33 साल पहले आए टीवी धारावाहिक रामायण ने कई इतिहास रच दिए थे। जिस समय ये सबसे पहले टेलिकास्ट हुआ था उस समय भी इसे बहुत देखा जाता था और अब जब इसे लॉकडाउन के वक्त दोबारा टेलिकास्ट किया जा रहा है तब भी इसे बहुत देखा जा रहा है। हाल ही में रामायण के स्टार्स दीपिका चिखलिया, सुनील लहरी और रमानंद सागर के बेटे प्रेम सागर ने मीडिया हाउस से कई सारे किस्से शेयर किए हैं। ये वो किस्से हैं जिन्हें पहले शायद आप न जानते हों। तो चलिए आपको बताते हैं रामायण के कुछ किस्से-

1. अरुण गोविल देते थे बच्चों को आशीर्वाद-

ये किस्सा प्रेम सागर ने सुनाया था। उनका कहना था कि जब अंबरगांव में शूटिंग चल रही थी तो वहां कुछ आदिवासी अपने नवजातों के साथ रहते थे। कई बार लोग अरुण गोविल के चरणों में अपने नवजात बच्चों को रख देते थे। वो चाहते थे कि अरुण गोविल उन्हें आशीर्वाद दें।

ramayan facts you dont know

इसे जरूर पढ़ें- नरेंद्र मोदी के साथ बैठीं सीता, मस्ती करते राम-लक्ष्मण और स्टाइलिश रावण, रामायण स्टारकास्ट की Unseen Pics

2. हनुमान को 3-4 घंटे का समय लगता था तैयार होने के लिए-

प्रेम सागर ने बताया कि रामायण में पूरे दिन में से कभी भी शूटिंग हो सकती थी। किसी को रात 3 बजे बोल दिया जाता था कि उठो और सीन शूट करो। दारा सिंह को मेकअप करने में 3-4 घंटे लगते थे क्योंकि वो हनुमान बने थे और सभी उनका इंतज़ार करते थे। शूटिंग काफी कट टू कट होता था क्योंकि भारत सरकार ने सिर्फ 9 दिन दिए थे शूट करने के लिए। रमानंद सागर के बेटे प्रेम सागर ने कहा था कि, 'हम इतना कट-टू-कट इसलिए शूट कर रहे थे क्योंकि भारत सरकार ने हमें शूट के लिए सिर्फ 9 दिन दिए थे। 16 जनवरी को प्रोजेक्ट के लिए ओके कहा गया था और टेलिकास्ट डेट 25 जनवरी थी।' An Epic Life: Ramanand Sagar किताब में इस बात का जिक्र भी है कि रमानंद सागर को कितनी मुश्किल हुई थी सरकार से इस प्रोजेक्ट को अप्रूव करवाने में।

dara singh hanuman ji

3. राज माता सिंधिया भी आती थीं सेट पर-

प्रेम सागर ने बताया कि राज माता-सिंधिया भी सेट पर आती थीं और यही नहीं कई वीआईपी और असली फैन शूटिंग के सेट पर आते थे। ये देखकर बहुत अलग अनुभव होता था।

Recommended Video

4. 14 रामायण पढ़ने के बाद बना था धारावाहिक-

रमानंद सागर ने रामायण बनाने से पहले बहुत रिसर्च की थी। क्योंकि इससे पहले कोई ऐसा शो नहीं था और साथ ही साथ रमानंद सागर को लगता था कि रामायण को इतने सालों में कई अलग-अलग तरह से पेश किया गया है। इसलिए उन्होंने उर्दू रामायण, फारसी रामायण और ऐसी ही 14 रामायणों का अध्ययन किया। उनके साथ पूरी टीम थी रिसर्च के लिए।

ramanand sagar ramayan facts

5. सीता को गहने पनने पर होता था इन्फेक्शन-

दीपिका चिखलिया ने अपने इंटरव्यू में बताया कि उन्हें आर्टीफीशियल ज्वेलरी से दिक्कत है और जब वो शूटिंग के दौरान इसे पहनती थीं तो उनके कानों से खून और पस आने लगता था। वो इस सब से गुजरीं लेकिन फिर भी उन्होंने हंसते-खेलते सारी शूटिंग की।

6. लक्ष्मण के कमरे में आ गए थे सांप-

दीपिका चिखलिया ने ये भी बताया कि एक बार शूटिंग के दौरान लक्ष्मण के कमरे में सांप आ गए थे। ये बारिश के समय की बात है। सभी ने बहुत हिम्मत और लगन से शूटिंग को पूरा किया था।



इसे जरूर पढ़ें- रामायण की 'सीता' दीपिका चिखलिया ने बताई सेट से जुड़ी कुछ इंट्रेस्टिंग बातें

7. सीता का रोल करने में आई ये मुश्किल-

दीपिका चिखलिया ने ये भी शेयर किया कि उन्हें सीता जी का रोल करने में और पर्दे पर सीता को दिखाने में थोड़ी कठिनाई इसलिए भी हुई क्योंकि वो काफी तेज़ बोलती थीं और काफी ज्यादा हाथों का इस्तेमाल करती थीं। सीता का रोल निभाते समय उन्हें शांत और शालीन रहना था। उन्हें बिलकुल धैर्य से काम करना था। यही उनके लिए काफी चैलेंजिंग था।

रामायण को दोबारा उतनी ही लोकप्रियता हासिल हो रही थी जितनी पहले मिली थी। उम्मीद है कि ये लोकप्रियता और बढ़ेगी। अगर आपको ये स्टोरी पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर करें और ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी से।