• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

सुप्रीम कोर्ट ने खुद के परिसर में सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन लगाने के लिए दिए ₹5 लाख

सुप्रीम कोर्ट ने महिलाओं की समस्याओं को ध्यान में रखते हुए अपने परिसर में सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीन लगाने के निर्देश दिए हैं। 
author-profile
  • Gayatree Verma
  • Her Zindagi Editorial
Published -11 Oct 2017, 16:23 ISTUpdated -11 Oct 2017, 16:28 IST
Next
Article
Supreme court and sanitary pad  article image

जल्दी ही सुप्रीम कोर्ट परिसर में सैनिटरी नैपकिन वेंडिंग मशीनें लग जाएंगी। देश के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ ने ये निर्देश जारी किए हैं। इन वेंडिंग मशीन लगाने में जितने पैसे लगेंगे वो सुप्रीम कोर्ट ने आवंटित किए हैं। कोर्ट ने अपने परिसर में ऐसी तीन मशीनें लगाने के लिए ₹5 लाख जारी किए गए हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, कोर्ट में लगभग 1,000 महिला वकील और कोर्ट के ऑफिस में 250 महिलाएं कार्य करती हैं। 

वकील नंदिनी गोरे ने उठाया था ये मामला

इस मामले को वकील नंदिनी गोरे ने ठाया था। बीते दिनों में वकील नंदिनी गोरे कई बार उच्चतम न्यायालय में कार्य करने वाली महिलाओं की परेशानी का जिक्र कर चुकी थीं जिसको ध्यान में रखते हुए उच्चतम न्यायालय ने ये निर्देश दिए हैं। 

प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के नेतृत्व वाली पीठ ने शीर्ष न्यायालय की रजिस्ट्री को उसके पास जमा 1.4 करोड़ रुपये से ये धनराशि आवंटित करने के लिए कहा। इस पीठ में न्यायमूर्ति ए एम खानविल्कर और न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड भी शामिल थे। 

Read More: धारा 375 (2) को सुप्रीम कोर्ट ने किया खारिज, अब नाबालिग पत्नी से यौन संबंध बनाना होगा रेप

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।