Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    हिंदू शादियों में हमेशा दुल्हन दूल्हे के बाईं ओर ही क्यों बैठती है? जानें कारण

    शादी की रस्मों के दौरान हमेशा दुल्हन दूल्हे के बाएं हिस्से की ओर ही बैठती है। आइए जानें इसके पीछे के धार्मिक कारणों के बारे में।   
    author-profile
    Updated at - 2022-12-06,15:32 IST
    Next
    Article
    hindu wedding why bride sits on the left side of groom

    हिंदू शादियों में कई ऐसी रस्में हैं जिनका पालन सदियों से किया जा रहा है। ऐसा माना जाता है कि विवाह से जुड़ी किसी भी रस्म का पालन करना जीवन में सौभाग्य लाने में मदद करता है। शादी में सिक्के से दुल्हन की मांग भरने से लेकर, विदाई के समय चावल उछालने तक कई ऐसे रीति रिवाज हैं जिनका पालन हम करते चले आ रहे हैं और जो हमारे जीवन में समृद्दि लाते हैं।

    कई रीति रिवाजों के साथ कुछ प्रथाएं भी हैं जिनका पालन भी धर्म शास्त्रों के अनुसार अनिवार्य माना जाता है। ऐसी ही एक प्रथा है  शादी की सभी रस्मों के दौरान दुल्हन का दूल्हे के बाईं ओर बैठना।

    ऐसा माना जाता है कि यदि दुल्हन शादी के पूजन या हवन के दौरान दूल्हे के बाईं ओर ही बैठती है तभी शादी सही तरीके से पूर्ण मानी जाती है। हमने इस रस्म के बारे में गहराई से जानने के लिए नारद संचार के ज्योतिष अनिल जैन जी से बात की आइए जानें इसके पीछे के ज्योतिषीय कारणों के बारे में। 

    प्राचीन काल से चली आ रही है ये प्रथा 

    hindu wedding why women sit on left of men

    ऐसी मान्यता है कि विवाहों के कई प्रकार होते हैं। जैसे ब्रह्म विवाह, देव विवाह, अर्श विवाह, प्रजापत्य विवाह, गंदर्भ विवाह, असुर विवाह आदि। प्राचीन काल में जब विवाह होते थे तो कई बार असुर विवाह होते थे जिसमें कई तरह के असुर विवाह में बाधाएं उत्पन्न करते थे इसलिए दूल्हे अपनी दाहिनी तरफ अस्त्र शस्त्र रखते थे जिससे अपनी सुरक्षा कर सकें। इसलिए दुल्हन को बाईं तरफ बैठाया जाता था। उसी समय से ये प्रथा चली आ रही है जिसका पालन आज भी किया जाता है और विवाह के दौरान दुल्हन हमेशा बाईं तरफ ही बैठती है। 

    इसे जरूर पढ़ें: Shubh Vivah Muhurat 2023 : इस साल शादी के लिए कौन सी तिथियां हैं शुभ? पंडित जी से जानें

    Recommended Video


    व्यक्ति का ह्रदय बाईं ओर होता है 

    ऐसी मान्यता है कि यदि दुल्हन शादी के दौरान दूल्हे (क्यों किया जाता है दूल्हे और दुल्हन का गठबंधन) के बाएं हाथ की तरफ बैठती है तो हमेशा पति के ह्रदय के करीब रहती है। इसी वजह से सदियों से यह परंपरा चली आ रही है जिससे दूल्हे और दुल्हन के बीच प्रेम संबंध हमेशा के लिए अच्छे बने रहें और उनके बीच किसी तरह की लड़ाई न हो और सामंजस्य बना रहे। 

    बाएं हाथ को प्रेम का प्रतीक माना जाता है 

    bride sit on left of groom

    हमेशा से ही दाहिने हाथ को शक्ति और कर्तव्यों का प्रतीक माना जाता रहा है, इसी वजह से सभी काम दाहिने हाथ से किए जाते हैं, वहीं बाएं हाथ को हमेशा प्रेम और सौहार्द्र का प्रतीक माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि यदि शादी के दौरान दुल्हन बाईं तरफ बैठती है तो वर और वधु के बीच सदैव प्रेम भाव बना रहता है।

    इसी वजह से वैवाहिक जीवन को प्रेम का प्रतीक बनाने के लिए यह प्रथा आज भी चली आ रही है। इसके साथ ही, शास्त्रों के अनुसार पत्नी को वामांगिनी माना जाता है और उसे सदैव पति के बाईं तरफ ही रहने की सलाह दी जाती है। विवाह के मंडप में दूल्हे और दुल्हन अग्नि के साक्षी बनकर हमेशा के लिए एक दूसरे के हो जाते हैं इस वजह से इस प्रथा का अनुसरण किया जाता है। 

    इसे जरूर पढ़ें: ज्यादातर हिन्दू शादियां रात में ही क्यों होती हैं? जानें ज्योतिषीय कारण

    भगवान विष्णु के बाईं तरफ बैठती हैं माता लक्ष्मी 

    where the groom and bride sit on wedding

    यदि हम शास्त्रों की मानें तो माता लक्ष्मी सदैव भगवान विष्णु के बाईं तरफ ही बैठती हैं। विवाह के दौरान दुल्हन को माता लक्ष्मी का रूप माना जाता है और दूल्हे को विष्णु जी का रूप माना जाता है। इसी वजह से दुल्हन का बाईं ओर बैठकर विवाह की सभी रस्में निभाना दोनों के रिश्तों के लिए उत्तम माना जाता है। 

    माता लक्ष्मी को सुख समृद्धि का प्रतीक माना गया है, इसी वजह से दुल्हन के आगमन से हमेशा खुशहाली बनी रहती है। यदि कुंडली की बात करें तो इसमें सातवां भाव हमेशा शादी का होता है। नवां भाव भाग्य का माना जाता है और ग्यारहवां भाग प्राप्ति का प्रतीक होता है। इसी वजह से दुल्हन के प्रवेश से भाग्य का उदय होता है और जिससे शुभ लाभ की प्राप्ति होती है। 

    इस प्रकार यदि दुल्हन लक्ष्मी जी के समान ही दूल्हे के बाएं भाग की तरफ बैठती है तो हमेशा घर में सुख समृद्धि बनी रहती है और वैवाहिक जीवन सुखमय होता है। 

    आपको यह स्टोरी कैसी लगी हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं। अगर आपको स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

    Image Credit: unsplash.com, freepik.com 

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।