आज के समय में हर घर में लोग प्लांटिंग करना पसंद करते हैं। यह होम डेकोर का एक मुख्य हिस्सा बन चुका है। भले ही आपको बागवानी करनी आती हो या ना आती हो, लेकिन फिर भी कुछ प्लांट्स आपके घर की शोभा बढ़ा सकते हैं। इतना ही नहीं, यह घर में हरियाली लाने के साथ-साथ आपको अन्य भी कई लाभ पहुंचाते हैं। मसलन, इससे घर में ऑक्सीजन लेवल बेहतर होता है। कुछ प्लांट्स की गंध इतनी तेज होती है कि मक्खी-मच्छर घर से दूर ही रहते हैं। वहीं, आपकी किचन में भी कई तरह के हर्ब्स यूं ही मिल जाते हैं।

लेकिन प्लांट्स से यह सभी बेनिफिट आपको तभी मिलेंगे, जब वह अच्छी तरह फले-फूले। कुछ लोग अपने प्लांट्स की केयर तो करते हैं लेकिन फिर भी उनकी अच्छी ग्रोथ नहीं हो पाती। क्या आपको पता है कि ऐसा क्यों होता है।

दरअसल, आप प्लांट्स की केयर गलत समय पर करते हैं, जिससे पौधों को पूरा लाभ नहीं मिल पाता। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे ही कामों के बारे में बता रहे हैं, जिन्हें आपको दोपहर के समय करने से बचना चाहिए-

पौधों को पानी देना

tips for good plants watering

पौधां की अच्छी बढ़त के लिए उन्हें समय-समय पर पर्याप्त पानी दिया जाना बेहद आवश्यक है। लेकिन पौधों को दिन में पानी देने से बचें। यह बिल्कुल भी अच्छा आईडिया नहीं है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि इस समय सूरज बहुत तेज होता है और जब आप पौधों को पानी देती हैं तो वह मिट्टी और जड़ों द्वारा अब्जार्ब होने से पहले ही वाष्पीकृत हो जाता है और पौधों को पर्याप्त पानी नहीं मिल पाता है। जब पौधों को पानी देने की बात आती है तो सुबह के समय पौधों को पानी देना चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें: पुदीने, तुलसी से लेकर खूबसूरत गुलाब तक, घर में आसानी से उगाएं ये 21 तरह के पौधे

पौधों को रि-पॉट और ट्रांसप्लांट करना

अगर आप किसी पौधे के रि-पॉट या ट्रांसप्लांट पर विचार कर रही हैं, तो उसे दोपहर के समय बिल्कुल भी ना करें। दोपहर में ऐसा करने से वे बहुत तेज गर्मी के संपर्क में आ जाएंगे, जिससे वे शॉक की स्थिति में आ जाएंगे।

कोशिश करें कि आप सुबह या दोपहर के समय ही पौधों को रि-पॉट या ट्रांसप्लांट करें। यदि संभव हो तो, ठंडे और ह्यूमिड क्लाउडी डे प्रत्यारोपण करें, यह वातावरण उनके लिए काफी अच्छा रहता है।

पौधे उगाने के लिए कटिंग करना

tips for good plants cutting

जिन घरों में पहले से ही प्लांट्स होते हैं, वहां पर लोग नया पौधा लगाने के लिए उनकी कटिंग करते हैं। लेकिन, दोपहर की धूप में कटिंग करना अच्छा विचार नहीं है क्योंकि तेज हीट के कारण पौधे नमी से रहित होता है। इसके अलावा, एक बार जब आप कटिंग कर लेते हैं, तो गर्मी से मुरझाने का प्रोसेस भी तेज हो जाएगा, जिससे उनकी ग्रोथ सही तरह से नहीं हो पाएगी।

Recommended Video

पौधों को फर्टिलाइज करना

वाटर सॉल्यूबल फर्टिलाइजर सुबह और रात के समय सबसे अच्छा काम करता है, क्योंकि दिन के इस समय सूरज मौजूद नहीं होता है। तेज गर्मी में फर्टिलाइजेशन होने से आपके पौधों को अच्छे से ज्यादा नुकसान होगा। खासतौर से, लिक्विड फर्टिलाइजर सूरज की धूप में इवोपराइज हो जाएगा, जिससे सारा प्रॉडक्ट वेस्ट हो जाएगा।

इसे जरूर पढ़ें: Gardening Tips: गुड़हल के पौधे में लग जाएं सफ़ेद कीड़े तो ये 3 ट्रिक्स आएंगे काम

कीटनाशकों का इस्तेमाल करना

tips for good plants spraying pesticides

जिन पेस्टिसाइड्स में ऑयल होता है, उन्हें भी दोपहर में इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, इससे फोटोटॉक्सिसिटी का खतरा बढ़ सकता है। अधिकांश केमिकल कीटनाशक और कवकनाशी भी हीट से इवेपोराइज हो जाएंगे। साथ ही, चूंकि परागकण दोपहर के समय भी सबसे अधिक सक्रिय होते हैं, इसलिए इस बार कीटनाशकों के छिड़काव से उन्हें भी नुकसान होगा।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: Freepik