भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा आबादी वाला देश है जहाँ लगभग दस से बारह प्रतिशत लोग उल्टे हाथ से काम करते हैं। वह लिखने से लेकर अन्य सभी कामों के लिए अपने सीधे हाथों की जगह उल्टे हाथ का इस्तेमाल करते हैं। वैसे भारत की आम जनता से लेकर कई बड़े-बड़े सेलेब्स जैसे अमिताभ बच्चन, सचिन तेंदुलकर, सोनाक्षी सिन्हा, रतन टाटा, करण जौहर, कपिल शर्मा यहां तक कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी उल्टे हाथ का इस्तेमाल करते हैं। हो सकता है कि आप भी लेफ्टिस हों। लेकिन आप लेफ्टिस लोगों के बारे में कितना जानती हैं। शायद बहुत ही कम। बाएं हाथ से काम करने वाले लोगों के बारे में ऐसी कई मजेदार बातें हैं, जो यकीनन काफी चकित कर देती हैं। अगर आप भी लेफ्टिस लोगों से जुड़ी कुछ मजेदार बातों के बारे में जानना चाहती हैं तो आज इस लेख में हम आपको उनके बारे में कुछ फन फैक्ट्स बता रहे हैं-

आर्ट की तरफ होता है झुकाव

 left hand writer inside

जो लोग बाएं हाथ से लिखते हैं या फिर काम करते हैं, वह अधिक कलात्मक होते हैं। ऐसा इसलिए होता है, क्योंकि वह अपने मस्तिष्क के दाहिने हिस्से का अधिक उपयोग करते हैं। दरअसल, मस्तिष्क का दायाँ भाग शरीर के बाईं ओर की मांसपेशियों को नियंत्रित करता है और काफी हद तक संगीत और spatial abilities को संचालित करता है।

इसे जरूर पढ़ें: इस दिवाली अपने रिश्तेदार और दोस्तों को करें खुश, दें क्राउन प्लाजा के ये गिफ्ट हैंपर्स

एलर्जी होने की अधिक संभावना

 left hand writer inside

आपको यह जानकर हैरानी हो कि बाएं हाथ का इस्तेमाल करने वाले लोगों में एलर्जी की संभावना अधिक होती है, लेकिन यह बिल्कुल सच है। एक अध्ययन में यह बात साबित हो चुकी है कि बाएं हाथ के लोगों में दाएं हाथ के लोगों की तुलना में एलर्जी होने की संभावना अधिक होती है। हालांकि इसके पीछे के कारण अभी तक पूरी तरह स्पष्ट नहीं है।

हो सकती है यह बीमारी भी

 left hand writer inside

जर्नल पीडियाट्रिक्स में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, बाएं हाथ के लोगों में डिस्लेक्सिया, एडीएचडी और निश्चित मूड विकारों का खतरा बढ़ जाता है। यह मस्तिष्क के hemispheres से मुख्य रूप से संबंधित है।

इसे जरूर पढ़ें: मकड़ी के जाले से हैं परेशान, तो इस तरह हमेशा के लिए हटाएं

होती है बेहतर सोच

 left hand writer inside

कुछ वैज्ञानिकों का मानना है कि लेफ्टिस के पास सोच का व्यापक दायरा है, जो एक ग्रेट प्रेसिडेंशियल क्वालिटी है। क्या आप जानती हैं कि आठ अमेरिकी राष्ट्रपति या तो लेफ्टिस थे या फिर वह अपने दोनों हाथों का एकसमान रूप से इस्तेमाल करते थे। इनमें बराक ओबामा, बिल क्लिंटन, जॉर्ज एच.डब्ल्यू बुश, और गेराल्ड फोर्ड आदि के नाम शामिल है। वैसे भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी लेफ्टी ही हैं। उन्होंने अपनी व्यापक सोच और निर्णय लेने की क्षमता के कारण पूरे विश्व में भारत की तस्वीर को काफी हद तक बदला है।

Recommended Video

शराब के शौकीन

 left hand writer inside

यह भी एक मजेदार फैक्ट है, जो आपको चकित कर सकता है। ब्रिटिश जर्नल ऑफ हेल्थ साइकोलॉजी में प्रकाशित एक सर्वेक्षण में पाया गया कि लेफ्टिस राइट हेंडेड लोगों की अपेक्षा ज्यादा शराब पीते हैं। इस इअध्ययन में 12 देशों के 25,000 से अधिक लोग शामिल थे।

आपको यह जानकारी कैसी लगी, हमें फेसबुक पेज के कमेंट सेक्शन में लिखकर जरूर बताइएगा। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik