नए वर्ष का पहला सबसे बड़ा पर्व मकर संक्रांति इस वर्ष 14 जनवरी को मनाया जाएगा। अलग-अलग राज्यों में इस पर्व को अलग-अलग नाम से पुकारा जाता है और इस त्योहार को मनाने का सभी का अलग अंदाज होता है। मगर मकर संक्रांति पर तिल का प्रयोग हर कोई करता है। वैसे भी तिल का विशेष धार्मिक महत्व है। 

भारत वर्ष में आदिकाल से जिन औषधि पौधों और बीजों का उपयोग होता आया है, उनमें से एक तिल भी है। इसलिए कहा जा सकता है कि धार्मिक महत्व के साथ-साथ तिल का औषधि उपयोग भी है। शायद यही वजह है कि तिल का प्रयोग लगभग हर बड़े त्योहार पर किया जाता है। लेकिन मकर संक्रांति पर तिल का क्‍या महत्‍व है, इस बारे में हमने उज्जैन के ज्योतिषाचार्य एवं पंडित मनीष शर्मा और ग्लोबल फाउंडेशन ऑफ एस्ट्रोलॉजिकल साइंस, दिल्ली के सीईओ एवं ज्योतिषाचार्य प्रो. (डॉ.) अनिल मित्रा से बात की। 

महत्वपूर्ण बात यह है कि दोनों ही ज्योतिषाचार्य का मानना है कि तिल मानव जीवन के लिए धार्मिक और वैज्ञानिक, दोनों तरह से जरूरी है। इस बारे में पंडित मनीष शर्मा कहते हैं, 'भगवान विष्णु को तिल अति प्रिय है और मकर संक्रांति पर जगतपिता विष्णु की पूजा अनिवार्य है, ऐसे में तिल का महत्व इस त्योहार पर अपने आप ही बढ़ जाता है।'

वहीं प्रो. (डॉ.) अनिल मित्रा कहते हैं, 'एक प्राचीन कहावत के अनुसार समुद्र मंथन के दौरान भगवान विष्णु का पसीना जमीन पर गिर गया और पसीने की बूंद तिल बन गई। वेद पुराणों में तिल को अमृत का बीज कहा गया है। यही वजह है कि धार्मिक अनुष्ठानों में इसका प्रयोग किया जाता है, साथ ही तिल को दारिद्रय नाशक भी माना गया है।'

इसे जरूर पढ़ें: मकर संक्रांति पर राशि के अनुसार करें इन चीज़ों का दान, चमक उठेगी आपकी किस्मत

uses  of  black  til  on  makar  sankranti

तिल का धार्मिक महत्व 

तिल आमतौर पर दो प्रकार के होते हैं- काले तिल और सफेद तिल। काले तिलों का उपयोग पूजा पाठ में किया जाता है, जबकि सफेद तिल का प्रयोग खाना बनाने में किया जाता है। ब्रह्मांड पुराण में तिल को औषधि बताया गया है। शिव पुराण में तिल दान को महत्‍वपूर्ण और प्रभावशाली बनाया गया है। वहीं यह भी मान्‍यता है कि श्राद्ध कर्म में काले तिलों का उपयोग करने से पितृ प्रसन्न होते हैं। गरुड़ पुराण और बृहन्नारदीय पुराण में बताया गया है कि अगर परिवार के किसी सदस्य की मृत्यु किसी दुर्घटना में हुई हो तो गंगाजल में काले तिल मिला कर तर्पण करने से उन्हें मुक्ति मिल जाती है। अथर्ववेद में भी तिल से तर्पण करने की बात कहीं गई है। 

इसे जरूर पढ़ें: मकर संक्रांति पर ये बॉलीवुड हिंदी गाने सुनते हुए करें 'पतंगबाजी'

Lighting  lamp  in  temple  benefits

तिल के ज्योतिष एवं वास्तु उपाय- 

  •  यदि आपके छोटे-छोटे काम में बाधाएं आ रही हैं, तो उन्हें आसानी से पूरा करने के लिए रोज एक लोटे में शुद्ध जल भरें और उसमें काले तिल डाल दें। अब इस जल को शिवलिंग पर अर्पित करें। इस दौरान 'ऊँ नम: शिवाय' मंत्र का जाप करते रहें, इससे आपको शुभ फल प्राप्त होंगे। 
  • आर्थिक परेशानी दूर करने के लिए आप हर शनिवार काले तिल, काली उड़द को काले कपड़े में बांधकर किसी गरीब व्यक्ति को दान करें। इस उपाय से पैसों से जुड़ी समस्याएं दूर हो सकती हैं। 
  • कुंडली में यदि शनि दोष, शनि की साढ़ेसाती या शनि की ढय्या चल रही है, तो हर शनिवार किसी पवित्र नदी में काले तिल प्रवाहित करें। इस उपाय से शनि के दोषों को कम किया जा सकता है। 
  •  यदि आप या आपके परिवार में कोई व्यक्ति लंबे समय से बीमार चल रहा है तो हर रोज शिवलिंग पर काले तिल अर्पित करने से रोगी को राहत मिलती है। 
  •  सूर्य उदय होने पर अपने घर की छत पर काले तिल का छिड़काव करें। ऐसा करने से घर में सुख-शांति बनी रहती है और सकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है।  
Benefits  of  lighting  lamp  with  sesame  oil

मकर संक्रांति पर ये कार्य करें- 

  1. मकर संक्रांति के दिन तिल के तेल की मालिश जरूर करें। 
  2. मकर संक्रांति पर तिल का उबटन लगाने से शरीर कांतिमान बना रहता है। इतना ही नहीं,  इससे व्यक्तित्व में निखार भी आता है। 
  3. तिल का दान भी आप मकर संक्रांति के दिन कर सकते हैं। काले तिल का ही दान करें, यह रंग शनि देव को अति प्रिय होता है और वह ऐसा करने से प्रसन्न होते हैं। 
  4. मकर संक्रांति के दिन आपको तिल के पानी से स्नान भी करना चाहिए। 
  5. मकर संक्रांति पर सुख-सौभाग्य की प्राप्ति के लिए भगवान विष्णु की पूजा जरूर करें, साथ ही पूजा के बाद हवन करें और तिल से हवन में आहुति दें। 
  6. मकर संक्रांति के दिन तिल से बने खाद्य पदार्थ का सेवन जरूर करना चाहिए। ऐसा देखा गया है कि इस त्योहार पर बहुत ठंड होती है और तिल की तासीर गर्म होती है, जिस वजह से यह शरीर को गर्माहट पहुंचाता है। 

उम्‍मीद है कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। हरजिंदगी की ओर से आप सभी को मकर संक्रांति की ढेरों शुभकामनाएं। इस आर्टिकल को शेयर और लाइक जरूर करें, साथ ही ऐसे और भी आर्टिकल्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।