेरेडिटी और हार्मोनल समस्याएं 

हेरेडिटी और हार्मोन का उतार-चढ़ाव भी इस समस्या का बड़ा कारण हो सकता है। ऐसे में अधिकतर अंडरआर्म्स का रंग गहरा होने लगता है। 

बहुत टाइट कपड़े और पसीना 

आपके कपड़े बहुत ज्यादा टाइट हों या फिर उनमें बहुत पसीना आ रहा हो तो ये अंडरआर्म्स के काले होने का कारण बन सकता है। अंडरआर्म्स के काले होने के लिए पसीना और हाइजीन काफी हद तक जिम्मेदार होती है। अगर आपके पसीने में यूरिक एसिड की मात्रा ज्यादा है तो भी अंडरआर्म्स के कालेपन की समस्या महसूस होगी। 

इनके अलावा, दवाओं या किसी ब्यूटी ट्रीटमेंट के साइड इफेक्ट के कारण भी ऐसा हो सकता है। 

होम रेमेडीज जिनसे ब्राइट हो सकते हैं अंडरआर्म्स 

अब बात करते हैं उन होम रेमेडीज की जिनकी मदद से अंडरआर्म्स को ब्राइट किया जा सकता है। ध्यान रखें कि ये जेनेटिक और किसी बीमारी के कारण डार्क हुए अंडरआर्म्स पर काम नहीं करेगा। 

dark underarms and neck

नेचुरल सनस्क्रीन यानी एलोवेरा का इस्तेमाल 

डॉक्टर माधुरी के मुताबिक एलोवेरा एक तरह का नेचुरल सनस्क्रीन है जो स्किन के इन्फ्लेमेशन को कम करता है और आपके अंडरआर्म्स को लाइट करने में सहायक होता है। 

ताज़ा एलोवेरा जेल को 15-20 मिनट के लिए अपने अंडरआर्म्स पर लगाएं और फिर सूखने के बाद इसे धो लें। 

इसे हर दो दिन में एक बार जरूर करें ताकि जल्दी आपको असर दिखाई दे। 

इसे जरूर पढ़ें- हाथों का कालापन दूर करने के लिए ये 5 टिप्‍स अपनाएं 

शेविंग करते समय रखें इन बातों का ख्याल 

आप अंडरआर्म्स की क्लींजिंग भी कर सकते हैं और ये तरीका अंडरआर्म्स की शेविंग के दौरान काफी मददगार साबित होगा। अगर आप शेविंग करते हैं तो ध्यान रखें कि अंडरआर्म्स की ड्राई शेविंग ना हो जिससे स्किन इरिटेशन बढ़ेगा।

शुरुआत अंडरआर्म्स की क्लींजिंग से करें। अच्छे से साफ करने के बाद ही शेविंग के बारे में सोचें।

ड्राई शेव हमेशा आपको परेशान कर सकता है इसलिए ये सब ना करें। 

किन क्रीम्स की ली जा सकती है मदद?

आप उन क्रीम्स की मदद ले सकते हैं जो इन्हें लाइट करने का काम करे, लेकिन इंग्रीडिएंट्स ध्यान से चुनें। हाइड्रोक्विनोन, नियासिनामाइड, रेटिनॉल, एजेलिक एसिड या कोजिक एसिड जैसे इंग्रीडिएंट्स चुनें। 

इस तरह का इंग्रीडिएंट मिक्स आपके स्किन बैरियर को सपोर्ट करेगा। साथ ही स्किन का टेक्सचर भी सुधारेगा। ये स्किन टोन के लिए अच्छा होगा। ये आपके डार्क पार्ट्स को ब्राइट करने में मदद करेगा। 

Recommended Video

पील्स और लेजर ट्रीटमेंट्स 

आप अपने अंडरआर्म्स के लिए आखिरी ट्रीटमेंट पील्स और डर्मेटोलॉजिकल ट्रीटमेंट्स होते हैं। ये डर्मेटोलॉजिस्ट की सलाह पर किए गए ट्रीटमेंट्स होते हैं जिन्हें क्लीनिक में किया जाता है। ये कम समय में ही अच्छे रिजल्ट दिखाने लगते हैं। 

आप अपने अंडरआर्म्स के लिए किस तरह का ट्रीटमेंट चुनते हैं ये आप पर निर्भर करता है, लेकिन अगर आप इस समस्या से परेशान हैं तो एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूर ले लें। घर पर केमिकल पीलिंग जैसा कुछ ट्राई करने से पहले भी आप डॉक्टर की सलाह जरूर लें। 

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से। 

 
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।