• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

तुलसी को किस रंग की चुनरी अर्पित करनी चाहिए, पंडित जी से जानें

तुलसी की पूजा के दौरान यदि आप भी उन्हें वस्त्र अर्पित कर रही हैं, तो पहले जान लें इसके मुख्य नियम। 
author-profile
Published -17 Jun 2022, 13:44 ISTUpdated -17 Jun 2022, 13:53 IST
Next
Article
tulsi plant puja rules hindi

तुलसी के पौधे को हिंदू धर्म में बहुत ही पवित्र माना गया है और इसलिए हर हिंदू घर में तुलसी का पौधा पाया जाता है। तुलसी के पौधे की पूजा होती है और जिस प्रकार से हम अपने देवी-देवताओं को भोग, वस्त्र और पूजा सामग्री अर्पित करते हैं। ठीक उसी प्रकार से तुलसी को भी देवी लक्ष्मी का स्वरूप माना गया है और इस वजह से उन्हें भी वस्त्र और भोग अर्पित किया जाता है। 

आमतौर पर लोगों की धारणा है कि देवी लक्ष्मी का स्वरूप होने के कारण देवी तुलसी को लाल रंग की ओढ़नी अर्पित की जानी चाहिए, मगर ज्‍योतिष शास्‍त्र में इस विषय पर विस्तार से बात की गई और बताया गया है कि देवी तुलसी को वस्त्र अर्पित करते वक्त किन नियमों का पालन होना चाहिए। हमने भी इस विषय पर ज्योतिषाचार्य विनोद सोनी जी से बात की है। 

पंडित जी कहते हैं, 'ज्‍योतिष शास्‍त्र में सब कुछ ग्रहों के मुताबिक होता है। इसलिए किस देवी-देवता को क्या भोग अर्पित किया जाएगा या फिर उन्हें वस्त्र कैसे अर्पित करें, यह भी ग्रहों पर ही निर्भर करता है।' 

इसे जरूर पढ़ें: घर पर तुलसी का पौधा लगाते वक्त रखें इन 20 बातों का ध्यान, हो जाएंगे मालामाल

Tulsi At Home

तुलसी किस ग्रह का है प्रतीक?

तुलसी की पत्तियों का रंग हरा होता है और हरा रंग बुध ग्रह (ग्रहों की शांति के लिए भोजन )का प्रतिनिधित्व करता है। ऐसे में कई घरों में तुलसी पर लाल रंग का वस्त्र चढ़ाया जाता है, जो ज्‍योतिष शास्‍त्र के लिहाज से गलत है। लाल रंग मंगल का प्रतिनिधित्व करता है। ऐसे में लाल रंग की चुनरी या लहंगा तुलसी माता को अर्पित करना ठीक नहीं है। 

क्‍यों नहीं तुलसी को चढ़ानी चाहिए लाल रंग की चुनरी?

दरअसल, ज्‍योतिष शास्‍त्र में मित्र ग्रह और शत्रु ग्रह की बात की गई है। बुध और मंगल एक दूसरे के शत्रु हैं और इसलिए कभी भी तुलसी पर लाल रंग की चुनरी नहीं चढ़ानी चाहिए। ऐसा करने पर आपको धन की हानि एवं घर पर किसी महिला सदस्‍य की सेहत का नुकसान सहन करना पड़ सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें: तुलसी की पत्‍ती तोड़ने से पहले पढ़ लें ये नियम

which colour chunri offer to tulsi plant

किस रंग चुनरी देवी तुलसी को अर्पित की जानी चाहिए?

बुध ग्रह का प्रतिनिधित्व करने वाली तुलसी पर हरी रंग की चुनरी चढ़ाई जा सकती है। इसके साथ ही बुध के मित्र ग्रह शनि और शुक्र हैं। शनि को नीला रंग अति प्रिय होता है और शुक्र ग्रह का प्रतिनिधित्व सफेद रंग करता है। तुलसी को देवी लक्ष्‍मी और का स्वरूप माना गया है और वृंदा के अवतार में देवी तुलसी का विवाह श्री विष्णु के अवतार श्री कृष्ण से हुआ था। श्री कृष्ण का रंग सांवला था और इसलिए उन्‍हें श्याम भी कहा गया। आप चाहें तो तुलसी को काले रंग की चुनरी भी उढ़ा सकती हैं क्योंकि यह श्री कृष्ण के रंग को भी दर्शाती है। 

किस दिन तुलसी को वस्त्र अर्पित करें?

रविवार और एकादशी का दिन छोड़ कर आप किसी भी दिन सुबह के समय तुलसी को वस्त्र अर्पित कर सकते हैं। इस बात का ध्यान रखें कि शाम या रात के वक्त तुलसी को वस्त्र अर्पित न करें। 

उम्‍मीद है कि आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा। इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करें। इसी तरह और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।  

Image Credit: shutterstock
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।