एकता कपूर के बारे में जब बात होती है तो हम अक्सर उनके लुक्स, उनके सीरियल, उनके परिवार की बात करते हैं, लेकिन क्या कभी आपने सोचा है कि एकता कपूर की शख्सियत कैसी है। 7 जून 1975 को पैदा हुईं एकता कपूर इस साल अपना 45वां जन्मदिन मनाएंगी। अभी तक आपने उनकी कॉन्ट्रोवर्सी, उनके बोल्ड अंदाज़ या फिर उनके पद्मश्री से सम्मानित होने के बारे में सुना होगा, लेकिन इस बार हम आपको बताते हैं उनकी जिंदगी से जुड़े कुछ रोचक किस्से।

22 साल में हो सकती थी शादी-

इस बारे में खुद एकता कपूर ने outlookbusiness के एक इंटरव्यू में बताया था। एकता ने कहा था, '17 साल की उम्र में मेरे पिता ने मुझसे कहा था कि मैं या तो शादी कर लूं या फिर मैं कुछ काम करूं और इस तरह से पार्टी न करूं जैसे मैं करती हूं। मुझे मेरी पॉकेट मनी के अलावा और कुछ नहीं मिलेगा। एक्स्ट्रा पैसे के लिए मैंने एक ऐड एजेंसी में काम किया। मैं इस स्तिथि से पूरी तर वाकिफ थी कि मेरी शादी 22 तक हो जाएगी और मैं एक एवरेज जिंदगी जियूंगी। हालांकि, जो हमने सोचा होता है वो कभी नहीं होता।'

ekta kapoor and her looks

एकता कपूर ने पिता के गराज में अपनी कंपनी शुरू की थी इसके बारे में तो सभी जानते हैं, लेकिन क्या आप ये जानते हैं कि एकता ने ये कंपनी कैसे शुरू की थी।

इसे जरूर पढ़ें- बेटे के साथ ऐसी बॉन्डिंग शेयर करती हैं एकता कपूर

Recommended Video

इस फैसले ने बदल दी एकता कपूर की जिंदगी-

इसी इंटरव्यू का एक हिस्सा था जहां एकता ने बताया कि 19 साल की उम्र में उन्हें लंदन के चैनल टीवी एशिया के लिए एक सॉफ्टवेयर बनाने का मौका मिला। ये ऑफर उन्हें जीतेंद्र ने दिलवाया था। इसी प्रोजेक्ट पर काम करते समय एकता ने नए टीवी शो के लिए कुछ कॉन्सेप्ट सोचे। यहीं से 1994 में शुरुआत हुई बालाजी टेलिफिल्म्स की। वो शुरुआती दौर में ये प्रोजेक्ट नहीं लेना चाहती थीं, लेकिन उन्होंने इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू कर दिया।

ekta kapoor and her struggle

एकता कपूर का बालाजी टेलिफिल्मस 10 नवंबर 1994 को शुरू हुआ था और उनका काम था सीरियल और अन्य एंटरटेनमेंट कंटेंट के लिए टेलिवीजन सॉफ्टवेयर डिजाइन करना। एकता के पास काम भी था और उनके प्रोडक्ट का खरीददार भी। पर वो कहते हैं न सफलता आसानी से नहीं मिलती। एकता ने 5-6 सीरियल के कॉन्सेप्ट तैयार भी कर लिए थे, लेकिन उसी दौरान चैनल टीवी एशिया को ज़ी टीवी ने खरीद लिया। अब एकता कपूर के पास एक ऐसा सॉफ्टवेयर था जिसे कोई खरीदना नहीं चाहता था। पार्टनरशिप भी टूट गई थी और उनका इन्वेस्टमेंट भी चला गया था।

एकता कपूर को इससे बहुत नुकसान हुआ था, लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी और एक नए सिरे से शुरुआत करने की सोची। एकता कपूर ने अपने एक शो के पहले एपिसोड को शूट करने की सोची। क्या आप जानते हैं कि ये शो कौन सा था? ये शो था 'हम पांच'। जी हां, एकता ने 19 साल की उम्र में ही 'हम पांच' शो बना लिया था और इस शो के पहले एपिसोड को उन्होंने ज़ी टीवी के लोगों को दिखाया और फिर शुरू हुआ एकता का नया सफर। 19 साल की उम्र में ही एकता का नया शो ऑन एयर हो गया था।


इसे जरूर पढ़ें- एकता कपूर के घर आया नन्‍हा मेहमान, सरोगेसी से हुआ बेटा

 
 
 
View this post on Instagram

fabaaasssss pic 😍😍😍😍😍❤👌👌 @ektaravikapoor #ektakapoor #myidol

A post shared by Ekta Kapoor😍❤ (@ektakapoormyidol) onDec 21, 2017 at 5:41am PST

एकता कपूर कैसे बनीं टीवी की मल्लिका?

पहला शो प्रोड्यूस और शूट करने में उन्होंने काफी मेहनत की और अपने संघर्ष से इस शो को ऑन एयर किया। इसी शो ने बालाजी को एक नया वरदान दिया। 'हम पांच' शो कुछ सालों तक चला और उसके साथ ही बालाजी का सफर शुरू हुआ। 'हम पांच' के बाद एक सक्सेसफुल शो आया जिसने एकता कपूर की जिंदगी ही बदल दी। ये शो था 'क्योंकि सास भी कभी बहू थी'। इस शो के पहले कुछ एपिसोड अगर आप देखेंगे तो पाएंगे कि घर का सेट आदि बहुत छोटा है और कैरेक्टर्स का लुक भी उसी हिसाब से दिखाया गया है। लेकिन शो जब सक्सेसफुल हो गया था तो घर का सेट बदल दिया गया था और किरदारों का लुक भी। एकता कपूर ही फैंसी साड़ियों और हेवी ज्वेलरी के साथ टीवी पर एक नया ट्रेंड लेकर आई थीं।

एकता कपूर के इस सीरियल के बाद तो जैसे देसी K Drama (क्योंकि हर सीरियल का नाम K से शुरू होता था।) की झड़ी लग गई। 'कसौटी जिंदगी की, कहीं किसी रोज़, कुटुंभ, कोई अपना सा, कहानी घर-घर की, कहीं तो होगा', जैसे न जाने कितने सीरियल टीवी पर आने लगे।

एकता कपूर की वजह से तुलसी वीरानी का कैरेक्टर जो स्मृति ईरानी ने निभाया था वो घर-घर में पसंद किया जाने लगा। ऐसा ही हुआ साक्षी तंवर के कैरेक्टर पार्वती और श्वेता तिवारी के कैरेक्टर प्रेरणा के साथ।

एकता कपूर ने हाल ही में OTT प्लेटफॉर्म में कदम रखा है और वो ALT Balaji में कई सक्सेसफुल शो बना रही हैं। एकता कपूर के इस चैनल को लेकर भी कई विवाद उठे हैं, लेकिन एकता को इनकी परवाह नहीं।

कई लोगों के लिए मिसाल बन सकती हैं एकता कपूर-

एकता कपूर कई लोगों के लिए मिसाल बन सकती हैं। उनके बारे में कई कॉन्ट्रोवर्सी होती है, शुरुआती दौर में उन्हें सफलता के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ी। जब वो एक मुकाम पर पहुंच गईं तो सैरोगेसी के जरिए अपने बेटे रवि का अपनी जिंदगी में स्वागत किया। रवि कपूर के वीडियो अक्सर वो अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर करती रहती हैं। सिंगल मदर बनकर एकता ने साबित कर दिया कि उन्हें किसी के सहारे की जरूरत नहीं। एकता का ये रूप यकीनन काफी अलग है और खास भी। उनकी कहानी पर खुद एक फिल्म बन सकती है।

अगर आपको ये स्टोरी पसंद आई तो इसे शेयर जरूर करें और ऐसी ही अन्य स्टोरी के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।

All photo credit: @Ektarkapoor instagram/ Ektakapoor_fc instagram