'यार अब नींद आ रही है! क्या करें? कोई नहीं यार, खाना खाने के बाद अक्सर नींद और आलस शरीर में हावी हो जाता है'। ये शब्द आपने भी कभी ना कभी दोस्तों या परिवार के अन्य सदस्यों से ज़रूर सुना होगा। अक्सर लोगों को शिकायत होती है कि खाना खाने के बाद वो थकान, नींद और आलस से परेशान हो जाते हैं। खाने के बाद नींद और आलस का आना एक सामान्य प्रक्रिया है, अधिकतर दोपहर का भोजन करने के बाद तो नींद और आलस का आना तय ही होता है, लेकिन ऐसा नहीं है कि इस परेशानी को दूर नहीं किया जा सकता है। अगर आप अपने डेली रूटीन में बदलाव करें तो इस समस्या को दूर कर सकते हैं। चलिए जानते हैं कैसे इस परेशानी को दूर किया जा सकता है- 

overcome sleepiness and tiredness after eating food inside  

इसे भी पढ़ें: आलसी बच्चों को इन तरीकों से करें हैंडल हमेशा के लिए हो जाएंगे एक्टिव

आलस मिटाने के लिए फिजिकल एक्टिविटी

किसी भी आलस और और नींद को दूर करने के लिए फिजिकल एक्टिविटी करना बेहद ज़रूरी है। इसके लिए आप एक्सरसाइज या योग भी कर सकते हैं। ये दोनों वर्कआउट आपको इस परेशानी से कभी दूर रखने में मदद कर सकते हैं। आप एक्सरसाइज के अलावा स्पोर्ट्स भी खेल के इस समस्या को दूर कर सकते हैं। शरीर जीतनी एनर्जेटिक और अलर्ट रहेगा आप उतना ही एक्टिव रहेंगे। (उठने में आलस आता है तो बिस्‍तर पर ही ये योग करें)

overcome sleepiness and tiredness after eating food inside

रात की नींद हो पूरी 

खाने के बाद नींद और आलस आने के कारणों में से एक कारण है नींद का पूरा ना होना है। ये तो हम सब जानते हैं कि लगभग 7 से 8 घंटे की गहरी नींद बहुत ज़रूरी होती है। आजकल के दौर में बहुत कम ही लोग होते हैं जो पूरी नींद ले रहे हो। पूरी नींद ना लेने की वजह से कभी-कभी तनाव का भी सामना करना पड़ जाता है। खाने के बाद अगर आपको नींद और आलस को दूर भगाना है तो सही नींद लेना भी ज़रूरी है। (नींद न आने की परेशानी है तोये खबर आपके लिए है..)

 कहीं ये बिमारी के संकेत तो नहीं 

overcome sleepiness and tiredness after eating food in

किसी अन्य बीमारी से ग्रसित होने पर भी खाने के बाद नींद और आलस का आना स्वभाविक हो सकता है। कहा जाता है जिस व्यक्ति को डायबिटीज या कोई अन्य बीमारी हो वो जल्द ही थक जाते हैं। अगर आप डायबिटीज या किसी अन्य बीमारी से ग्रस्त हैं तो डॉक्टर के बताए मुताबिक ही फ़ूड का सेवन करना चाहिए ताकि आप नींद और आलस से दूर रह सके।  

इसे भी पढ़ें: आलसी ladies भी अब बैठे-बैठे घटा सकती हैं अपना बढ़ता weight, जानें कैसे

डाइट का है ख़ास योगदान

overcome sleepiness and tiredness after eating food inside

डाइट भी इस मामले में काफी असर करती है। अगर डाइट सही है तो नींद और आलस को दूर करने में काफी मदद मिलती है। आप ऐसे फ़ूड का सेवन करें जिसके चलते अधिक नींद ना आए और ना ही आलस। अधिक तले हुए भोजन को खाने से भी कभी-कभी नींद आने लगती है। काफी हद तक आपके बैठने का तरीका भी इसका कारण हो सकता है।

अगर आपको यह स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे फेसबुक पर जरूर शेयर करें और इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

Image Credit:(@www.inquirer.com,www.thebalancecareers.com,cdn-prod.medicalnewstoday.com)