• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

17 की उम्र में शादी और 26 में हत्या, जानें पाकिस्तान की किम कार्दशियन कंदील बलोच के बारे में

पाकिस्तान की पहली सोशल मीडिया स्टार कंदील बलोच की कहानी बहुत दर्दनाक रही। अपने ही परिवार वालों ने उन्हें मार दिया। 
author-profile
Published -29 Jun 2022, 17:09 ISTUpdated -29 Jun 2022, 17:15 IST
Next
Article
who was qandeel baloch from pakistan

इन दिनों फिर से कंदील बलोच का नाम मीडिया में छाया हुआ है। पूर्व पाकिस्तानी सोशल मीडिया सेंसेशन कंदील बलोच के ऊपर एक धारावाहिक 'बागी' में सबा कमर काम करेंगी। सबा कमर को आप इरफान खान की फिल्म 'हिंदी मीडियम' से जानते होंगे। इस शो में ये बताया जाएगा कि आखिर उनकी हत्या कैसे हुई और क्यों कंदील बलोच का नाम इतना फेमस था। 

इस टीवी धारावाहिक में उनकी जिंदगी के कई पहलुओं को बताया जाएगा। पर क्या आप जानते हैं कि आखिर कंदील बलोच कौन थीं जिन्हें लेकर इतना कुछ बोला जा रहा है। 

आखिर क्यों बेदर्दी से उनके ही भाई ने उनका कत्ल कर दिया था। कंदील की जिंदगी क्यों इतनी मुश्किल कर दी गई कि उन्हें अपने पति के घर से ही भागना पड़ा? आज हम आपको बताने जा रहे हैं कंदील बलोच के बारे में। 

qandeel baloch story

इसे जरूर पढ़ें- पत्नियां ध्यान दें! इन कारणों के चलते पति गिल्ट-फ्री होकर आप पर उठा सकता है हाथ

कौन थीं कंदील बलोच?

कंदील को अधिकतर पाकिस्तान की किम कार्दशियन बोला जाता था। वो एक सोशल मीडिया सेंसेशन थीं जिन्होंने अपने वीडियोज के जरिए पाकिस्तान में लोकप्रियता हासिल की थी। कंदील शुरुआत से बहुत ही रूढ़ीवादी घराने में पली-बढ़ी थीं और उनकी शादी भी नाबालिग उम्र में कर दी गई थी। कंदील दुनिया की उन करोड़ों महिलाओं में से एक थीं जिन्हें घरेलू हिंसा का सामना करना पड़ा था। कंदील अपने दम पर स्टार बनी थीं और उनकी हत्या भी सिर्फ इसलिए कर दी गई क्योंकि वो एक महिला थीं। 

17 की उम्र में शादी और फिर परेशानियां-

कंदील की शादी उसके घर वालों ने 17 साल की उम्र में ही कर दी थी। 1 मार्च 1990 को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के एक छोटे से जिले में हुआ था। कंदील एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखती थी जिनके 6 भाई और 2 बहनें भी थीं। वो शुरुआत से ही पढ़ाई में दिलचस्पी लेती थीं और आगे कुछ करना चाहती थीं, लेकिन 2008 में महज 17 साल की उम्र में उनकी शादी एक स्थानीय व्यक्ति आशिक हुसैन से कर दी गई। 

qandeel baloch and her story

कंदील की जिंदगी जैसे तबाह हो गई क्योंकि उन्हें घरेलू हिंसा झेलनी पड़ती थी। उनका 1 बेटा भी था जिसे वो पालना चाहती थीं। कंदील शादी के दो साल बाद ही भागकर कराची आ गईं। 

नाम बदलकर ऐसे बन गईं पाकिस्तान की पहली सोशल मीडिया स्टार- 

अभी तक हम कंदील बलोच की बात कर रहे हैं जिन्हें पूरी दुनिया इसी नाम से जानती थी, लेकिन बहुत ही कम लोगों को ये पता था कि कंदील का असली नाम फौज़िया अज़ीम था। उन्होंने खुद को सपोर्ट करने के लिए बस होस्टेस का काम करना शुरू कर दिया और उसके बाद उन्होंने सोशल मीडिया में करियर बनाना शुरू किया। उनकी पहली वायरल क्लिप थी पाकिस्तानी आइडल में गाने की क्लिप जिसमें उनका मज़ाक उड़ाया गया था, लेकिन इस क्लिप से उन्हें इतनी लोकप्रियता मिली कि वो वीडियोज बनाकर फेमस हो गईं। वो अपनी तस्वीरें और वीडियोज शेयर करती थीं जिसे पाकिस्तान में खूब पसंद किया गया। उन्होंने अपनी आवाज बदलकर केचफ्रेज डालने शुरू किए जैसे, 'मेरे सिर में पेन हो रहा है' आदि। ये इतने फेमस हुए कि डबस्मैश में उनकी आवाज भी रिकॉर्ड की गई और उनकी क्लिप्स वायरल होने लगीं।  

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Niche Lifestyle (@nichelifestyle)

 

वो पाकिस्तानी महिलाओं के लिए भी वीडियो बनाया करती थीं जिसमें महिलाओं की पोजीशन और उनके साथ होने वाली समस्याओं की बात की जाती थी। अपनी मौत के एक हफ्ते पहले उन्होंने एक म्यूजिक वीडियो 'Ban' रिलीज किया था जिसमें पाकिस्तान में किस तरह महिलाओं को बेसिक चीज़ें करने की मनाही होती है ये सारी बातें थीं।  

क्रिकेट टीम के लिए उन्होंने स्ट्रिप करने की बात भी कही थी और इसलिए उन्हें हिंदुस्तानी पूनम पांडे से जोड़कर देखा जाता था।  

pakistani social media star

इसे जरूर पढ़ें- Women Safety: घरेलू हिंसा कानून के तहत महिलाएं किस तरह की मदद पा सकती हैं, एक्सपर्ट से जानिए 

आखिर क्यों कर दी गई थी कंदील की हत्या? 

उनकी लाइफस्टाइल और लोकप्रियता के बाद उनके परिवार से ही उन्हें धमकियां मिल रही थीं। कंदील ने पाकिस्तान के एक सीनियर मौलवी मुफ्ती अब्दुल कावी से मुलाकात की थी ताकि वो अपने धर्म के बारे में सीखें। इस मुलाकात में उन दोनों की कुछ तस्वीरें वायरल हो गईं और उसके बाद से ही कंदील को हत्या की धमकियां मिलने लगीं। मौलवी को सस्पेंड कर दिया गया और कंदील ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बारे में बताया कि उनकी जान को खतरा है।  

कंदील ने मदद की गुहार भी लगाई, लेकिन पुलिस की कोई मदद ना मिली। कंदील ने अपनी मौत से एक दो दिन पहले एक्सप्रेस ट्रिब्यून के रिपोर्टर को कहा था कि उन्हें मौत का डर है और वो अपने माता-पिता के साथ ईद के बाद पाकिस्तान से शिफ्ट होने के बारे में सोच रही हैं।  

15 जुलाई 2016 को कंदील के अपने ही भाई ने उन्हें नशे की दवा देकर गला दबाकर मार डाला। कंदील नींद में थी और अपने माता-पिता के घर मुल्तान में थीं। कंदील के शरीर पर कई चोट के निशान थे और सिगरेट से उनके हाथ जले हुए थे।  

कंदील को सिर्फ इसलिए मार दिया गया क्योंकि उनके भाइयों को लगता था कि वो परिवार की इज्जत पर दाग लगा रही हैं। कंदील के भाई को 2019 में माफी दे दी गई क्योंकि उसे परिवार की माफी मिल गई थी।  

पाकिस्तान में इस तरह की हॉनर किलिंग के कारण ना जाने कितनी ही महिलाएं हर साल मारी जाती हैं और उनके हत्यारों को सज़ा भी नहीं मिलती क्योंकि पाकिस्तान का कानून कहता है कि अगर किसी को विक्टिम के परिवार से माफी मिल जाए तो उसे सज़ा नहीं होनी चाहिए। माफी अधिकतर मामलों में मिल जाती है क्योंकि हत्यारे परिवार में ही छुपे होते हैं।  

कंदील की कहानी अब छोटे पर्दे पर दिखेगी। उम्मीद है कि कंदील को कभी इंसाफ मिल पाएगा। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से। 

 
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।