कहते हैं कि आपका एक पॉश्चर हजार शब्दों के बराबर होता है। शायद इसलिए कई बार बिना बोले ही हमारी बॉडी लैंग्वेज काफी कुछ कह जाती है। यह ना केवल आपके मन की बात को सामने वाले व्यक्ति तक पहुंचाती है, बल्कि इसका व्यापक प्रभाव आपकी पर्सनैलिटी, रिश्तों यहां तक कि करियर पर भी पड़ता है। आप ऑफिस में दूसरों के साथ किस तरह पेश आते हैं, इसके साथ-साथ आपकी बॉडी लैंग्वेज का भी सहकर्मियों के साथ रिश्तों पर व्यापक असर पड़ता है।

कई बार आपकी बॉडी लैंग्वेज ऐसी होती है, जिसे देखकर सामने वाला व्यक्ति गलत अर्थ ले लेता है और इससे आपकी प्रोफेशनल इमेज भी डैमेज भी होती है। इतना ही नहीं, इससे आपके करियर पर भी बुरा असर पड़ सकता है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसी ही बॉडी लैंग्वेज मिसटेक्स के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आपको ऑफिस में करने से बचना चाहिए-

बार-बार घड़ी देखना

office etiquettes to remember

हो सकता है कि आपको ऑफिस में किसी प्रोजेक्ट पर काम करना हो या फिर आपने अभी तक अपना काम कंप्लीट ना किया हो या फिर आपकी कोई मीटिंग हो और ऐसे में अगर आप अपने सहकर्मियों के बीच बैठकर बार-बार घड़ी देख रहे हों। हालांकि, आपको ऐसा करने से बचना चाहिए, क्योंकि इससे कलीग्स को ऐसा लगता है कि आप उनसे बहुत ऊब चुके हैं और वहां से निकलने की प्रतीक्षा कर रहे हैं। यदि आप वास्तव में जल्दी में हैं और आपका कोई ऑफिस वर्क पेंडिंग है, तो बेहतर होगा कि आप अपने कलीग्स को इस बारे में पहले ही बता दें। कुछ वक्त कलीग्स के साथ बिताने के बाद आप एक्यूज मी कहकर उठ सकते हैं। लेकिन सबके बीच में होकर बार-बार घड़ी ना देखें।

बहुत ही करीब जाकर बात करना

maintain body language in office

यह आदत ना केवल आपकी प्रोफेशनल इमेज बल्कि पर्सनल लेवल पर भी इमेज को डैमेज करती हैं। जब भी आप किसी कलीग्स से बात करें तो कभी भी उसके  बेहद करीब जाकर बात ना करें। याद रखें कि यह आपका घर नहीं है और आपको अपने सहकर्मियों से एक दोस्ताना व्यवहार रखने के बावजूद भी एक उचित दूरी बनाए रखना बेहद आवश्यक है। बेहद करीब जाने से सामने वाला व्यक्ति आपको लेकर गलत सोच सकता है। इसके अलावा, बेहद करीब जाकर बहुत धीरे से बात करने या खुसुर-पुसुर करने से अन्य लोग भी आपकी इमेज को गलत समझ सकते हैं।

इसे भी पढ़ें :ऑफिस में प्रोफेशनल इमेज बनाए रखने के लिए इन Etiquettes का रखें खास ध्यान

आई कॉन्‍टैक्ट के महत्व को ना समझना

eye contact

कई बार ऐसा होता है कि जब हम ऑफिस में दूसरों से बात करते हैं तो इधर-उधर देखते हैं और आई कॉन्टैक्ट नहीं करते हैं।  लेकिन ऐसा करने से सामने वाले व्यक्ति को लगता है कि आप उसे निगलेक्ट कर रहे हैं, जिससे आपकी प्रोफेशनल इमेज डैमेज होती है। इसलिए, कोशिश करें कि आप जब भी अपने सहकर्मियों या बॉस से बातचीत करें तो आई कॉन्टैक्ट अवश्य करें। हालांकि, यह भी ध्यान रखें कि आपको बातचीत के दौरान आई कान्टैक्ट करना है, सामने वाले व्यक्ति को घूरना नहीं है। (इन टिप्स को अपनाकर बनें good listener)

इसे भी पढ़ें :हर किसी के बीच छोड़ना चाहती हैं अपनी छाप तो इन Social Etiquette रूल्स को जरूर करें फॉलो

फेशियल एक्सप्रेशन से उदासी झलकना

facial expression in office

हम सभी अपनी पर्सनल लाइफ में अप एंड डाउन देखते हैं, लेकिन इसका पता ऑफिस में नहीं चलना चाहिए। अक्सर देखने में आता है कि जब कोई व्यक्ति अपनी पर्सनल लाइफ में मुश्किल दौर से गुजर रहा होता है तो वह ऑफिस में भी अपसेट नजर आता है। उसके फेशियल एक्सप्रेशन में हमेशा एक उदासी या फिर गुस्सा नजर आता है। लेकिन इस तरह के नेगेटिव एक्सप्रेशन वाला चेहरा देखने से आपके आस-पास के लोगों के मन में भी एक नकारात्मक भावना विकसित होती है। इसलिए, कोशिश करें कि जब तक आप ऑफिस में हैं तो आपकी पर्सनल लाइफ में क्या चल रहा है इसका पता आपके बॉस या को-वर्कर्स को नहीं चलना चाहिए।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- freepik