सर्दियां शुरू हो गई हैं और इस वक्त जो सबसे बड़ी समस्या हमें समझ आती है वो है बालों का फ्रिज़ी हो जाना। सर्दियों की रूखी हवा के कारण बालों में शाइन भी नहीं रहती है और साथ ही साथ इनके डैमेज होने की गुंजाइश ज्यादा होती है। ऐसे समय में सलाह दी जाती है कि आप थोड़े माइल्ड शैम्पू का इस्तेमाल करें। पर अब सवाल ये उठता है कि आखिर कौन सा शैम्पू इस काम के लिए सबसे बेस्ट होगा। 

वैसे तो मार्केट में ऐसे कई शैम्पू मौजूद हैं, लेकिन आप कौन सा लेते हैं इसके लिए रिसर्च करना जरूरी है। मैंने अतुल्य हर्बल का शैम्पू खरीदा और उसे ट्राई किया। क्या ये शैम्पू वाकई वैसा है जैसा दावा किया जा रहा है ये जानने के लिए पढ़ें पूरी स्टोरी। 

दावा-  

  • इस शैम्पू को लेकर ये दावा किया जाता है कि इससे ज्यादा नॉरिशमेंट मिलता है। 
  • बालों को आसानी सो साफ किया जा सकता है और ये बालों के क्यूटिकल्स को भी पोषण देता है। 
  • इसमें गुड़हल का फूल मुख्य इंग्रीडिएंट है और उसके साथ कलौंजी का इस्तेमाल किया गया है। 
shampoo and herbal conditioner

इसे जरूर पढ़ें- हेयर एक्सपर्ट जावेद हबीब से जानें बहुत पतले बालों में कैसे करें हेयर स्टाइलिंग

पैकेजिंग-   

पैकेजिंग सिंपल है और ट्रांसपेरेंट रैप के साथ ये बॉटल आती है। बॉटल पंप के साथ आती है जिससे आप एक्स्ट्रा प्रोडक्ट ना निकालें। ऊपर कोई अलग डिब्बा नहीं है बल्कि सीधे शैम्पू की बोतल है और कंपनी के स्टिकर के साथ बोतल पर ही इसके इंग्रीडिएंट्स भी दिए गए हैं। 

herbal shampoo atulya

टेक्सचर-   

ये शैम्पू ट्रांसलूसेंट रंग का है और इसे निकालने पर ये भीनी खुशबू का अहसास देता है। बहुत ज्यादा खुशबू ना होने के कारण ये अच्छा लग सकता है। ये क्रीमी नहीं जैल वाली कंसिस्टेंसी के साथ आता है और इसमें पैराबेन और सल्फेट नहीं है जिससे ये कहा जा सकता है कि ये माइल्ड शैम्पू है। 

हां, अगर आपने हेयर ऑयलिंग कर रखी है तो हो सकता है कि शैम्पू थोड़ा ज्यादा लगे। 

shampoo atulya herbal

कीमत-

300 मिली बॉटल की कीमत 499 रुपए है। ये मिड रेंज की कीमत वाला शैम्पू है और इस हिसाब से देखा जाए तो ये बजट में आ सकता है। 

फायदे-     

  • इस शैम्पू में पैराफिन, सल्फेट जैसे केमिकल्स नहीं हैं और ये माइल्ड शैम्पू है। 
  • इससे स्कैल्प ठीक तरह से क्लीन हो रहा है, लेकिन अगर आपने ऑयलिंग की है तो दो बार धोना होगा। 
  • ये सर्दियों के लिए अच्छा है 

इसे जरूर पढ़ें- सर्दियों में नहाने से जुड़े ये नियम जान लेंगी तो नहीं होगी परेशानी 

नुकसान- 

  • बालों के टेक्सचर पर बहुत ज्यादा असर नहीं पड़ा और वो जैसे थे वैसे ही रहे। 
  • ऑयल लगाने के बाद आपको शैम्पू कम से कम दो बार इस्तेमाल करना होगा। 
  • डैंड्रफ और हेयर फॉल पर कोई असर नहीं होता है।  

मेरा एक्सपीरियंस-      

ये शैम्पू ना तो बहुत अच्छा है और ना ही बुरा। हां, अगर आप इसे रेगुलर इस्तेमाल करने लगें तो ये फायदा पहुंचा सकता है। अगर आपके बाल केमिकली ट्रीटेड हैं तब भी इसका फायदा ही होगा। इसकी सबसे अच्छी बात यही है कि ये माइल्ड शैम्पू है और हां, फ्रिज़ को कुछ हद तक कंट्रोल कर सकता है।  

आप इसे लेकर खुद ट्राई कर सकता है जिससे आपको अपना एक्सपीरियंस समझ आए। एक बार ट्राई करने के हिसाब से ये बुरा नहीं है।  

Recommended Video

स्टार रेटिंग- 

3/5 

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।