• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

96 की उम्र में क्वीन एलिजाबेथ ने दुनिया को कहा अलविदा

बकिंघम पैलेस ने क्वीन एलिजाबेथ द्वितीय के निधन की घोषणा कर दी है।महारानी एलिजाबेथ के अंतिम संस्‍कार से जुड़ी लेटेस्‍ट अपडेट जानें। 
author-profile
Published -08 Sep 2022, 23:47 ISTUpdated -09 Sep 2022, 13:22 IST
Next
Article
queen elizabeth nd passes away at  hindi

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ अब इस दुनिया में नहीं रहीं। लंबे वक्त से महारानी की तबीयत खराब चल रही थी और भारतीय समय के अनुसार आज दोपहर में ही उनकी तबीयत ज्यादा बिगड़ने की खबर आई थी। हालांकि, उनकी जांच कर रहे डॉक्टरों ने उनकी सेहत को स्थिर बताया था। मगर अब सूत्रों से खबर मिल रही है कि महारानी ने दुनिया को अलविदा कह दिया है। 

महारानी एलिजाबेथ बीते 70 सालों से ब्रिटेन पर राज कर रही थीं। कुछ वक्त पहले ही महारानी अपने समर ब्रेक पर लंदन के बकिंघम पैलेस से स्‍कॉटलैंड के बाल्मोरल कासल आई थीं, जहां उन्होंने अंतिम सांसे भी ली। आखिरी समय में महारानी के पास उनके पुत्र प्रिंस चार्ल्स, एंड्रयू और एडवर्ड और बेटी एनी मौजूद थे। साथ ही शाही परिवार के और भी कई सदस्य महारानी के आखिरी वक्त में उनके साथ ही थे। 

queen elizabeth

कोविड-19 के बाद से थी तबियत खराब 

इसी वर्ष फरवरी में महारानी एलिजाबेथ को कोविड-19 संक्रमण हो गया था, जिससे उबरने के बाद से ही उनकी सेहत खराब चल रही थी। उन्‍हें चलने में भी दिक्कत होने लगी थी, तब से कई बार उनकी खराब सेहत के बारे में खबरें आ रही थीं। मगर बीते बुधवार को ही महारानी ब्रिटेन की नई प्रधानमंत्री लीज ट्रस के साथ नजर आई थीं। महारानी की तबियत तब भी खराब थी इसलिए एक खास मीटिंग को टाल भी दिया गया था। बस इसके बाद से ही महारानी डॉक्‍टर्स की निगरानी में थी। 

इसे भी पढ़ें: 70 साल से ब्रिटेन की महारानी रहीं क्वीन एलिजाबेथ II का निधन, दुनिया भर से कुछ आए सांत्वना के बोल

Queen Elizabeth II

कैसे होगा अंतिम संस्‍कार 

गैर अधिकारी सूत्रों के मुताबिक पता चला है कि महारानी एलिजाबेथ के अंतिम संस्कार को 'ऑपरेशन लंदन ब्रिज' नाम दिया गया है। आपको बता दें कि महारानी की मृत्यु के 2 दिन बाद उनका ताबूत होलीरूड हाउस के महल में रखा जाएगा, यह ताबूत सड़क मार्ग से वहां तक ले जाया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: इंग्लैंड की रानी ने इस भारतीय राजकुमारी को गोद लेकर दिया था अपना नाम,  जानें प्रिंसेस विक्टोरिया गौरम्मा के बारे में

योजनाओं के अनुसार महारानी का ताबूत रॉयल माइल होते हुए सेंट जाइल्स कैथेड्रल जाएगा। इसके साथ ही एक औपचारिक जुलूस भी निकाला जाएगा। यहां  24 घंटे की अवधि के लिए महारानी का ताबूत रखा जाएगा, जहां आम लोग भी महारानी के अंतिम दर्शन कर पाएंगे। अनुमान है कि इस दौरान सैकड़ों-हजारों की संख्या में लोग लंदन पहुंच सकते हैं।  इस दौरान शाही परिवार के सभी सदस्य भी मौजूद होंगे। यह भी सूचना है कि महारानी का ताबूत 10 दिन बाद दफनाया जाएगा। 

 

महारानी के निधन पर हरजिंदगी की पूरी टीम उन्‍हें श्रद्धांजलि देती है। महारानी के अंतिम संस्कार से जुड़ी अपडेट्स के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी के साथ। 

 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।