• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

रिस्क होगा कम, पैसा मिलेगा ज्यादा , इस पोस्ट ऑफिस स्कीम से खूब मिलेगा फायदा

इस लेख नें हम आपको नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट के बारे में बताएंगे।
author-profile
Published -02 Sep 2022, 18:51 ISTUpdated -11 Sep 2022, 14:12 IST
Next
Article
post office scheme for higher return

नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (एनएससी ) एक सेविंग स्कीम है। इसे राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र भी कहते है। आपको बता दें कि इसमें रिस्क नहीं है और इसमें गारंटिड रिटर्न मिलता है। साथ ही इसमें इनकम टैक्स की भी बचत की जाती है। इस स्किम से आपको ये ट्रिपल फायदा है।

इस योजना में पांच साल का लॉक इन पीरियड है। इसका मतलब है कि आप अपने निवेश किए गए पैसे को पांच साल से पहले नहीं निकाल सकते। योजना में निवेश करने के लिए तीन विकल्प हैं जो हम आपको बताएंगे। इसके साथ आपको यह बता दें कि आप किसी भी डाकघर शाखा में योजना खोल सकते हैं।

1) सिंगल टाइप 

national saving certificate scheme

आप एनएससी की सिंगल टाइप स्कीम के जरिए अपने लिए या किसी किशोर के लिए निवेश कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंःPost Office Savings Scheme: रोजाना करें 47 रुपए का निवेश, मैच्‍योरिटी पर पाएं 35 लाख रुपए

2) जॉइंट ए टाइप 

इस तरह के सर्टिफिकेट को दो लोग एक साथ खरीद सकते हैं साथ ही दो लोग एक साथ योजना में निवेश कर सकते हैं। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि दोनों लोगों को बचत योजना से राशि निकालने के लिए उपस्थित होना चाहिए।

3)ज्वाइंट बी टाइप 

हालांकि सर्टिफिकेट स्कीम में दो लोग एक साथ निवेश कर सकते हैं, लेकिन मैच्योरिटी के समय केवल एक को ही राशि दी जाएगी।

आपको बता दें कि इस बचत योजनाओं में से एक एनएससी की मैच्योरिटी का समय पांच साल है। यहां ब्याज की दरें हर तिमाही पर तय की जाती हैं। लेकिन जब आप एनएससी में निवेश करते हैं उस समय लागू ब्याज दरें पूरे 5 साल के दौरान समान रहती हैं। यानी यह स्कीम आपके लिए गारंटिड रिटर्न दिलाती है।

इसे भी पढ़ें:  पोस्ट ऑफिस की ये स्कीम है सबसे बेस्ट, मिलेंगे लाखों रुपए

कुछ अहम बातें जरूर रखें ध्यान

- आप कम से कम 1,000 रुपये निवेश कर सकते हैं।

- एनएससी में निवेश करने वाले को हर साल ब्याज का भुगतान नहीं किया जाता है।

- एनएससी में निवेश पर आयकर छूट का भी फायदा मिलता है।

- एनएससी पर मिलने वाला ब्याज हर साल खाते में जमा होता जाता है।

- एनएससी को कर्ज लेने के लिए भी निवेश करने वाला गिरवी भी रखा जा सकता है। 

तो यह थी नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (एनएससी )  के बारे में जानकारी। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।
 

 image credit- freepik

 

 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।