झड़ते बाल एक ऐसी समस्‍या है जिससे पूरी दुनिया चिंतित रहती है और बालों के झड़ने को रोकने के लिए प्रोडक्‍ट्स को बेचने की इंडस्ट्री बहुत बड़ी है। हालांकि, कई लोगों ने अपनी पैतृक जड़ों की ओर वापस जाना शुरू कर दिया है और प्राकृतिक जड़ी-बूटियों और नुस्खों की मदद लेना शुरू कर दिया है जो बालों के झड़ने के लिए अत्यधिक प्रभावी थे। आयुर्वेद का मार्ग अपनाते हुए हम भी आपके लिए कुछ हेयर पैक लेकर आए हैं, जिन्हें बालों के झड़ने के लिए उपयोग किया जा सकता है।

आंवला, शिकाकाई और रीठा हेयर पैक

homemade ayurvedic hair masks for hair fall

सामग्री

  • आंवला जूस- 2 बड़े चम्मच 
  • शिकाकाई पाउडर- 1 बड़ा चम्मच
  • रीठा पाउडर- 1 बड़ा चम्मच 
  • शुद्ध गुलाब जल- 2 बड़े चम्मच

विधि

  • पेस्ट बनाने के लिए सभी सामग्री को मिलाएं।
  • इसे अपने बालों और स्कैल्प पर लगाएं।
  • इसे 30 मिनट तक बैठने दें।
  • इसे गुनगुने पानी से धो लें।
  • ऐसा हफ्ते में दो बार करें।

इसे जरूर पढ़ें: इन 10 दही के हेयर मास्‍क से बालों को सुंदर बनाएं

आंवला, शिकाकाई और रीठा ही क्‍यों? 

बालों के लिए आंवला के फायदे 

amla benefits for hair

आंवला रक्त को शुद्ध करता है और बालों को समय से पहले सफेद होने से रोककर बालों के प्राकृतिक रंग को बढ़ाता है। इसमें एंटीफंगल और एंटीवायरल गुण होते हैं, जो डैंड्रफ और अन्य फंगल संक्रमण को रोकते हैं और स्कैल्प के स्वास्थ्य में सुधार करते हैं।

हालांकि, अगर आप बालों के झड़ने की समस्या का सामना कर रही हैं, तो आप बालों के झड़ने को रोकने और अपने बालों के हेल्‍थ को बेहतर बनाने के लिए आंवले का इस्‍तेमाल कर सकती हैं।

बालों के लिए शिकाकाई के फायदे

सदियों से शिकाकाई बालों के लिए एक सुपर फ्रूट रहा है। सफाई के गुणों से भरपूर, यह विटामिन का भी एक समृद्ध स्रोत है जो बालों को पोषण देने और उन्हें हेल्‍दी रखने में मदद करता है।

शिकाकाई स्‍कैल्‍प के स्वास्थ्य को बहाल करके बालों के झड़ने को रोकने में मदद कर सकता है। अपने सिल्‍की क्‍लीजिंग प्रकृति के कारण, शिकाकाई आपके बालों को धीरे से सुलझाता है। इससे बालों का टूटना और झड़ना कम होता है।

बालों के लिए रीठा के फायदे

रीठा स्कैल्प से डैंड्रफ को हटाकर बालों के झड़ने को नियंत्रित करने में मदद करता है। आयुर्वेद के अनुसार बालों के झड़ने का प्रमुख कारण डैंड्रफ है। यह एक ऐसी स्थिति है जो स्‍कैल्‍प पर ड्राई त्वचा के गुच्छे द्वारा चिह्नित होती है। रीठा अपने त्रिदोष संतुलन गुण के कारण डैंड्रफ को नियंत्रित करने में मदद करती है और बालों के विकास को बढ़ावा देती है।

ब्राह्मी और अश्वगंधा हेयर मास्क

homemade ayurvedic hair masks for healthy hair

सामग्री 

  • ब्राह्मी पाउडर- 1 बड़ा चम्मच 
  • अश्वगंधा पाउडर- 1 बड़ा चम्मच 
  • दूध- आवश्‍यकतानुसार

विधि

  • इन तीनों चीजों को एक साथ मिलाकर ऐसा पेस्ट बना लें जो न ज्यादा गाढ़ा हो और न ज्यादा पतला।
  • इससे स्कैल्प पर मसाज करें और आधे घंटे के लिए छोड़ दें। 
  • फिर गुनगुने पानी से धो लें।
  • ऐसा हफ्ते में दो बार करें।

Recommended Video

ब्राह्मी और अश्वगंधा ही क्‍यों?

बालों के लिए ब्राह्मी के फायदे 

ब्राह्मी का पाउडर जड़ों को अच्छी तरह से पोषण देने में मदद करता है और जड़ों को मोटा करके बालों की ग्रोथ को तेज करता है। ब्राह्मी स्‍कैल्‍प को ठंडा रखने में भी मदद करती है और बालों के रोम को मजबूत करती है। यह खुजली और डैंड्रफ सहित ड्राई स्‍कैल्‍प की परेशानियों को हल करने में मदद करती है, क्योंकि यह स्‍कैल्‍प को अच्छी तरह से पोषण देती है।

ब्राह्मी स्‍कैल्‍प को कुशलता से पोषण दे सकती है और इसे हेल्‍दी बना सकती है। यह नमी से संबंधित किसी भी समस्या का ख्याल रखने के लिए इसमें पर्याप्त नमी भी लाता है, डैंड्रफ को काफी हद तक कम करता है।

बालों के लिए अश्वगंधा के फायदे

ashwagandha for hair

अश्वगंधा स्वस्थ बालों में योगदान कर सकता है क्योंकि इसमें एंटीऑक्सीडेंट और अमीनो एसिड होते हैं, जो स्कैल्प की जलन को कम करता है। साथ ही यह सूजन को कम करके, अश्वगंधा आपकी त्वचा की समग्र उपस्थिति में सुधार कर सकता है और यह डैंड्रफ और स्कैल्प की खुजली में भी मदद कर सकता है।

इसे जरूर पढ़ें: दोमुंहे बालों के लिए ये होममेड हेयर मास्क है बेहद फायदेमंद

अश्वगंधा का इस्तेमाल बालों को मजबूत बनाने के लिए भी किया जा सकता है। इसमें अमीनो एसिड और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो बालों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं क्योंकि यह बालों को टूटने से बचाता है।

इन 2 आयुर्वेदिक हेयर मास्‍क का इस्‍तेमाल करके आप भी अपने बालों को खूबसूरत बना सकती हैं। हालांकि यह मास्‍क पूरी तरह से नेचुरल चीजों से बने हैं और इनके कोई साइड इफेक्‍ट्स नहीं हैं लेकिन फिर भी इन्‍हें इस्‍तेमाल करने से पहले एक बार चेक जरूर कर लें। हर किसी के बाल आयुर्वेदिक हर्ब्‍स के प्रति अलग तरह से प्रतिक्रिया करते हैं। जरूरी नहीं, जो एक चीज किसी के बालों के लिए फायदेमंद हो दूसरे के लिए भी उतनी ही असरदार हो। 

यदि आपको किसी भी सामग्री से एलर्जी है, तो दूसरा प्रयास करें। हेल्‍दी डाइट का विकल्प चुनें और बालों की ग्रोथ में हेल्‍प के लिए कोई तनाव न लेने का प्रयास करें। आपको यह आर्टिकल कैसा लगा? हमें फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। ऐसी ही और जानकारी पाने के लिए हरजिंदगी से जुड़ी रहें।  

Image Credit: Freepik & Shutterstock.com