किरण खेर की निजी जिंदगी में उतार-चढ़ाव लगे रहें लेकिन किरण ने कभी भी अपनी होठों की मुस्कान को कम नहीं होने दिया, उनके चेहरे के ग्लो और लंबे बालों का राज पूरी दुनिया जानना चाहती हैं। किरण खेर अपनी पहली शादी से खुश नहीं थीं उन्होंने अनुपम खेर के साथ दूसरी शादी करने का फैसला लिया और इसी फैसले के साथ उन्होंने दोबारा मां ना बनने का फैसला भी लिया। बहुत कम लोग यह जानते हैं कि किरण और अनुपम की अपनी कोई संतान नहीं है, सिंकदर को अनुपम खेर ने अपना नाम दिया है। तो चलिए जानते हैं किरण खेर की निजी जिंदगी के कुछ अहम पहलुओं के बारे में।

kirron kher anupam kher second marriage

इसे जरूर पढ़ें: दिव्यांका त्रिपाठी की निजी जिंदगी से जुड़ी वो 3 बातें जो आपकी लाइफ बदल देगी

किरण खेर की पहली शादी 

बॉलीवुड एक्ट्रेस किरण खेर का जन्म 14 जून 1955 को पंजाब के चंडीगढ़ में एक सिख परिवार में हुआ था। किरण खेर फिल्मों के अलावा टीवी रियलिटी शो के जज के रूप में नजर आती हैं। उन्होंने करीब 34 से ज्यादा फिल्मों में अभिनय किया है। साल 1980 में किरण खेर काम की तलाश में मुंबई गईं और उसी दौरान उन्हें एक बड़े बिजनेसमैन गौतम बेरी से प्यार हो गया। किरण खेर ने इस प्यार को शादी के रिश्ते में बदलने का फैसला लिया। कुछ सालों बाद ही किरण ने बेटे सिकंदर को जन्म दिया। जल्द ही गौतम और किरण को ऐसा लगने लगा कि दोनों के रिश्ते के बीच सबकुछ ठीक नहीं है और शायद उन्हें अलग हो जाना चाहिए। 

kirron kher anupam kher second marriage

इसे जरूर पढ़ें: बेटियों के सपनों के लिए किस हद तक गुजर जाती है एक मां, इसकी मिसाल है यह महिला

किरण और अनुपम खेर की मुलाकात 

किरण और अनुपम खेर की मुलाकात थिएटर में हुआ करती थी। नादिरा बब्बर के प्ले के लिए दोनों कोलकाता गए तो वहां इनकी फिर मुलाकात हुई। प्ले खत्म होने के बाद दोनों को अहसास हुआ कि उनके बीच कुछ है। अगली मुलाकात में अनुपम ने किरण को प्रपोज कर दिया।

Recommended Video

शादी के बंधन में बंधे किरण और अनुपम खेर 

अनुपम खेर ने परिवारवालों के कहने पर 1979 में मधुमालती नाम की लड़की से शादी की थी लेकिन वो अपनी शादीशुदा जिंदगी से खुश नहीं थे। अदूसरी तरफ किरण भी अपनी शादीशुदा जिंदगी में खुश नहीं थी। एक इंटरव्यू में अनुपम के प्रपोजल की कहानी के बारे में किरण ने बताया था, “पहले तो मुझे ये सब मजाक लगा। मुझे लगा जैसे अनुपम बाकी लड़कियों के साथ मजाक मस्ती करते हैं वैसे ही मेरे साथ कर रहे हैं लेकिन बाद में अहसास हुआ कि अनुपम सीरियस थे।“ साल 1985 में किरण और अनुपम खेर ने शादी कर ली और इस शादी के बाद अनुपम ने सिंकदर को अपना सरनेम दिया। 

किरण और अनुपम ने एक-दूसरे का साथ नहीं छोड़ा 

किरण और अनुपम ने कभी भी एक-दूसरे का साथ नहीं छोड़ा। किरण ने जिंदगी के हर पड़ाव पर अनुपम का साथ दिया। दोनों की जिंदगी में ऐसा वक्त भी आया जब अनुपम खेर पैसों की तंगी के चलते परेशान रहते थे। उस दौरान ऐसी भी खबरें आई थीं कि दोनों के बीच मनमुटाव चल रहा है लेकिन किरण ने समझदारी से हालात संभाले और आज ये कपल अपनी शादीशुदा जिंदगी में बेहद खुश है।

राजनीतिक सफर और 2019 लोकसभा चुनाव में जीत

चंडीगढ़ लोकसभा सीट से बीजेपी की किरण खेर ने कांग्रेस के प्रत्याशी पवन बंसल को हराया। किरण ने पवन बंसल को 46850 वोट से शिकस्त दी है। किरण को 230967 वोट मिले हैं, जबकि पवन बंसल को 184117 वोट मिले। किरण खेर वर्तमान में यहां से सांसद हैं। किरण खेर से पहले यहां से पवन कुमार बंसल कांग्रेस के सांसद रहे हैं। इस सीट से पवन कुमार बंसल 4 बार चुनाव जीत चुके हैं, जिसमें से उन्होंने तीन बार लगातार जीत दर्ज की है। 2014 में किरण ने इस सीट पर जीत हासिल की थी और अब एक बार फिर उन्‍होंने जीत हासिल की। किरण ने अपनी जीत का श्रेय पार्टी कार्यकर्ताओं को दिया। उन्होंने कहा कि यह कार्यकर्ताओं की मेहनत का ही फल है। इस जीत से देश के विकास में काफी सहयोग मिलेगा।