शरीर के अनचाहे बालों को हटाने के लिए लड़कियां आमतौर पर वैक्सिंग करवाती हैं। वैक्सिंग की प्रक्रिया थोड़ी दर्द भरी तो होती ही है, कई बार वैक्सिंग के बाद शरीर में दाने भी निकल आते हैं। ये दाने भले ही बहुत ज्यादा दर्द भरे न हों लेकिन ये दिखने में खराब लगते हैं और त्वचा की खूबसूरती में भी ग्रहण लगा देते हैं।

अगर आप ये सोचकर परेशान हैं कि इस समस्या से छुटकारा कैसे पाया जाए और क्या ये एक सामान्य प्रक्रिया है , तो इस लेख में हम आपके कुछ प्रश्नों का जवाब देंगे और कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में भी बताएंगे जिनसे वैक्सिंग के बाद निकलने वाले दानों से आसानी से छुटकारा पाया जा सके। मैंने ये नुस्खे स्वयं आजमाए हैं और मुझे इनसे तुरंत आराम भी मिला है। आप भी इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए इन्हें आजमा सकती हैं। 

क्या वैक्सिंग के बाद दानें सामान्य हैं ?

waxing bumps remedy

वैक्सिंग के बाद होने वाले दानों को देखकर आपके दिमाग में जो पहला विचार आता है, वह है, कि क्या वे सामान्य हैं?  इसका जवाब है हां,हालांकि वे हानिरहित हैं और कुछ दिनों में साफ हो जाते हैं। ज्यादातर, ये दाने छोटे आकार के होते हैं और दर्द रहित होते हैं, लेकिन जब ये किसी दर्दनाक चीज में बदल जाते हैं, तो इससे निपटना एक कठिन स्थिति भी हो सकती है। इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि बालों को वैक्स करने के तुरंत बाद या कुछ दिनों में दाने निकलते हैं। महत्त्वपूर्ण यह है कि उन्हें लंबे समय तक अनदेखा न किया जाए। यदि आपके ये दाने आसानी से न ठीक हों तो यहाँ बताए नुस्खे कारगर साबित हो सकते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:अनचाहे बालों को हटाने के लिए शेविंग से ज्यादा जरूरी है वैक्सिंग

क्यों होते हैं वैक्सिंग के बाद दाने 

waxing bump care

हमारे बाल त्वचा में बालों के रोम में रहते हैं। जब वैक्स किया जाता है तो ये बाल जोर से खींचे जाते हैं और इससे त्वचा पर दबाव पड़ता है। इसके लिए शरीर की मूल प्रतिक्रिया इस तनाव के अधीन साइट की सूजन को जन्म देती है, जो दानों के रूप में उभरकर सामने आती है। बालों के रोम की यह सूजन आमतौर पर एक या दो दिन में अपने आप कम हो जाती है। कभी-कभी, ये फॉलिकल्स संक्रमित हो सकते हैं और तरल से भरे दानों  का निर्माण कर सकते हैं। 

वैक्सिंग के दानों को कम करने के घरेलू नुस्खे 

कोल्ड कंप्रेस दें 

कोल्ड कंप्रेस लाल त्वचा को शांत करने और वैक्सिंग के बाद निकलने वाले दानों , जलन या सूजन की उपस्थिति को कम करने में बहुत अच्छा काम करता है। आप वैक्स की गई त्वचा पर सीधे आइस क्यूब की मालिश भी कर सकती हैं। यदि आप बर्फ की सनसनी को सहन नहीं कर सकती हैं, तो बर्फ के टुकड़े को स्पंज पफ पर पिघलने दें और फिर इससे अपनी त्वचा पर लगाएं। ऐसा करने से वैक्सिंग के बाद निकले दानों से राहत मिलेगी। 

चीनी का स्क्रब

sugar scrub remedy

एक साधारण होममेड शुगर स्क्रब जलन को शांत करने और अंतर्वर्धित दानों को बनने से रोकने में मदद कर सकता है। इस स्क्रब को घर पर बनाने के लिए आधा कप चीनी में आधा कप नारियल या जैतून का तेल मिलाएं। प्रभावित क्षेत्र पर थोड़ी मात्रा में लगाएं और धीरे से गोलाकार गति में स्क्रब करें। इस स्क्रब का इस्तेमाल रोज़ न करके हर दूसरे दिन करें। ऐसा करने से इस समस्या से बहुत जल्द ही छुटकारा मिलता है। आप बाजार में मिलने वाले शुगर स्क्रब का इस्तेमाल भी कर सकती हैं। 

एलोवेरा जेल का इस्तेमाल 

apply aloe vera gel

वैक्सिंग के बाद निकले दानों में एलो वेरा जेल अप्लाई करना सबसे अच्छा विकल्प होता है। एलोवेरा जेल का इस्तेमाल आप वैक्सिंग के तुरंत बाद कर सकती हैं क्योंकि इसका त्वचा पर कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होता है। यदि आपके पास एलोवेरा का पौधा है, तो इसके लाभों का आनंद लेने के लिए इसके पत्ते का एक टुकड़ा तोड़कर त्वचा पर रगड़ें। इसके लिए पत्ती से निकलने वाले जेल को सीधे प्रभावित क्षेत्र पर निचोड़ें और सूजन को शांत करने के लिए इसे अपनी त्वचा में धीरे से मालिश करें। आप बाजार में मिलने वाले एलोवेरा जेल का इस्तेमाल भी कर सकती हैं। एलोवेरा जेल को रात भर त्वचा में लगाए रखें और सुबह पानी से धो लें। 

इसे जरूर पढ़ें:घर पर करना चाहती हैं वैक्सिंग तो इन बातों का रखें ध्यान, नहीं होगा कोई नुकसान

Recommended Video

टी ट्री ऑयल 

टी ट्री ऑयल वैक्स की गई त्वचा की जलन और दानों को शांत करने में मदद करता है। वैक्सिंग के बाद पहले या दो दिनों में तेल के रोमछिद्र बंद होने की संभावना अधिक होती है, इसलिए इस उपाय को एक दो दिन के बाद आजमाएं। इसके लिए आपको टी ट्री एसेंशियल ऑयल (टी ट्री एसेंशियल ऑयल के फायदे) को अपनी त्वचा पर लगाने से पहले जैतून या नारियल तेल के साथ पतला करना है । टी ट्री ऑयल की हर 1 बूंद में कैरियर ऑयल की 10 बूंदें मिलाएं और वैक्सिंग की गयी त्वचा पर अप्लाई करें। लेकिन ध्यान रखें कि किसी भी तरह के साइड इफ़ेक्ट से बचने के लिए पैच टेस्ट जरूर कर लें। 

ऐप्पल साइडर विनेगर 

apple cider vinegar waxing

ऐप्पल साइडर विनेगर एक और प्राकृतिक एंटीसेप्टिक के रूप में काम करता है। वैक्सिंग के बाद दानों को कम करने के लिए 1 चम्मच एप्पल साइडर विनेगर में एक चम्मच पानी मिलाएं और इस मिश्रण में कॉटन पैड भिगोएं और इसे सूजन वाले स्थान पर दिन में तीन बार लगायें ताकि उपचार में तेजी आये और त्वचा के संक्रमण को रोका जा सके। 

इसे जरूर पढ़ें:Personal Experience: त्वचा पर मुल्तानी मिट्टी का ज्यादा इस्तेमाल हो सकता है नुकसानदेह, जानें कैसे

ये सभी घरेलू उपाय पूरी तरह से प्राकृतिक हैं और मैंने स्वयं इन्हें आजमाया है ,लेकिन सभी की त्वचा अलग प्रकार की होती है इसलिए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले पैच टेस्ट जरूर करें या त्वचा विशेषज्ञ की सलाह जरूर लें। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik