शादी ब्याह का सीजन चल रहा है और इस समय गिफ्ट देने की सदियों पुरानी प्रथा भी अपने चरम पर है। ऐसे में सबसे जरूरी बात ये है कि आखिर गिफ्ट में क्या दिया जाए? ये यकीनन एक बड़ी समस्या हो जाती है कि गिफ्ट में क्या दें। सभी जरूरी शादियां, सभी में गिफ्ट देना भी जरूरी है। ऐसे में कई लोगों के दिमाग में एक ही चीज़ आती है। शादी है तो भगवान की मूर्तियां गिफ्ट कर दी जाएं। पर क्या ये सही है?  

हरजिंदगी अपनी खास 'विंटर वेडिंग' सीरीज में शादी और उससे जुड़ी सभी जरूरी चीज़ों के बारे में बात कर रही है। आज हम तोह्फे में दी जाने वाली मूर्तियों का जिक्र करेंगे। इस बारे में हमने उज्जैन के पंडित मनीष शर्मा से बात की। उनका मानना है कि शादियों में गिफ्ट देने के कई नियम हो सकते हैं और ये नियम सुख शांति और समृद्धि के काम आते हैं। उन्होंने मूर्तियां गिफ्ट करने के कुछ नियम बताए।  

पंडित जी के अनुसार गणेश की मूर्ति गिफ्ट करने के ये हैं नियम-  

किसी को गणेश जी की मूर्ति शादी-ब्याह, जन्मदिन, शादी की सालगिरह आदि के शुभ अवसर पर गिफ्ट की जा सकती है। पर इसके कुछ नियम हैं जिनका पालन करना जरूरी है। सबसे पहले ये ध्यान रखें कि मूर्ति का साइज हाथ की हथेली से ज्यादा न हो। इसके अलावा, अगर आपको गणेश की मूर्ति गिफ्ट करनी है तो ध्यान रहे कि प्लास्टर ऑफ पैरिस या फिर चाईनीज प्लास्टर से बनीं मूर्तियां न हों।  

ganesh  idol gifting rules

इसे जरूर पढ़ें- पापा बने कपिल शर्मा, बेटी के जन्म पर कुछ इस तरह शेयर की न्यूज 

अगर आपको गिफ्ट में मिली है गणेश की मूर्ति तो? 

अगर आपको गिफ्ट में मूर्ति मिली है गणेश भगवान की तो ध्यान रहे कि उसकी सूंड की दिशा देखें। अगर मूर्ति की सूंड दाईं तरफ है तो उसे घर में रखें और अगर बाईं सूंड वाले गणपति मिले हैं तो उन्हें व्यवसाय की जगह पर रखें। ये आपकी सुख-समृद्धि के लिए जरूरी है।  

gifting ideas for indian weddings

अगर गिफ्ट करनी है राम दरबार या राधा-कृष्ण की मूर्ति-  

शादी ब्याह की तैयारियों में समय नहीं मिला और आप चाह रही हैं कि जल्दी गिफ्ट खरीदने के लिए आपराधा-कृष्ण की मूर्ति गिफ्ट करें या राम दरबार गिफ्ट करें तो ये भी हो सकता है। पंडित जी के अनुसार ये किया जा सकता है।  

best wedding gift ideas expert

हालांकि, इसे लेकर कई लोगों की राय अलग होती है। कहते हैं कि शादी में राधा-कृष्ण की मूर्ति या राम दरबार नहीं गिफ्ट करना चाहिए क्योंकि राधा और कृष्ण और राम-सीता दोनों ही एक दूसरे का साथ ठीक से नहीं ले पाए थे। इसको लेकर कोई खास नियम वेदों में नहीं है, लेकिन ये अलग-अलग लोगों की अलग-अलग मान्यताओं पर निर्भर करता है। 

शिव परिवार शादी में गिफ्ट करने के ये हैं नियम- 

शादी के अवसर पर शिव परिवार की मूर्ति या फोटो देना अति शुभ माना जाता है। इसे सुख-समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। 

Recommended Video

इसे जरूर पढ़ें-  दिल्ली में रहते और अकेले सफर करते हुए, अपनी सुरक्षा के लिए मैं अपनाती हूं ये 5 चीजें

मूर्ति खरीदने या किसी और को गिफ्ट करने से पहले ध्यान रखें- 

- मूर्ति किसी पत्थर, मिट्टी, धातु की बनी होनी चाहिए।

- इसे प्लास्टर ऑफ पैरिस या फिर किसी अन्य पदार्थ का नहीं होना चाहिए।

- मूर्ति की लंबाई वयस्क पुरुष की हथेली से ज्यादा बड़ी नहीं होनी चाहिए।

तो इस तरह नई दुल्हन या नए दूल्हे को आप गिफ्ट कर सकते हैं मूर्तियां दे सकती हैं। आप गिफ्ट बहुत सोच समझ कर दीजिए और इन नियमों का पालन कीजिए। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।