जब हम किसी से बहुत अधिक प्यार करते हैं तो उसे लेकर थोड़ी बहुत इनसिक्योरिटी होना लाजमी है। कई बार हमारी अपनी इनसिक्योरिटी ही रिश्ते में जलन की भावना को जन्म देती है। कुछ हद तक यह फीलिंग रिश्ते को खूबसरूत भी बनाती है क्योंकि इसे आप अपने पार्टनर का अधिक ख्याल व प्यार करती हैं। लेकिन अगर यही इनसिक्योरिटी और जलन की भावना आपके प्यार पर हावी होने लगे तो यह आपके रिश्ते के लिए एक खतरे की घंटी है। जब रिश्ते में इस तरह की भावनाएं पनपने लगती हैं तो दोनों ही व्यक्ति को घुटन महसूस होने लगती है। अगर आपने कभी नोटिस किया हो कि जब आपका पार्टनर किसी दूसरी लड़की से बात करता है तो आपको बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता। आप उसे किसी के भी जरा सा करीब जाते हुए नहीं देख सकती। ऐसे में या तो आप अपने पार्टनर पर तरह-तरह की बंदिशें लगाती हैं, जिससे उनका मूड ऑफ रहने लगता है और फिर वह आपसे सीधे मुंह बात भी नहीं करते या बातें छिपाने लगते हैं। वहीं दूसरी तरफ, अगर आप अपने पार्टनर को कुछ नहीं कह पातीं और अंदर ही अंदर घुटती हैं तो इससे आप खुद को ही कहीं खोने लगती हैं। आपको यह स्थिति फेस न करनी पड़े, इसका सबसे अच्छा तरीका है कि आप अपने मन की इन भावनाओं को कंट्रोल करना सीखें। तो चलिए जानते हैं कि रिश्ते में जलन और इनसिक्योरिटी की फीलिंग से बाहर कैसे निकलें-

इसे भी पढ़ें: इन टिप्स को अपनाकर अपने रिलेशन में कम्युनिकेशन को बनाएं बेहतर

पहचानें कारण

deal with insecurity and jealousy in relationships inside four

किसी भी समस्या का समाधान हमें तभी मिलता है, जब हमें उसके सही कारण का पता हो। अगर आपको लगता है कि आपकी ईर्ष्या की भावना आपके रिश्ते को धीरे-धीरे खराब कर रही है तो जरूरी है कि आप अपने दिमाग को शांत करके इसके पीछे के कारण के बारे में सोचें। हो सकता है कि इसके पीछे का कारण आपका पास्ट रिलेशन का बुरा अनुभव या आपका ओवर-प्रोटेक्टिव बिहेवियर हो। जब आप अपनी जलन के पीछे के कारण को जान जाएंगी, फिर उससे बाहर आ पाना भी आपके लिए आसान होगा।

करें बात

deal with insecurity and jealousy in relationships isnide three

कई बार ऐसा होता है कि आपको समस्या के मूल कारण का पता ही नहीं चल पाता या फिर कारण जानने के बाद आप उसका हल खोजने में खुद को असमर्थ महसूस करती हैं। ऐसे में जरूरी है कि आप अपने पार्टनर से इस बारे में खुलकर बात करें। खुद को या अपने पार्टनर को परेशान करने की बजाय एक ओपन कम्युनिकेशन से न सिर्फ समस्या का हल निकलता है, बल्कि इससे आपका आपसी रिश्ता भी मजबूत बनता है।

बनाएं थोड़ी दूरी

deal with insecurity and jealousy in relationships inside two

जी हां, सुनने में आपको थोड़ा अजीब लगे लेकिन जब आप एक व्यक्ति पर बहुत अधिक इमोशनली निर्भर हो जाती हैं तो इसका खामियाजा आपके रिश्ते को ही चुकाना पड़ता है। इसलिए तो कहा जाता है कि रिश्ते में थोड़ा स्पेस देना जरूरी है। भले ही आप दोनों एक-दूसरे से प्यार करते हैं और एक रिश्ते में बंधे हैं, लेकिन फिर आप दो अलग इंसान हैं, जिनकी अपनी खुशियां, अपनी पसंद-नापसंद है। कोशिश करें कि आप अपने पार्टनर के साथ-साथ खुद को भी थोड़ा स्पेस दें और वह काम करें, जिसमें आपको खुशी मिलती हो। इससे रिश्ते में प्यार और भी अधिक बढ़ता है।

इसे भी पढ़ें: रिलेशनशिप को कभी सीरियस नहीं लेते ये लोग, कहीं आपका पार्टनर तो नहीं इनमें शामिल

रहें ईमानदार

deal with insecurity and jealousy in relationships inside one

कई बार ऐसा होता है कि आपके एक्स ने आपको धोखा दिया होता है और आपका दिल तोड़ा होता है, ऐसे में आप हरदम अपने पार्टनर पर शक करने लग जाती है। इतना ही नहीं, अगर आपका पार्टनर किसी के साथ भी फ्रेंडली होता है तो आपको उससे जलन होने लगती है। यह होना सामान्य है क्योंकि आपका भरोसा एक बार पहले भी टूटा होता है। इस समस्या से निकलने का आसान रास्ता है कि आप अपने पार्टनर से इस बारे में खुलकर बात करें और अपने मन की इनसिक्योरिटी के पीछे की वजह भी बताएं। जब आप ऐसा करती हैं तो इससे उन्हें समझ में आता है। साथ ही दोनों ही पार्टनर अपने रिश्ते में ईमानदार रहे। जब आप ईमानदार रहेंगे तो जलन की वजह खुद ब खुद खत्म हो जाएगी।