फूल-पौधे ना सिर्फ घर की शोभा बढ़ाते हैं बल्कि कई तरह से फायदा भी पहुंचाते हैं। आउटडोर और इंडोर प्लांट्स से ज्यादातर लोगों का घर हरा-भरा नजर आता है। बात करें इंडोर प्लांट्स की तो स्नेक प्लांट अक्सर लोगों के घरों में देखा जाता है। बता दें कि सांप की तरह दिखने वाले इस प्लांट को लगाने के अपने फायदे हैं। घर के अंदर रखने से यह हवाओं को शुद्ध करने का काम करता है।

यही नहीं यह पौधा कार्बन डाइआक्साइड को सोखकर ऑक्सीजन बनाता रहता है। इसलिए कई लोग इसे ड्राईंग रूम, लॉबी या फिर लिविंग रूम में रखना पसंद करते हैं। ऐसे में आप इस पौधे को अपने घर पर लगाकर फायदा पा सकती हैं। खास बात है कि इस पौधे को अधिक देखभाल की आवश्यकता नहीं होती। आइए जानते हैं कि इसे गमले में कैसे लगाया जा सकता है।

पत्तियों से लगाएं नया पौधा

watering a snake plant

स्नेक प्लांट इजी टू ग्रो प्लांट है, जो आसानी से लग जाता है। इसके लिए आपको बीज या फिर नया पौधा खरीदने की आवश्यकता नहीं है। बल्कि आपको स्नेक प्लांट के एक पत्ते को तोड़ना है और उसके पीछे वाले हिस्से को एक साइज में कट कर देना है। अब इस पत्ती को उसके साइज के अनुसार तीन या फिर चार हिस्सों में कट किया जा सकता है। वहीं कोशिश करें कि पत्ती को कम से कम तीन इंच कट करें, ताकि इसे गमले में शिफ्ट करते वक्त आसानी हो। (पपीते के पेड़ में नहीं लग रहे फल तो करें ये काम)

इसे भी पढ़ें: क्या आप जानती हैं घर में एरेका पाम रखने के ये अद्भुत फायदे

स्नेक प्लांट के लिए मिट्टी

snake plant care tips

स्नेक प्लांट के लिए मिट्टी में अधिक वैरायटी की आवश्यकता नहीं होती। आपको बस इस बात का ध्यान रखना है कि मिट्टी सॉफ्ट होनी चाहिए। इसके लिए एक गमले में मिट्टी लें, और उसमें थोड़ा सा सैंड मिक्स करें और कोको पीट डाल दें। इसके बाद आपको स्नेक प्लांट के कट किए हुए पत्तियों को मिट्टी में दबा देना है। ध्यान रखें कि आपको अधिक जोड़ लगाते हुए मिट्टी में नहीं दबाना है। वहीं एक गमले में पत्तियों के टुकड़ों को लगा रही हैं तो एक-दूसरे में गैप जरूर रखें। इससे वह आसानी से लग जाएंगे। इसके अलावा आप इसमें पानी 3 से 4 दिन पर दें। स्नेक प्लांट में पानी की अधिक आवश्यकता नहीं होती है, बस कोशिश करें कि मिट्टी में हल्की नमी होनी चाहिए। ऐसे में आप स्प्रे बॉटल से पानी का हल्का छिड़काव करें।

Recommended Video

पानी में ग्रो कर सकता है स्नेक प्लांट

snake plant cutting

ऐसा जरूरी नहीं कि स्नेक प्लांट लगाने के लिए मिट्टी की आवश्यकता है। इसे आप पानी में भी लगा सकती हैं, इसके लिए कोई पानी का बॉटल लें और उसे बीच से कट कर दें। अब बॉटल में करीब एक इंच पानी भर दें और उसमें स्नेक प्लांट के कटे पत्ते को डाल दें। वहीं बॉटल के पानी को हफ्ते में एक बार चेंज कर दें, कुछ दिन में यह ग्रो करने लगेगा।

इसे भी पढ़ें: वॉर्डरोब में रखे कपड़ों से खटमल भगाने के लिए आजमाएं ये घरेलू उपाय

इन बातों का रखें जरूर ध्यान

  • स्नेक प्लांट को अधिक देखभाल की आवश्यकता नहीं होती है, लेकिन इसके खराब पत्तियों को नजरअंदाज न करें। अगर आपको साइड से पत्तिया खराब दिख रही हैं तो उसे कैंची से काट दें। आप चाहें तो इस खराब पत्ती को नया पौधा लगाने के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं।
  • ध्यान रखें कि पत्तियों से आप नया स्नेक प्लांट लगा रही हैं तो इसमें वक्त लग सकता है। एक महीने से अधिक समय बाद इसमें हल्की जड़ें बननी शुरू हो जाती हैं। वहीं पानी में लगाई हुई पत्तियों में जड़े बनने में करीब 50 दिन लग सकते हैं।
  • जब आप नए पौधे के लिए पत्तियों को मिट्टी में लगाया है तो उसके साथ छेड़छाड़ ना करें। इसके अलावा पानी के बॉटल में मौजूद पत्तियों को भी बार-बार निकालकर चेक न करें। ट्रांसपेरेंट होने की वजह से आप बॉटल के बाहर से उसे देख सकते हैं।
  • वहीं स्नेक प्लांट के लिए किसी भी तरह के खाद का इस्तेमाल करने की जरूरत नहीं है। ध्यान रखें कि इस पौधे में पानी का छिड़काव अधिक न करें, इससे यह मर सकते हैं।

अगर आप भी घर स्नेक प्लांट लगाना चाहती हैं तो यहां बताई गई बातों का जरूर ध्यान रखें। खूबसूरती बढ़ाने के लिए स्नेक प्लांट घर की हवाओं को भी शुद्ध रखेगा। साथ ही, अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।