• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

इस गोल्ड स्कीम में निवेश करने पर मिलेगा कितना फायदा

सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड स्कीम में निवेश करने से आपको क्या फायदा होगा इसे जानने के लिए यह लेख जरूर पढ़ें। 
author-profile
Published -08 Sep 2022, 13:59 ISTUpdated -11 Sep 2022, 15:25 IST
Next
Article
benefits of sovereign gold bond scheme

सोने में निवेश करना ज्यादातर भारतीयों की पहली पसंद होती हो। आप अक्सर यह सोचते होंगे कि कैसे आप गोल्ड स्कीम में निवेश करके अच्छा फायदा कमा सकते है। आपको बता दें कि सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड स्कीम से आप डिजिटल फॉर्म में गोल्ड में निवेश कर सकते हैं।

इसकी पहली सीरीज के बाद आरबीआई ने सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड स्कीम की नई सीरीज शुरू की है। इसमें कम से कम 5147 रुपये प्रति एक ग्राम का निवेश किया जा सकता है।

 

सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड स्कीम क्या होती है?

gold scheme benefits

सबसे पहले आपको बता दें कि सरकार ने साल 2015 में सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड (एसजीबी) शुरू किया था। आपको गोल्ड ज्वैलरी, गोल्ड बिस्किट या सिक्के खरीदने की कोई जरूरत नहीं होगी। रिजर्व बैंक ने सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की हर किस्त के लिए इश्यू प्राइस प्रति ग्राम तय किया हुई है।

ऑनलाइन खरीद करने पर आपको 50 रुपये प्रति गाम की छूट भी मिलती है। आप सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से खरीद सकते हैं।

आपको बता दें कि स्टॉक होल्डिंग कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड , नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड और बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज लिमिटेड के जरिए बॉन्ड बेचे जाएंगे। 

 इसे भी पढ़ें- Jewellery Tips : 40 साल से ऊपर की महिलाएं ज्वेलरी चुनते समय रखें इन बातों का ख्याल,दिखेंगी लाजवाब

क्या मिलेगा फायदा? 

1)आपको सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश करने पर गारंटीड रिटर्न मिलता है। इसमें अगर आप निवेश करते हैं तो 2.5 प्रतिशत हर साल ब्याज मिलता है। 

2)सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड के लिए नकद भुगतान भरने के लिए आप डिमांड ड्राफ्ट,चेक या ई- बैंकिंग से कर सकते हैं। आपको बता दें कि ऑनलाइन भुगतान करने पर आपको प्रति ग्राम सोने पर 50 रुपये की छूट मिलेगी।

3) इसमें निवेश करने पर सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की मैच्योरिटी आठ साल होती है साथ ही इसका लॉक इन पीरियड पांच साल है। अगर आपने एसजीबी को मैच्योरिटी तक बनाए रखा तो आपको निवेश पर कोई कैपिटल गेन टैक्स नहीं देना होगा।(ऑनलाइन ज्वैलरी शॉपिंग करते समय इन टिप्स का रखें ध्यान)

4)फिजिकल गोल्ड की तरह इसके सेफ स्‍टोरेज का आपको कोई टेंशन लेने की जरूरत नहीं होती है क्योंकि फिजिकल गोल्ड में चोरी का डर नहीं होता है। एसजीबी में निवेश करना अधिक सुरक्षित होता है। 

5)जैसे आप गोल्ड क्वाइन या गोल्ड बार के लिए जीएसटी नहीं देते हैं उसी तरह सॉवरेन गोल्‍ड बॉन्‍ड में जीएसटी नहीं देना होता है। लेकिन जब आप डिजिटल गोल्ड खरीदते हैं तो आपको 3 प्रतिशत जीएसटी देना होगा।

 

 

तो यह थी जानकारी  सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड में निवेश करने के बारे में। 

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।

image credit- freepik

 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।