Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    आंखों के नीचे होने वाली झुर्रियों को ऐसे रोकें

    अगर आपकी आंखों के नीचे लाइन्स दिखने लगी हैं और समय से पहले ही चेहरे में झुर्रियां आ गई हैं तो ये टिप्स आपके लिए कारगर होंगे।   
    author-profile
    Published -15 Jul 2021, 12:00 ISTUpdated -15 Jul 2021, 12:41 IST
    Next
    Article
    best eye wrinkle treatments

    बचपन, जवानी और बुढ़ापा ये हमारी जिंदगी के तीन पहलू होते हैं, लेकिन जवानी जाने का किसी को गम न हो ऐसा होता ही नहीं है। कई लोगों के साथ ये समस्या होती है कि वो कम उम्र में ही ज्यादा बूढ़े लगने लगते हैं। अपनी उम्र से ज्यादा का लगना सही नहीं है और बहुत से लोगों को ये समस्या होती है। ऐसे में क्या किया जाए जिससे ये समस्या कम होने लगे। 

    दरअसल, नॉर्मल तरह से हमारी स्किन बूढ़ी तब लगती है जब उम्र के साथ उसकी इलास्टिसिटी खत्म होने लगती है, लेकिन अगर स्किन समय से पहले ही अपनी इलास्टिसिटी खो दे तो ये यकीनन खराब लगता है। एजिंग प्रोसेस हमेशा किसी न किसी कारण से शुरू होता है, लेकिन सबसे पहले जहां हमारी उम्र का पता चलता है वो है हमारी आंखें। 

    अंडर आई रिंकल्स की समस्या बहुत से लोगों को होती है और उम्र के अलावा भी कई कारण हो सकते हैं जिनके वजह से ये रिंकल्स होते हैं जैसे-

    • प्रदूषण
    • स्मोकिंग
    • लाइफस्टाइल में बदलाव
    • खराब डाइट
    • स्किन केयर न करना
    • केमिकल्स का प्रयोग
    • सूरज की धूप का असर
    • लगातार आंखों का एक्सप्रेशन करना
    • स्लीप साइकल में परेशानी, आदि

    ये सारी चीज़ें तो आपको सुधारनी जरूरी हैं जो जल्दी एजिंग प्रोसेस को कम करें और साथ ही साथ आपको अपनी डाइट में विटामिन-सी आदि का प्रयोग भी करना चाहिए जो त्वचा में कसाव लाए। ये तो थी लाइफस्टाइल से जुड़ी समस्याएं लेकिन अगर आपके साथ ऐसा हो रहा है तो अपने स्किन केयर रूटीन में किन चीज़ों को शामिल किया जाए? 

    eye and wrinkles

    इसे जरूर पढ़ें- गर्मियों में नहाते समय इन 5 हैक्स से रखें अपनी स्किन का ख्याल 

    1. नारियल के तेल की मसाज-

    आपको सबसे पहला काम ये शुरू करना है कि अपनी आंखों के नीचे नारियल के तेल की मसाज करके ही सोना है। ऐसा क्यों?

    • नारियल के तेल में विटामिन-ई बहुतायत में होता है जो स्किन में कसाव लाता है।
    • नारियल के तेल में बहुत अच्छी एंटी-ऑक्सिडेंट्स की मात्रा होती है जो एजिंग प्रोसेस को धीमा करती है।
    • नारियल का तेल एलर्जीज से भी छुटकारा दिलाता है।
    • नारियल के तेल की मसाज लटकती हुई आईलिड्स में कसाव ला सकती है।  

    2. ग्रीन टी मास्क- 

    ग्रीन टी को कई रिसर्च एंटी-एजिंग फूड मानती हैं और सिर्फ यूज किया हुआ ठंडा टी-बैग आंखों के ऊपर रखने से ही बहुत फायदा मिल सकता है।  

    • आप ग्रीन टी और अनार के रस को मिलाकर आंखों के नीचे के एरिया की मसाज कर सकते हैं।
    • इसके बाद इसे सूखने दें और इसे रोज़ाना करें।
    • इससे डार्क सर्कल आदि की समस्या बहुत कम हो जाती है।
    • धीरे-धीरे आपका अंडर आई एरिया बेहतर होने लगेगा।  
    eye patch

    3. केले का करें इस्तेमाल- 

    केले को नेचुरल बोटॉक्स कहा जाता है और यकीनन ये सबसे बेस्ट साबित हो सकता है। अगर आप चाहें तो रोज़ाना इस पैक का इस्तेमाल पूरे चेहरे पर कर सकते हैं- 

    • एक ज्यादा पके हुए केले को अच्छे से मैश करें।
    • इसे अपनी आंखों के नीचे या पूरे चेहरे पर लगाएं।
    • 20-30 मिनट लगे रहने दें और फिर धो दें।
    • ध्यान रहे कि इसे ठंडे पानी से ही धोना है।  

    इसे जरूर पढ़ें- बालों को टूटने से बचाने और हेल्दी बनाए रखने के लिए ये 5 ऑयल्स हैं बेस्ट  

    4. मिल्क पाउडर फेस पैक- 

    मिल्क पाउडर में लैक्टिक एसिड होता है और ये सनबर्न या ऐसी ही समस्याओं के लिए अच्छा माना जाता है। आप इसका भी फेस पैक या सिर्फ आई पैक बना सकते हैं।  

    • मिल्क पाउडर और थोड़ा सा शहद और गुलाब जल को एक साथ मिलाकर लगाएं।
    • इसे सूखने तक चेहरे पर लगे रहने दें। 
    • इसके बाद ठंडे पानी से धो लें।  

    Recommended Video

    5. कैस्टर ऑयल मसाज- 

    ऑयल मसाज हमेशा स्किन के लिए अच्छा होता है और कैस्टर ऑयल में बहुत मात्रा में विटामिन-ई पाया जाता है। ये आपकी स्किन के लिए अच्छा है। आप चाहें तो ऐसे ही असर के लिए बादाम तेल में विटामिन-ई मिलाकर इस्तेमाल करें।  

    • रुई में थोड़ा सा कैस्टर ऑयल लेकर मसाज करें।
    • इसे रात भर वैसे ही लगे रहने दें।
    • सुबह हल्के हाथों से मसाज के साथ चेहरा साफ करें।  
    eye massage for wrinkles

    कुछ बातों का ध्यान हमेशा रखें- 

    आपको अंडर आई रिंकल्स हटाने के लिए कुछ बातों का ध्यान हमेशा रखना चाहिए- 

    • मसाज बहुत हल्के हाथों से करें आंखों के नीचे की स्किन नाजुक होती है और ये स्थिति खराब कर सकती है। 
    • रेटिनॉल के प्रयोग से फायदा होता है, लेकिन इसे डर्मेटोलॉजिस्ट से पूछकर ही लगाएं।
    • अंडर आई रिंकल्स को कम करने के लिए आप पीलिंग, बोटॉक्स, फिलर्स आदि का इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन इसके लिए पहले एक्सपर्ट से सलाह लें। 

    अगर आपकी स्किन सेंसिटिव है या जल्दी किसी भी चीज़ का रिएक्शन हो जाता है या फिर आप ऊपर दिए गए किसी इंग्रीडियंट से एलर्जिक हैं तो डॉक्टर की सलाह के बाद ही ये ट्रीटमेंट करें। 

    अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से। 

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।