हिंदू धर्म में कुंडली को बहुत महत्‍व दिया गया है। हर व्‍यक्ति की कुंडली में अच्‍छे और बुरे ग्रह होते हैं, मगर मंगल ग्रह को बहुत ही शक्तिशाली माना गया है। अगर किसी की कुंडली में मंगल ग्रह का दोष है और वह अशुभ फल देने वाला है तो ऐसे व्‍यक्ति को इसके निवारण के लिए उचित उपाय करने चाहिए। ज्योतिषाचार्य एवं हस्तरेखार्विंद पोद्दार इस विषय में कहते हैं, 'कुंडली में मंगल ग्रह किस भाव में है यह बहुत ही मायने रखना है। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि वह शुभ फल देने वाला है या अशुभ।' इतना ही नहीं,  पंडित जी ने मंगल दोष दूर करने के लिए कई आसान उपाय भी बताए हैं। 

mangal  dosh  in kundali  nivaran  and tips  by pandit

कर्ज मुक्‍त होने के उपाय 

अगर जातक की कुंडली में मंगल दोष है तो इसकी अशुभता उसे कर्ज से कभी भी मुक्त नहीं होने देती। ऐसे में जातकों को मंगलवार का व्रत करना चाहिए और केवल मीठी चीजों का सेवन करना चाहिए। मंगल दोष से मुक्ति के लिए हनुमान जी की उपासना करना भी अच्‍छा माना गया है। अगर आप मंगलवार के दिन लाल वस्‍तु का दान करते हैं तो इससे भी मंगल दोष का प्रकोप कम हो जता है। 

इसे जरूर पढ़ें: गृह प्रवेश के वक्‍त इन बातों का रखें ध्‍यान तो घर पर बनी रहेगी सुख-शांति, पंडित जी से जानें

विवाह में आ रही है मुश्किल 

मंगल दोष होने के कारण कई बार विवाह होने में भी समस्‍या आती है। यदि मंगल दोष होने के बाद भी आपकी शादी हो जाती है तो वैवाहिक जीवन सुखद नहीं रहता है। ऐसे में अगर आपका विवाह नहीं हो रहा है तो आपको शनिवार के दिन 16 बार पीपल के पेड़ की परिक्रमा करनी चाहिए और उसे जल देना चाहिए। वहीं विवाह के बाद जीवनसाथी के साथ संबंध अच्‍छे नहीं हैं तो आपको बेडरूम के दरवाजे को लाल रंग का रंगवाना चाहिए या फिर लाल रंग की बेडशीट बिछानी चाहिए। 

 नौकरी में आ रही है दिक्‍कत 

मंगल दोष के कारण नौकरी में दिक्‍कत आ रही हैं तो हर मंगलवार को नहाने के पानी में लाल फूल और लाल चंदन डाल कर नहाएं। इतना ही नहीं, मंगल ग्रह का रत्न मूंगा धारण करें या दान करें। इससे आपको फायदा होगा। 

इसे जरूर पढ़ें: भूमि पूजन: पंडित जी से जानें क्‍या है भूमि पूजन का महत्‍व और विधि

mangal  dosh  in kundali  nivaran  and tips

कुंडली के जिस भाव में है मंगल वैसा करें उपाय 

  • अगर कुंडली के प्रथम भाव में मंगल उचित फल देने वाला ना हो तो ऐसे जातकों को कभी कुत्‍ता नहीं पालना चाहिए और हमेशा सोने का कोई आभूषण धारण करके रखना चाहिए। 
  • दूसरे भाव में मंगल है तो आपको अच्‍छा फल तब ही मिलेगा जब बड़े भाई का हमेशा आदर करेंगे । 
  • तीसरे भाव में मंगल होने से यदि कोई दिक्‍कत हो रही है तो आपको अपनी वाणी पर संयम रखना चाहिए। जब भी किसी से बात करें प्‍यार से बात करें। 
  • चौथे भाव में मंगल दोष है तो आपको बरगद के पेड़ की जड़ में मीठा दूध चढ़ाना चाहिए। इतना ही नहीं, आपको हमेशा अपने पास चांदी का कोई सामान रखना चाहिए। 
  • पंचम भाव में मंगल दोष है तो उसे शांत करने के लिए जातक को रात में सोने से पहले अपने सिर के पास पानी से भरा बर्तन रख ना चाहिए और सुबह उस पानी को पेड़ में डाल देना चाहिए। 
  • छठे भाव में मंगल ग्रह के शुभ फल पाने के लिए चांदी और तेल का दान करें। 
  • सातवें भाव में अगर मंगल दोष है तो किसी भी तरह की हानि से बचने के लिए गले में हमेशा चांदी की चेन पहने। 
  • आठवें भाव में मंगल है तो अशुभ परिणामों  से बचने के लिए कुत्ते को 40 या 45 दिन तक रोटी  खिलाएं। 

Recommended Video

  • नौवें भाव में मंगल दोष को शांत करने के लिए दूध, गुड़ और चावल का मंदिर (घर में मंदिर रखने के 7 नियम) में दान करें। 
  • दसवें भाव में मंगल ग्रह है तो किसी भी हानि से बचने के लिए दूध को कभी उबलकर गिरने न दें।
  • ग्याहरवे भाव में मंगल है तो जातक को ज्‍यादा परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आपको घर में शहद जरूर रखना चाहिए।  
  • बारहवें भाव में मंगल दोष होने पर इसके अशुभ फलों को कम करने के लिए दिन की शुरुआत किसी मीठी चीज के सेवन से करें और लाल चंदन का तिलक लगाएं।  

मंगल दोष दूर करने के यह आसान उपाय आप भी आजमा सकते हैं। वास्‍तु से जुड़ी और भी टिप्‍स पढ़ने के लिए HerZindagi से जुड़े रहें।  

Image Credit: Freepik