जब मानसून का मौसम आता है, तो मन को बहुत अच्छा लगता है। दरअसल, इस मौसम में चलने वाली हवाएं और बारिश के कारण चिलचिलाती गर्मी से राहत मिलती है। लेकिन यह मौसम ऑयली स्किन के लिए परेशानी का सबब बन जाता है और आपकी स्किन प्रॉब्लम्स बढ़ जाती हैं। दरअसल, हवा में बढ़ी हुई नमी से पसीने का इवेपोरेशन कम हो जाता है और रोम छिद्र बंद हो जाते हैं। इससे आपकी वसामय ग्रंथियां भी तेज हो जाती हैं, जिससे आपकी ऑयली स्किन और भी अधिक तैलीय व चिपचिपी नजर आती हैं। इस मौसम में अमूमन महिलाएं अपनी स्किन की प्रॉब्लम्स व चिपचिपेपन से निजात पाने के लिए उसे बार-बार धोती हैं। जिससे स्किन और भी ज्यादा इरिटेटिड हो जाती है। ऐसे में आपको कुछ ऐसे हल्के व मैटिफाइंग प्रॉडक्ट्स का इस्तेमाल करना चाहिए, जो आपकी त्वचा को चिपचिपा महसूस किए बिना हाइड्रेट कर सकें। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे ही स्किन केयर एसेंशियल के बारे में बता रहे हैं, जो मानसून में ऑयली स्किन के लिए लाभदायक साबित होंगे-

सैलिसिलिक एसिड फेस वॉश 

insideface wash

इस मौसम में अपनी स्किन को क्लीन करने के लिए आपको ऐसे फेस वॉश का इस्तेमाल करना चाहिए, जिसमें सैलिसिलिक एसिड या रेसोरसिनॉल हो। आप इससे दिन में 2 से 3 बार ठंडे पानी से चेहरे को वॉश करें। दरअसल, जब मुंहासों से लड़ने की बात आती है तो सैलिसिलिक एसिड बेहद अच्छी तरह काम करता है। साथ ही यह त्वचा के पीएच स्तर को संतुलित करता है, डेड स्किन सेल्स से छुटकारा पाकर पोर्स को क्लीन करता है और त्वचा को गहराई से साफ करता है। इस प्रकार, यह मानसून के मौसम के लिए एकदम सही है।

जरूर इस्तेमाल करें मॉइश्चराइजर

inside care of lotion

आमतौर पर इस मौसम में स्किन के चिपचिपेपन को देखकर महिलाएं मॉइश्चराइजर लगाने से बचती हैं। लेकिन ऑयली स्किन की महिलाओं को भी मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करना चाहिए, क्योंकि यह हेल्दी स्किन बैरियर को प्रिजर्व करने में मदद करता है। आप वाटर बेस्ड या लाइट मॉइश्चराइजर चुन सकती हैं। तैलीय त्वचा के लिए मॉइस्चराइज़र में आमतौर पर ग्लिसरीन, डाइमेथिकोन, प्रोपलीन ग्लाइकोल पानी और अन्य गैर-कॉमेडोजेनिक तत्व होते हैं। वहीं आप ऐसे मॉइश्चराइज़र भी चुन सकती हैं, जिनमें सनस्क्रीन या बीबी क्रीम हों। क्योंकि इस मेकअप में बहुत अधिक मेकअप या प्रॉडक्ट्स की लेयरिंग ना करने की सलाह दी जाती है।  

सही हो टोनर

inside toner

मौसम चाहे कोई भी हो, टोनर को हमेशा स्किन केयर रूटीन में शामिल करना जरूरी होता है। लेकिन जब बात मानसून की हो तो आप ऐसे टोनर का उपयोग करें, जिसमें विच-हेज़ल या टी-ट्री ऑयल जैसे तत्व हों। आपको मार्केट में इन इंग्रीडिएंट्स से युक्त टोनर मिल जाएंगे। इसके अलावा, आप घर पर भी टी-ट्री ऑयल आदि की मदद से टोनर बना सकती हैं। 

इसे ज़रूर पढ़ें-चेहरे को बनाना चाहती हैं गोरा तो चावल के आटे से बना ये होममेड स्क्रब जरूर करें ट्राई

मिसेलर वॉटर

inside mileter water

अगर आपकी स्किन ऑयली है तो आपको मानसून में मिसेलर वॉटर को अपने स्किन केयर एसेंशियल में जरूर शामिल करना चाहिए। ऐसा माना जाता है कि मिसेलर वॉटर केवल मेकअप रिमूवर के रूप में काम आता है, लेकिन यह इससे कहीं अधिक काम का है। आपको शायद पता ना हो, लेकिन यह मौसमी ऑयलीनेस को भी मैनेज कर सकता है। आप ऐसे मिसेलर वॉटर को चुनें, विच हेज़ल, और थाइम जैसे तत्व हों। बस एक कॉटन पैड पर मिसेलर वॉटर थोड़ा सा डालें और इसे अपने चेहरे के चिकने एरिया पर थपथपाते हुए लगाएं ताकि यह तुरंत मैट हो जाए और आपको एक रिफ्रेशिंग लुक मिल सके।  

Recommended Video

रेटिनॉल को बनाएं अपना दोस्त

inside retinawl

इस मौसम में ऑयली स्किन को ब्रेकआउट्स से लेकर अन्य कई प्रॉब्लम्स होती है। ऐसे में आपको रेटिनॉल बेस्ड प्रॉडक्ट को नाइट स्किनकेयर रूटीन में जरूर शामिल करना चाहिए। रेटिनॉल कोलेजन उत्पादन को बढ़ाता है और पोर्स को टाइटन है, अंततः किसी भी पोर्स को क्लॉग होने, संक्रमण, सूजन और मुँहासे की संभावना को कम करता है।

इसे ज़रूर पढ़ें-मानसून में कैसे रखें अपनी सेहत का ख्याल? बता रही हैं स्वाति बाथवाल

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

Image Credit Freepik