त्वचा तेल और पानी के इमल्शन के रूप में नमी को अवशोषित करती है। यह पानी या तेल को अपने आप अवशोषित नहीं कर सकती है। इसलिए मॉइश्चराइजर मूल रूप से तेल और पानी का इमल्शन होता है। मॉइश्चराइजर लिक्विड या क्रीमी से लेकर लाइट और फ्लेक्सिबल मॉइश्चरराइजिंग लोशन से लेकर गाढ़े मॉइश्चराइजिंग क्रीम तक में उपलब्ध होते हैं। 

30 की उम्र के बाद त्‍वचा नमी खाने लगती है इसलिए हमें अपनी त्वचा को ड्राईनेस से बचाना शुरू करना चाहिए, खासकर ठंडी और ड्राई सर्दियों के दौरान। अपने डेली रूटीन में त्वचा को मॉइश्चराइज करने और नमी की कमी को रोकने पर अधिक जोर देना चाहिए। 

face moisturiser for  plus expert

त्वचा को उन कारकों से बचाना शुरू करें जो ड्राईनेस का कारण बनते हैं, जैसे सूर्य के संपर्क में आना। सनस्क्रीन में बिल्ट-इन मॉइश्चराइजर होते हैं, इसलिए ऐसे सनस्‍क्रीन का इस्‍तेमाल करें। अपनी स्किन टाइप के अनुसार अपने मॉइश्चराइजर का चयन करें। इसके अलावा, कई ऐसे प्राकृतिक तत्व है जो त्वचा को मॉइश्चराइज करने में आपकी मदद कर सकते हैं। ऐसे ही 2 नेचुरल मॉइश्चराइजर के बारे में हमें ब्‍यूटी एक्‍सपर्ट शहनाज हुसैन जी बता रही हैं।

शहद है अद्भुत मॉइश्चराइजर

honey moisturiser for  plus women

शहद एक शक्तिशाली नेचुरल मॉइश्चराइजर है। यह सभी प्रकार की त्वचा के लिए उपयुक्त होता है। यह त्वचा में नमी खींचता है और नमी बनाए रखने की त्वचा की प्राकृतिक क्षमता में भी सुधार करता है। दूसरे शब्दों में, यह नमी में सील करने में मदद करता है और इस प्रकार त्वचा को शक्तिशाली रूप से हाइड्रेट करता है। 

यह ड्राईनेस को दूर करता है, त्वचा को कोमल और मुलायम बनाता है। यह त्वचा को टोन और टाइट भी करता है, जिससे आपको फ्रेश और चमकदार त्‍वचा मिलती है।

इसे जरूर पढ़ें:40+ महिलाओं के लिए बेस्‍ट हो सकते हैं ये 5 फेस मॉइश्चराइजर

विधि

30 से अधिक उम्र की महिलाएं, 1/2 चम्मच शहद, 1 चम्मच गुलाब जल और 1 चम्मच ड्राई मिल्‍क पाउडर को मिलाएं। इसे अच्‍छी तरह से मिलाकर पेस्ट बना लें और चेहरे पर लगाएं। 20 मिनट बाद पानी से धो लें। फिर चेहरे पर शहद लगाएं और 20 मिनट के बाद सादे पानी से धो लें। त्वचा को कोमल और जवां बनाए रखने के लिए सप्ताह में दो बार फेस मास्क लगाएं।

एलोवेरा जेल भी करता है जादू

aloe vera moisturiser for  plus women

एलोवेरा जेल भी एक शक्तिशाली नेचुरल मॉइश्चराइजर है और नमी की कमी को दूर करता है। यह डेड स्किन सेल्‍स को भी नरम करता है और उन्हें हटाने में मदद करता है, जिससे त्वचा स्‍मूथ और ब्राइट हो जाती है। 

यह विटामिन ए, सी, ई, और बी 12 से भरपूर होता है, जो फ्री रेडिकल्‍स से होने वाले नुकसान को कम करने में मदद करता है। इसमें सूजन कम करने वाले एंजाइम भी होते हैं। लेकिन ज्यादातर लोग इसे पसंद करते हैं क्योंकि यह त्वचा में कितनी आसानी से डूब जाता है (ऐसा पानी की अधिक मात्रा के कारण होने की से होता है। जेल में लगभग 90% पानी होता है)।

Recommended Video

विधि

30 से अधिक उम्र की महिलाओं के लिए, यह अपने एंटीऑक्सीडेंट गुणों के कारण उम्र बढ़ने के संकेतों को कम करती है। एलोवेरा जेल को रोजाना चेहरे पर लगाकर 20 मिनट बाद सादे पानी से धो लें। यह त्वचा को मुलायम और मॉइश्चराइज करने में मदद करता है। वास्तव में, नियमित रूप से उपयोग किया जाता है, यह त्वचा के युवा गुणों को बहाल करने में मदद करता है और हेल्‍दी ग्‍लो देता है। 

इसे जरूर पढ़ें: मॉइस्चराइजर vs सीरम: जानिए आपकी स्किन के लिए क्या है बेहतर

30 की उम्र के बाद आपको भी अपने स्किन केयर रूटीन में इन 2 नेचुरल मॉइश्चराइजर को शामिल करना चाहिए। हालांकि, यह दोनों चीजें नेचुरल हैं लेकिन फिर भी इसे इस्‍तेमाल करने से पहले एक बार पैच टेस्‍ट जरूर कर लें। ऐसा इसलिए क्‍योंकि हर किसी की त्‍वचा नेचुरल चीजों के प्रति अलग तरह से प्रतिक्रिया करती हैं।