कोविड-19 का खौफ ही कुछ ऐसा है की अब अपनों से भी डर लगने लगा है। जिन पड़ोसियों के साथ चाय पर चर्चा होती थी, घर कथा-पाठ सुनने जाते थे, घर पर लंच और डिनर का बुलावा होता था, उनके घर जाने के ख्याल से भी अब डर लगता है। जिन आंटियों के काना-फुसी के बिना दिन पूरा नहीं होता था, किटी पार्टी में गप्‍पे मारते और पकवान खाते थे, आज सब पराएं से लगने लगे हैं। क्‍या करें मसला ही सुरक्षा का है, जो कि सिर्फ हमारी खुद ही नहीं बल्कि उनकी सुरक्षा से भी सम्बन्धित है। इसकी अनदेखी करें भी तो कैसे करें। पर कुछ मन के मौजी लोग भी हैं जो कोविड-19 से बचाव के लिए बनाए गए इन नियमों की अनदेखी कर रहे हैं। अगर आपके पड़ोस में भी कोई ऐसा है, जो अनचाहा मेहमान बना जा रहा है, तो ऐसे में कैसे बनाएं उनसे दूरी। हम आपको बता रहे है कुछ आसान और कारगर उपाय, इन्‍हें अपनाएं और चैन की नींद सो जाएं।

neighbors are turning ignorant inside

इसे जरूर पढ़ें: Coronavirus Lockdown के दौरान Anxiety को लेकर बोलीं मनीषा कोइराला, कैंसर ट्रीटमेंट के समय भी ऐसे ही थीं घर में बंद

कोरोना महामारी के दौरान अगर आप अपने फ्लोर में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तन-मन से कर भी रही हो, लेकिन पड़ोस की आंटी या बच्चे अचानक से गप्‍पे मारने के लिए आ जाएं और धीरे-धीरे घर के अंदर घुस जाएं तो भला आप कैसे उन्‍हें मना करेंगी। आखिरकार बरसों से पड़ोसी हैं वो आपके। पर नहीं, आपको मना करना होगा क्‍योंकि मसला सुरक्षा का है। तो ऐसी स्थिति में अपने पड़ोसी को दो टूक सुनाने की हिम्‍मत कर ही डालें। चाहे उनको बुरा ही क्‍यों ना लगे। आखिरकार ये उनकी भी भलाई का सवाल है। उस समय आपका पड़ोसी भले ही आपसे नाराज हो जाए पर बाद में आपकी तारीफ ही करेगा, आखिरकार जान बचाई है आपने उसकी।

अगर आपकी बिल्डिंग में और भी परिवार रहते हैं तो कुछ दिनों के लिए लिफ्ट का इस्‍तेमाल भूल जाएं और सीढि़यों का इस्‍तेमाल कर स्‍वास्‍थ्‍य बनाएं। अगर आप लिफ्ट का इस्‍तेमाल करना भी चाहे तो एक समय में एक ही व्यक्ति करे। अपने पड़ोसी को इस बात को समझाएं और लिफ्ट में तीन-चार लोगों की भीड़ ना लगाएं।

Recommended Video

अगर लिफ्ट यूज कर लिया है तो बेहतर होगा कि इसके बाद हाथों को सैनिटाइज कर लें, क्योंकि दिनभर में आपके कई पड़ोसियों ने लिफ्ट यूज किया होगा।

संक्रमण के इस दौर में खुद को बचाना बहुत जरूरी है और जरूरत पड़ने पर दूसरों को समझाना भी जरूरी है। माना की मिसेज वर्मा आपकी बेस्ट फ्रेंड हैं और उनके बच्चे आपके बच्‍चे जैसे। लेकिन कोविड-19 के इस दौर में अगर उनके बच्चे या फिर खुद वो आपके घर जबरदस्ती घुसी आ रही हैं तो आपको उन्हें मना करना होगा।

social distancing with neighbors inside

 

1. छह फीट की दूरी का नयम अपने पड़ोसियों को याद दिलाती रहें और दूरी बनाकर ही गपयाती रहें।

2. बच्चों को घर के अंदर ही रखें और पड़ोसियों के बच्‍चों को बाहर। कुछ दिनों के लिए अपने बिल्डिंग के गार्डेन को भूल जाएं।

3. भले आपको बगल वाली आंटी के हाथ का खाना बहुत पंसद हो लेकिन इस दौर में अपनी आंटी के खानों की खूशबू से ही काम चलाएं।

इसे जरूर पढ़ें: कोविड-19: आज से खुल गए सभी मंदिरों के कपाट, इन नियमों का करना होगा पालन

कई मामलों में कोरोना वायरस के लक्षण दिखाई नहीं दे रहे हैं, लेकिन आपके स्‍वस्‍थ्‍य दिखने वाले पड़ोसी को भी हो सकता है इसका संक्रमण। तो ऐसे में बेहतर यही होगा कि आप बच्चों के साथ ही खुद को घर के अंदर लॉक करके रखें और अपने पड़ोसियों को भी यहीं करने की सलाह दें। मुद्दा सीरियस है तो इसे मजाक समझने की भूल न करें।

Photo courtesy- (freepik.com, dailyhunt.in, buzzmagazines.com, cdn.cnn.com)